HIGHLIGHTS

ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ ପ୍ରାର୍ଥୀ କିଏ ହେବେ ଏ ପର୍ୟ୍ୟୀନ୍ତ ନିଷ୍ପତ୍ତି ହୋଇନାହିଁ - ପ୍ରତାପ ଷଡ଼ଙ୍ଗୀ

Laxmikanta Nath 2018-12-06 18:19:48    POLITICS 495
ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ ପ୍ରାର୍ଥୀ କିଏ ହେବେ ଏ ପର୍ୟ୍ୟୀନ୍ତ ନିଷ୍ପତ୍ତି ହୋଇନାହିଁ - ପ୍ରତାପ ଷଡ଼ଙ୍ଗୀ
ଭୁବନେଶ୍ୱର : ୨୦୧୯ ନିର୍ବାଚନରେ ଓଡ଼ିଶା ବିଜେପିରେ କିଏ ହେବେ ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ ପ୍ରାର୍ଥୀ? ଏହାକୁ ନେଇ କିଛିଦିନ ହେଲା ରାଜ୍ୟ ରାଜନୀତିରେ କଳ୍ପନାଜଳ୍ପନା ଲାଗିରହିଛି। ଏହା ଭିତରେ ଧର୍ମେନ୍ଦ୍ର ପ୍ରଧାନଙ୍କ ନାଁ ନେଇ, କେନ୍ଦ୍ରମନ୍ତ୍ରୀ ଜୁଏଲ୍‌ ଓରାମ ‘ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ ଚର୍ଚ୍ଚା’କୁ ଖୋରାକ ଯୋଗାଇଥିଲେ। କିନ୍ତୁ ଜୁଏଲ୍‌ଙ୍କ ଏହି ମନ୍ତବ୍ୟକୁ ସହଜରେ ଗ୍ରହଣ କରିପାରୁ ନାହାନ୍ତି ରାଜ୍ୟ ବିଜେପିର ଅନ୍ୟତମ ବରିଷ୍ଠ ନେତା ପ୍ରତାପ ଷଡ଼ଙ୍ଗୀ। ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ ପ୍ରାର୍ଥୀ କିଏ ହେବେ ଏ ପର୍ୟ୍ୟ ନ୍ତ ନିଷ୍ପତ୍ତି ହୋଇନଥିବା ସେ ମନ୍ତବ୍ୟ ଦେଇଛନ୍ତି। ସେ କହିଛନ୍ତି- “ବିଜେପି ଏକ ରାଷ୍ଟ୍ରୀୟ ଦଳ। ତେଣୁ ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ ପ୍ରାର୍ଥୀ ନେଇ ସଂସଦୀୟ ବୋର୍ଡ ନିଷ୍ପତ୍ତି ନେବ। ତଥାପି ଆମ ଦଳରେ ଅନେକ ଯୋଗ୍ୟ ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ ପ୍ରାର୍ଥୀ ଅଛନ୍ତି। ହେଲେ ଏ ପର୍ୟ୍ୟ ନ୍ତ ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ ପ୍ରାର୍ଥୀ ଚୟନ ହୋଇଥିବା ନେଇ ମୋ’ ପାଖରେ କୌଣସି ଖବର ନାହିଁ। କେନ୍ଦ୍ରମନ୍ତ୍ରୀ ଜୁଏଲ ଓରାମ ଯାହା କହିଛନ୍ତି ତାହା ତାଙ୍କର ବ୍ୟକ୍ତିଗତ ମତ ହୋଇପାରେ। ନହେଲେ ତାଙ୍କୁ କିଏ କେନ୍ଦ୍ରରୁ କହିଥାଇ ପାରନ୍ତି। ମୁଁ ସେହି ବିଷୟରେ କିଛି କହିପାରିବି ନାହିଁ।” ଧର୍ମେନ୍ଦ୍ର ପ୍ରଧାନ ଆମର ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ ପ୍ରାର୍ଥୀ ନେଇ ଜୁଏଲ୍‌ କହିବା ପ୍ରସଙ୍ଗରେ ଶ୍ରୀ ଷଡଙ୍ଗୀ କହିଛନ୍ତି- “ମୁଁ କଣ ଜୁଏଲ୍‌ ଓରାମଙ୍କ ବ୍ୟକ୍ତିଗତ ସଚିବ? ମୁଁ କେମିତି କହିବି? ବିଜେଡିରେ ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ ପ୍ରାର୍ଥୀର ମରୁଡ଼ି ରହିଛି। ଅସୁବିଧାରେ ପଡ଼ିଲେ, ବିଜେଡି ନେତୃବୃନ୍ଦ ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ ପ୍ରାର୍ଥୀ ଖୋଜିବେ। କିନ୍ତୁ ଆମ ଦଳରେ ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ ପ୍ରାର୍ଥୀ ହେବା ପାଇଁ ଏକାଧିକ ବ୍ୟକ୍ତିଙ୍କର ଯୋଗ୍ୟତା ରହିଛି।” ସେ ଆହୁରି କହିଛନ୍ତି- “ଓଡ଼ିଶାରେ ଅନେକ ଚର୍ଚ୍ଚା ହେଉଛି। ଏସବୁ ଚର୍ଚ୍ଚା ଆପଣମାନେ (ଗଣମାଧ୍ୟମ) କରାଉନ୍ତି। ଏଥିରେ ଅନ୍ୟମାନେ ଭାଗ ନେଉଛନ୍ତି। ଯଦି ଅପରାଜିତା ଷଡ଼ଙ୍ଗୀ, ଧର୍ମେନ୍ଦ୍ର ପ୍ରଧାନଙ୍କ ନାଁ ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ ପ୍ରାର୍ଥୀ ନେଇ ଚର୍ଚ୍ଚାକୁ ଆସୁଛି, ତାହାହେଲେ ମୁଁ କିଏ ତାକୁ ରୋକିବାକୁ।”ଓଡ଼ିଶାର ଜିଡିପି ହାର ସର୍ବଭାରତୀୟ ସ୍ତରଠାରୁ ଅଧିକ ନେଇ ଗଣମାଧ୍ୟମର ପ୍ରତିନିଧିଙ୍କ ପ୍ରଶ୍ନରେ ଶ୍ରୀ ଷଡ଼ଙ୍ଗୀ କହିଛନ୍ତି- “ବର୍ତ୍ତମାନ ଜିଡିପି ହିସାବକୁ ନେଇ ବହୁ ବିବାଦ ରହିଛି। କିନ୍ତୁ ସର୍ବଭାରତୀୟ ସ୍ତରରେ ମାତୃ ଓ ଶିଶୁ ମୃତ୍ୟୁହାରରେ ଓଡ଼ିଶା ଆଗରେ ରହିଛି। ଏଠାରେ ସବୁଠାରୁ କମ୍‌ ଡାକ୍ତର ଅଛନ୍ତି। ରାଜ୍ୟରେ ସମାନୁପାତିକ ଭାବେ ଡାକ୍ତରଖାନା ଓ ଡାକ୍ତର ନାହାନ୍ତି। ଶିକ୍ଷାର ସ୍ତର ବହୁ ଖରାପ ରହିଛି। ୯୦ ପ୍ରତିଶତ ଶିକ୍ଷକ ଓଟିଇଟିରେ ଫେଲ୍‌ ହେଉଛନ୍ତି। ସର୍ବଭାରତୀୟ ସ୍ତରରେ ଚାଷୀ ମୃତ୍ୟୁହାର ଅଧିକ। ଯାହାକୁ ରାଜ୍ୟ ସରକାର ସ୍ୱୀକାର କରୁନାହାନ୍ତି। ଶହଶହ ନଦୀ ଥାଇ ବି ଜଳସେଚନ ହୋଇପାରୁ ନାହିଁ। ଦିନକୁ ଦିନ ଉତ୍ପାଦନ କମି ଯାଉଛି। ଏପରି ସ୍ଥିତିରେ କେଉଁ ହିସାବରେ ଓଡ଼ିଶାର ଜିଡିପି ଅଧିକ ରହୁଛି, ଜାଣିପାରୁନି। ଏଇଟା ସତ ସର୍ବଭାରତୀୟ ସ୍ତରରେ ଓଡ଼ିଶା ଦୁର୍ନୀତି ଓ ମିଛ କହିବାରେ ପ୍ରଥମ ରାଜ୍ୟ ହେବ। ଦାରିଦ୍ର୍ୟ ରେ ଓଡ଼ିଶା, ବିହାର ତଳକୁ ଯାଇଛି। ସର୍ବଭାରତୀୟ ସ୍ତରରେ ଓଡ଼ିଶା ଏଇଥିରେ ରେକର୍ଡ କରିଛି।”

Related News

Politics

  • সরকারের অনুমতির অপেক্ষায় বিজেপির রথ
    Root News of India 2018-12-14 15:25:20
    কলকাতা : ৩ রাজ্যে ভরাডুবির পরও বাংলার মসনদ কে বিশেষ গুরুত্ব দিচ্ছেন বিজেপির শীর্ষস্থানীয় নেতৃত্ব। ৩ রাজ্যে ক্ষমতা হারানোর পর দেশের প্রতিটা রাজ্য থেকে শীর্ষ নেতাদের নিয়ে ডাকা বৈঠকে কার্যত হাজির ছিলেন না বাংলার নেতৃত্ব, তারা ব্যস্ত ছিলেন বিজেপির রথ যাত্রা কে সুনিশ্চিত করতে, ৭ ই ডিসেম্বর রথযাত্রা শুরু হওয়ার কথা ছিলো উত্তর বঙ্গ থেকে, শেষপর্জন্ত রাজ্য প্রশাসনের অনুমতি না পাওয়ায় রথের চাকা আর ঘুরলো না, তড়িঘড়ি অনুমতি পাওয়ার প্রচেষ্টায় হাইকোর্টের দরজায় হাজির হয় রাজ্য বিজেপি, কোর্টের পক্ষ থেকে জানানো হয় রাজ্য প্রশাসনিক কর্তাদের সাথে আলোচনা করে যাত্রার সুনিশ্চিত বিবরন দিতে, রাজ্য প্রশাসনের সাথে আলোচনার জন্য রাজ্য বিজেপির মুকুল রায়,জয়প্রকাশ মজুমদার ও প্রতাপ বন্দোপাধ্যায় কে প্রতিনিধি দল হিসেবে ঠিক করেন, কিন্তু কেন্দ্রীয় নেতৃত্বের নির্দেশে আলোচনার জন্য রাজ্য বিজেপি সভাপতি দিলিপ ঘোষ ও রাজ্যের কেন্দ্রীয় দ্বায়িত্ব প্রাপ্ত কৈলাশ বিজয় বর্গীয় র উপর দ্বায়িত্ব পরে,
  • राहुल गांधी का इंतजार कर रहे हैं बिहार के नेता, सीट शेयरिंग पर
    Rama Shanker Prasad 2018-12-14 15:00:56
    पटना, 14 दिसंबर (आरएनआई)। बीजेपी के शिकस्त के बाद कांग्रेस अपने जीत पर काफी उत्साहित है. इसे लेकर नेताओं में तरह-तरह के बयान आ रहे है. इसी क्रम में प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता प्रेमचंद्र मिश्रा ने आज बड़ा बयान दिया. साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि महागठबंधन में सीटों को लेकर पार्टी में क्या विचार चल रहे है। प्रेेेम चन्द्र मिश्र ने आज साफ़ कहा कि मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान में किस तरह अच्छी सरकार दी जाये उसपर अभी कांग्रेस आलाकमान का विशेष ध्यान है. इसके बाद निकट भविष्य में सीटों को लेकर चर्चा होगी। दरअसल, मीडिया में यह खबरें आ रही थी कि बिहार में महागठबंधन में सीटों को लेकर फॉर्मूला तय हो गया है. 20 पर राजद और सहयोगी दल अन्य 20 सीट पर चुनाव लड़ेंगे. इसी कयास पर विराम लगते हुए उन्होंने कहा कि इसकी मुझे कोई अधिकारिक जानकारी नहीं है। वहीं, प्रेमचंद्र मिश्रा ने यह भी कहा कि रालोसपा तो एनडीए से अलग हो गई लेकिन आने वाले समय में एनडीए में और भी बिखराव होगा. कुछ नये साथी महागठबंधन में आयेंगे और फिर कौन कहां से चुनाव लड़ेगा, कौन सी पार्टी कितनी सीटों पर चुनाव लड़ेगी इसपर फाइनल फैसला होगा. एक बार उन्होंने महागठबंधन के उदेश्य को फिर से स्पष्ट करते हुए कहा कि हमारा मकसद एक है कि बिहार में बीजेपी-जदयू गठबंधन को बूरी तरह से परास्त करना। हालांकि उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि उपेंद्र कुशवाहा एनडीए से अलग हो चुके हैं, बीजेपी और जदयू पर हमलावर हैं. अगर उपेंद्र कुशवाहा महागठबंधन में आना चाहते हैं तो उनको आना चाहिये।
  • चुनावी मौसम में बीजेपी को राम याद आते है - तेजस्वी यादव
    Rama Shanker Prasad 2018-12-14 14:59:39
    पटना, 14 दिसंबर (आरएनआई)। पांच राज्यो में हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी को मिली करारी हार से बिहार एनडीए में बयानबाजी तेज़ हो गई है. बिहार में भाजपा की सहयोगी दल जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने कहा कि 3 राज्यों में चुनावी परिणाम अलार्मिंग नहीं है. जो पार्टी हारी है वही बताएगी हार का क्या कारण है. वहीं उन्होंने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को नसीहत देते हुए कहा कि आपकी भाषा से संस्कार का पता चलता है. राजनीति में अच्छे भाषा का प्रयोग होना चाहिए। शुक्रवार को पटना में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि 3 राज्यों में चुनावी परिणाम अलार्मिंग नहीं है. जो पार्टी हारी है वही बताएगी हार का क्या कारण है. पीएम नरेंद्र मोदी का करिश्मा जनता 5 महीनों में तय करेगी. पीएम मोदी नेता के तौर पर सबसे लोकप्रिय हैं. पीएम मोदी के नेतृत्व में 2019 का चुनाव लड़ेंगे। वहीं प्रशांत किशोर ने तेजस्वी पर निशाना साधते हुए कहा, “आपकी भाषा से संस्कार का पता चलता है. राजनीति में अच्छे भाषा का प्रयोग होना चाहिए. आप जिस भाषा का प्रयोग करते हैं जनता देख रही है.”।जदयू उपाध्यक्ष ने आगे कहा कि भाजपा और जदयू दो पार्टी हैं. कई मुद्दों पर हमारी सोच अलग है. अगर एक सोच होती तो अलग – अलग पार्टी में नहीं होते. वहीं प्रशांत किशोर ने बिहार में पार्टी के आधार पर पंचायत चुनाव कराने की मांग की। आपको बता दें कि राफेल डील मामले पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव मोदी सरकार पर खूब बरसे हैं. दिल्ली से पटना पहुंचे बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बड़ा हमला बोला. तेजस्वी यादव ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि इस मामले की जॉइंट पार्लियामेंट्री जांच होनी चाहिए. इस के साथ ही उन्होंने कहा कि बीजेपी क्या कहती उससे कोई मतलब नहीं है. किसी के कहने से माना नहीं जा सकता है. घोटाले की जांच हो तभी दूध का दूध पानी का पानी होगा। नीतीश कुमार कहते थे पीएम मोदी के टक्कर में कोई नहीं. लेकिन चुनाव परिणाम के बाद अब नीतीश कुमार फिर से पलटी मारने की तैयारी में हैं. चाचा नीतीश हमारे साथ आना चाहते थे. हमारा दरबाजा तो चाचा के लिए बंद है। तेजस्वी ने कहा कि मुझे कोई डीएनए का गाली देगा मैं तो उसके शरण में कभी नहीं जाऊंगा. नीतीश कुमार की अंतरात्मा पलटी मारने के लिए बेचैन है. चुनावी मौसम शुरू होते ही बीजेपी को राम याद आते हैं. 2019 में बीजेपी की सरकार बनती है तो राम की नहीं पीएम मोदी की मंदिर बनाएगी बीजेपी।
  • चिराग पासवान ने उम्मीद जताई कि 2019 मे लोकसभा चुनाव में लोजपा को मिलेगी सम्मानजनक सीटे
    Rama Shanker Prasad 2018-12-14 14:08:18
    पटना, 14 दिसंबर (आरएनआई)। लोक जनशक्ति पार्टी संसदीय दल के अध्यक्ष व सांसद चिराग पासवान ने उम्मीद जताई कि उनकी पार्टी को 2019 लोकसभा चुनाव में सम्मानजनक सीटें मिलेंगी। इस मसले पर बैठक होगी तो बातें सामने आ जाएंगी। आपको बता दें कि सीट बंटवारे को लेकर रोलसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा एनडीए गठबंधन से अलग हो चुके हैं। चिराग ने पटना एयरपोर्ट पर पत्रकारों के सवाल का जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि एनडीए का लक्ष्य है नरेन्द्र मोदी को 2019 में फिर से पीएम बनाना। हम बस इतना चाहते हैं कि गठबंधन मजबूत रहे और 2019 में हम 2014 से बेहतर प्रदर्शन करे। सीटों की संख्या बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि सम्मानजनक सीटें मिलेंगी। एनडीए का गठन विकास के लिए हुआ है। केन्द्र सरकार का एजेन्डा भी यही है। मंदिर आदि का एजेन्डा किसी पार्टी का हो सकता है, सरकार का नहीं। एजेंडे पर अगर राम मंदिर और भगवान हनुमान हावी होने लगेगा तो भ्रम जैसी स्थिति पैदा होगी। उधर, लोजपा के प्रमुख और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने कहा कि कुछ राज्यों में हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों में भाजपा की हार का आने वाले लोकसभा चुनाव पर कोई असर नहीं पड़ेगा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2019 में जीत के लिए सत्ताधारी राजग का नेतृत्व करेंगे। लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के अध्यक्ष पासवान ने तीन राज्यों में भाजपा की हार के लिए सत्ता विरोधी लहर को जिम्मेदार माना है। उन्होंने कहा कि सत्ता विरोधी लहर के बावजूद मध्य प्रदेश और राजस्थान में भाजपा का वोट शेयर लगभग कांग्रेस के बराबर ही रहा। इन दोनों राज्यों में कांग्रेस को जीत हासिल हुई।
  • सीएम चुनने में वक्त तो लगता है, राजस्थान कांग्रेस एकजुट है - अशोक गहलोत
    Root News of India 2018-12-13 18:02:22
    जयपुर, 13 दिसंबर (आरएनआई)। राजस्थान में सीएम पद के चेहरे को लेकर कांग्रेस में मचे घमासान के बीच अशोक गहलोत ने कहा है कि राजस्थान कांग्रेस एकजुट है और कहीं कोई टकराव नहीं है. वरिष्ठ कांग्रेस नेता और राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि सीएम चुनने में थोड़ा वक्त तो लगता है.
  • राजस्थान मे मुख्यमंत्री की घोषणा से पहले कांग्रेस प्रवक्ता का इस्तीफा, पायलट के समर्थन में कुर्सी छोडी
    Root News of India 2018-12-13 16:51:53
    जयपुर, 13 दिसंबर (आरएनआई)। मध्‍य प्रदेश, छत्‍तीसगढ़ और राजस्‍थान में सत्‍ता सुन‍िश्‍च‍ित होने के बाद भी कांग्रेस में संकट कम नहीं हो रहा है। मुश्‍क‍िल इस बात को लेकर आ रही है क‍ि सत्‍ता की कमान क‍िसे सौंपी जाए। तीनों राज्‍यों में कई दावेदार हैं और उनके समर्थक अपने-अपने तरीके से दबाव भी बना रहे हैं।
  • जिले से एक मात्र कैबीनेट मंत्री होगें डॉ प्रभुराम चौधरी
    Root News of India 2018-12-13 16:51:33
    रायसेन, 13 दिसंबर (आरएनआई)। प्रदेश में पंद्रवही विधानसभा में विजयी होकर पहुंचे डॉ प्रभुराम चौधरी सरकार गठन के दौरान नए मंत्रीमण्डल में
  • फेयरवेल पार्टी में भावुक हुए शिवराज
    Naveen Modi 2018-12-13 14:21:32
    भोपाल, 13 दिसंबर (आरएनआई)। सीएम हाउस खाली करने से पहले बुधवार रात पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने स्टाफ को फेयरवेल पार्टी दी।इसके साथ ही उन्होंने एक फेसबुक पर भावुक पोस्ट भी की। उन्होंने लिखा कि मुख्यमंत्री के तौर पर अपने 13 साल के कार्यकाल में हर कदम पर साथ देने वाले पर्सनल स्टाफ, सुरक्षा कर्मियों और अधिकारियों को डिनर पार्टी दी। इन सभी से गहरा नाता बन चुका था, जो विस्मृत होना संभव नहीं है, आप सभी का दिल से धन्यवाद। इससे पहले बुधवार सुबह उन्होंने अपना ट्वीटर स्टेटस अपडेट किया था और मुख्यमंत्री की जगह पूर्व मुख्यमंत्री लिखा था। वही उन्होंने ट्वीटर के माध्यम से भी कई भावात्मक बातें कही थी।
  • जिन्होंने मुझे वोट नहीं दिए अगर उनको रुला नहीं दिया तो मेरा नाम अर्चना चिटनीस नहीं
    Naveen Modi 2018-12-13 14:21:15
    भोपाल, 13 दिसंबर (आरएनआई)। मध्य प्रदेश विधानसभा में मिली हार के बाद मंत्री रही अर्चना चिटनीस ने बुरहानपुर में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा जिन्होंने मुझे वोट नहीं दिए अगर उनको रुला नहीं दिया तो मेरा नाम अर्चना चिटनीस नहीं। बुरहानपुर विधानसभा भाजपा की परंपरागत सीट मानी जाती थी। पर इस बार शिवराज सरकार की दिग्गज मंत्री अर्चना चिटनीस को निर्दलीय सुरेंद्र सिंह के हाथों हार का सामना करना पड़ा। वे रोचक मुकाबले में 5120 मतों से हार गई। मंत्री अर्चना चिटनीस अपनी हार के बाद वोट न देनें वालों को चेतावनी दी है।
  • अजय सिंह के लिए सीट छोड़ने को तैयार कई विधायक
    Naveen Modi 2018-12-13 14:21:04
    भोपाल, 13 दिसंबर (आरएनआई)। मध्य प्रदेश में सरकार बनाने जा रही कांग्रेस में विधायक दल का नेता चुनने की प्रक्रिया जारी है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया के नाम सीएम की दौड़ में चल रहे हैं। वहीं अब वरिष्ठ नेता अजय सिंह का नाम भी चर्चा में हैं। उनके लिए कई विधायक सीट छोड़ने को तैयार है और कमलनाथ के नाम चिट्ठी लिखकर इस्तीफे की पेशकश कर रहे है।बता दे कि इसके पहले सिंधिया के लिए कई विधायकों ने अपने इस्तीफे की पेशकश की थी।
  • ନିର୍ବାଚନ ପୂର୍ବରୁ ରାଜ୍ୟ ସରକାରଙ୍କ ଆଉ ଏକ ଘୋଷଣା
    Laxmikanta Nath 2018-12-12 16:31:38
    ଭୁବନେଶ୍ୱର,ମଧୁବାବୁ ପେନ୍‌ସନ ଯୋଜନାରୁ କେହି ଯୋଗ୍ୟ ହିତାଧିକାରୀ ବଞ୍ଚିତ ହେବେ ନାହିଁ। ଆସନ୍ତା ୧୫ରୁ ଏହି ଯୋଜନାରେ ରାଜ୍ୟରେ ୫ ଲକ୍ଷ ନୂଆ ହିତାଧିକାରୀଙ୍କୁ ସାମିଲ କରାଯିବ। ସେହିଭଳି ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ କଳାକାର ସହାୟତା ଯୋଜନାରେ ହିତାଧିକାରୀମାନଙ୍କୁ ମାସିକ ୧୨ ଶହ ଟଙ୍କା ସହାୟତା ପ୍ରଦାନ କରାଯିବ। ଏଥିସହ କଳାକାର ସହାୟତା ଯୋଜନାରେ ୪୦ହଜାର କଳାକାର ଉପକୃତ ହେବେ। ବୁଧବାର ସଚିବାଳୟଠାରେ ଆୟୋଜିତ ଏକ ବୈଠକରେ ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ ନବୀନ ପଟ୍ଟନାୟକ ଘୋଷଣା କରିଛନ୍ତି। ପ୍ରକାଶ ଯେ, ମଧୁବାବୁ ପେନ୍‌ସନ ଯୋଜନା ରାଜ୍ୟ ସରକାରଙ୍କ ନିଜସ୍ବ ଯୋଜନା। ଏଥିରେ ୪୩ ଲକ୍ଷ ହିତାଧିକାରୀ ଉପକୃତ ହେଉଛନ୍ତି। ଏହି ବୈଠକରେ ମୁଖ୍ୟ ଶାସନ ସଚିବ, ଉନ୍ନୟନ କମିଶନର, ବିଭିନ୍ନ ବିଭାଗର ପ୍ରମୁଖ ସଚିବ, ସଚିବ, ବିଭିନ୍ନ ଜିଲାର ଜିଲାପାଳ ଓ ବିଡିଓ ପ୍ରମୁଖ ଉପସ୍ଥିତ ଥିଲେ।
  • ଚାଷୀଙ୍କ କ୍ରୋଧ ନବୀନ ସରକାରକୁ ବିତାଡ଼ିତ କରିବ : କଂଗ୍ରେସ
    Laxmikanta Nath 2018-12-12 16:31:35
    ଭୁବନେଶ୍ୱର,ଓଡ଼ିଶାରେ ଚାଷୀଙ୍କ ସମସ୍ୟାର ସମାଧାନ ପରିବର୍ତ୍ତେ ସେମାନଙ୍କ ଉପରେ ପୁଲିସ ଜୁଲମ କରାଯାଉଛି। ସେହି ଚାଷୀଙ୍କ କ୍ରୋଧରେ ଓଡ଼ିଶାରୁ ନବୀନ ସରକାର ବିତାଡ଼ିତ ହେବ ବୋଲି କଂଗ୍ରେସ ଚେତାବନୀ ଦେଇଛି। ଏହାସହିତ ଆଗାମୀ ନିର୍ବାଚନରେ ଓଡ଼ିଶାରେ କଂଗ୍ରେସ ହିଁ ସରକାର ଗଢ଼ିବ ତଥା ଚାଷୀଙ୍କୁ କ୍ରମାଗତ ୫ବର୍ଷ ପାଇଁ ଆଥିର୍କ ସହାୟତା ଯୋଗାଇ ଦେବ ବୋଲି ଘୋଷଣା କରିଛି। କଂଗ୍ରେସ ଭବନରେ ଆୟୋଜିତ ଏକ ସାମ୍ୱାଦିକ ସମ୍ମିଳନୀରେ ପିସିସି ସଭାପତି ନିରଞ୍ଜନ ପଟ୍ଟନାୟକ କହିଛନ୍ତି, “ଚାଷୀ ଏବଂ ଚାଷର ସମସ୍ୟାକୁ ନେଇ ସମ୍ୱେଦନହୀନ ରାଜନୀତିକ ଦଳ ଏବଂ ତାଙ୍କର ସରକାର ଆଗାମୀ ନିର୍ବାଚନରେ ପରାଜୟର ସ୍ୱାଦ ଚାଖିବା ସୁନିଶ୍ଚିତ। ଗତକାଲିର ନିର୍ବାଚନ ଫଳାଫଳରୁ ଏହା ସ୍ପଷ୍ଟ ହୋଇଯାଇଛି। ଓଡିଶାରେ ଚାଷୀମାନେ ଗୁରୁତର ଆଥିର୍କ ସମସ୍ୟା ଦେଇ ଗତି କରୁଛନ୍ତି। ବାରମ୍ୱାର ଚାଷୀ ଆମିହତ୍ୟା ଭଳି ଘଟଣା ଘଟୁଛି। ଅବସ୍ଥା ଏଭଳି ହୋଇଛି ଯେ ନିଜ ଦୁଃଖ ଜଣାଇବା ପାଇଁ ରାଜଧାନୀକୁ ଆସୁଥିବା ଚାଷୀମାନଙ୍କୁ ବାଟରେ ପୋଲସି ଲଗାଇ ଜୁଲମ କରାଯାଉଛି” ବୋଲି ସେ କହିଛନ୍ତି । ଶ୍ରୀ ପଟ୍ଟନାୟକ କହିଛନ୍ତି,”ରାଜ୍ୟରେ ବିଜେଡି ଓ ବିଜେପି ଗୋଟିଏ ମୁଦ୍ରାର ଦୁଇପାର୍ଶ୍ୱ ଏବଂ ଭାଗୁଆଳି ସରକାରରେ ଥିବା ଏହି ଦୁଇଟିଯାକ ଦଳ ଓଡିଶାର ଚାଷୀଭାଇମାନଙ୍କ ସ୍ୱାର୍ଥ ରକ୍ଷା କରିବାରେ ସଂପୂର୍ଣ୍ଣ ଅସମର୍ଥ। ସ୍ୱାମୀନାଥନ‌ କମିଟିର ସୁପାରିସ ଓ ଧାନର ସର୍ବନିମ୍ନ ସହାୟକ ମୂଲ୍ୟ ବୃଦ୍ଧି ପ୍ରସଙ୍ଗରେ ବିଜେଡି ଓ ବିଜେପିର ରହସ୍ୟମୟ ନିରବତା ହିଁ ଏ ଦୁଇଟିଯାକ ଦଳ ଚାଷୀବିରୋଧୀ ବୋଲି ପ୍ରମାଣିତ କରାଇଛି। ରାଜ୍ୟରେ କଂଗ୍ରେସ କ୍ଷମତାକୁ ଆସିଲେ ସମସ୍ତ ଚାଷୀଙ୍କୁ ସୌରଚାଳିତ ପମ୍ପସେଟ‌ ପ୍ରଦାନ କରିବା ସହିତ ସେମାନଙ୍କୁ ୫ ବର୍ଷ ପାଇଁ ଲଗାତର ଭାବେ ଆଥିର୍କ ସହାୟତା ପ୍ରଦାନ କରିବ।” ଓଡ଼ିଶାରେ କଂଗ୍ରେସ ସିଧାସଳଖ ବିଜେଡି ସହିତ ଲଢେଇ କରିବ ବୋଲି ଶ୍ରୀ ପଟ୍ଟନାୟକ କହିଛନ୍ତି। ଏହି ସାମ୍ୱାଦିକ ସମ୍ମିଳନୀରେ ବିରୋଧୀ ଦଳ ନେତା ନରସିଂହ ମିଶ୍ର କହିଥିଲେ ଯେ ୫ଟି ରାଜ୍ୟରେ ହୋଇଥିବା ବିଧାନସଭା ନିର୍ବାଚନରେ ସ୍ପଷ୍ଟ ହୋଇଛି ଯେ ଏବେବି ଭାରତରେ ଗଣତନ୍ତ୍ର ବଞ୍ଚିଛି ଓ ଫାସିବାଦର ଏଠାରେ ସ୍ଥାନ ନାହିଁ। କଂଗ୍ରେସମୁକ୍ତ ଭାରତର ସ୍ୱପ୍ନ ଦେଖୁଥିବା ବିଜେପି ଆଜି ବିଜେପିମୁକ୍ତ ଭାରତ ଆଡକୁ ଅଗ୍ରସର ହେଉଛି। ଏହି ନିର୍ବାଚନ ଫଳାଫଳ ଆଗାମୀ ଦିନରେ ଓଡିଶା ରାଜନୀତିକୁ ଗଭୀର ଭାବେ ପ୍ରଭାବିତ କରିବ। ଓଡିଶାର ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ ନିଜେ ସ୍ୱୀକାର କରିଛନ୍ତି ଯେ ଏହି ୫ଟି ରାଜ୍ୟର ନିର୍ବାଚନ ଫଳାଫଳ ଚାଷୀ ଏବଂ ଚାଷର ସମସ୍ୟା ନେଇ ଗଭୀର ଭାବେ ପ୍ରଭାବିତ ହୋଇଛି । ଯଦି ଏକଥା ସତ୍ୟ, ତାହେଲେ ରାଜ୍ୟ ସରକାରଙ୍କର ଚାଷୀମାରଣ ନୀତି ଆଗାମୀ ଦିନରେ ଓଡିଶାରେ ସରକାର ପରିବର୍ତ୍ତନରେ ବାର୍ତ୍ତାବହ ହେବ। ସେହିପରି ପିସିସି ମିଡିଆ ସେଲ‌ ଅଧ୍ୟକ୍ଷ ସତ୍ୟପ୍ରକାଶ ନାୟକ କହିଛନ୍ତି ଯେ ହିନ୍ଦୀ, ହିନ୍ଦୁ ଏବଂ ହିନ୍ଦୁସ୍ଥାନ ବିଜେପିକୁ ପ୍ରତ୍ୟାଖ୍ୟାନ କରିଛନ୍ତି। ହିନ୍ଦୁ ଭୋଟକୁ ପୁଞ୍ଜି କରି ନିର୍ବାଚନୀ ବୈତରଣୀ ପାର ହେବା ପାଇଁ ବିଜେପି ଯେଉଁ ଯୋଜନା କରିଥିଲା, ତାକୁ ଦେଶବାସୀ ପ୍ରତ୍ୟାଖ୍ୟାନ କରିଛନ୍ତି ଏବଂ ଏଥିରୁ ବିଜେପି ଶିକ୍ଷାଲାଭ କରିବା ଉଚିତ‌। ଯୁବଶକ୍ତିକୁ ରୋଜଗାର, ମହିଳାଙ୍କ ସୁରକ୍ଷା ଏବଂ ସାମଗ୍ରିକ ବିକାଶ ଆଗାମୀ ନିର୍ବାଚନରେ କଂଗ୍ରେସର ପ୍ରମୁଖ ପ୍ରସଙ୍ଗ ହେବ ବୋଲି ଶ୍ରୀ ନାୟକ କହିଛନ୍ତି।
  • 10 दिन में कर्ज माफी का वचन पूरा करे कांग्रेस, अब चौकीदारी की जिम्मेदारी मेरी: शिवराज सिंह चौहान
    Naveen Modi 2018-12-12 15:54:41
    भोपाल, 12 दिसंबर (आरएनआई)। मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजों में मिली हार के बाद शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को प्रेस कांफ्रेंस करके कई सवालों के जवाब दिए। शिवराज ने कहा कि हमें उम्मीद है कि कांग्रेस 10 दिन के अंदर अपना कर्ज माफी का वादा पूरा करेगी।
  • बिहार से बाहर जदयू के सभी प्रयासों का हुआ बुरा हाल, राजस्थान में जदयू का खाता नहीं खुला
    Rama Shanker Prasad 2018-12-12 14:03:00
    पटना, 12 दिसंबर (आरएनआई)। बिहार से बाहर चुनाव लड़ने का लगातार प्रयोग कर रही जदयू का प्रदर्शन इस बार भी फ्लॉप रहा है. नीतीश कुमार की पार्टी इस बार भी बिहार के बाहर अपनी साख बचान में नाकामयाब रही है. कल यानि मंंगलवार को आये चुनावी नतीजों में जदयू को खासी निराशा हाथ लगी है। पांच राज्यों में से जदयू ने राजस्थान और छत्तीसगढ़ में अपनी किस्मत आजमाई थी लेकिन दोनों जगह न सिर्फ उसकी करारी हार हुई. इतना ही नहीं बता दें कि राजस्थान और छत्तीसगढ़ में पार्टी के सभी प्रत्याशियों की जमानत जब्त हो गई है. जदयू ने राजस्थान में 12 उम्मीदवारों को उतारा था लेकिन सभी को हार मिली है. मालूम हो की राजस्थान में जदयू का खाता तक नहीं खुला।वहीं, छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में भी जदयू के सभी उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई है. विदित हो कि जदयू ने यहां 12 उम्मीदवारों को मैदान में उतारा था जिसमें से महज 2 उम्मीदवार ही हजार का आंकड़ा छू पाएं हैं।बता दें कि ये पहला मौका नहीं है जब नीतीश कुमार ने बिहार के बाहर के चुनाव में अपनी पार्टी के उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है. राजस्थान और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव से पहले कर्नाटक में भी नीतीश कुमार ने जेडीयू के उम्मीदवारों को उतारा था लेकिन वहां भी उनके प्रत्याशियों की जमानत ज़ब्त हो गई थी।
  • महागठबंधन में 50-50 का फार्मूला तय
    Rama Shanker Prasad 2018-12-12 14:02:38
    पटना, 12 दिसंबर (आरएनआई)। आगामी चुनाव के मद्देनज़र बिहार में एनडीए के बाद अब महागठबंधन में भी सीटों को लेकर 50-50 का फार्मूला तय हुआ है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 18 से 20 सीटों पर राजद लड़ेगी, तो वहीं कांग्रेस के 8 से 12 सीटें मिलने की उम्मीद जताई जा रही है।वहीं, हम पार्टी अध्यक्ष जीतनराम मांझी को एक से दो सीटें, शरद यादव की पार्टी को भी एक से दो सीटें, और सीपीआइ-सीपीएमएल को एक-एक सीटें मिल सकती हैं। ऐसे में अगर उपेंद्र कुशवाहा महागठबंधन में शामिल होते हैं तो कुछ सीटें और बंट जाएंगी. ऐसे में महागठबंधन में सीटों का बंटवारा करने में मुश्किल तो आएगी लेकिन, सभी दलों का एक ही नारा है कि भाजपा को दूर भगाएं. इसी मद्देनज़र मुकेश सहनी की पार्टी और पप्पू यादव की पार्टी को भी शामिल किया जा सकता है. शीर्ष नेताओं के अगुवाई में दिल्ली में आयोजित महागठबंधन की बैठक में इस बात पर फैसला लिया गया है. हालांकि, किसको कौन सी सीट मिलेगी इसपर अभी मंथन जारी है। जबकि सीटों के बंटवारे को लेकर हम के प्रवक्ता दानिश रिजवान ने कहा है कि हमारे बीच अभी कोई फैसला नहीं हुई है. ये विरोधियों की साजिश है,हमारे बीच फूट दिलाना चाहते हैं।
  • लालू यादव ने कोर्ट से बेल की गुजारिश की
    Rama Shanker Prasad 2018-12-12 12:51:17
    पटना, 12 दिसंबर (आरएनआई)। चर्चित चारा घोटाले में दोषी बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के जेल से बाहर आने की चर्चा एक बार शुरू हुई है. और यह खबर सच भी मानी जा रही है। दरअसल, चारा घोटाले में सजायाफ्ता राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने झारखंड हाई कोर्ट में जमानत याचिका दायर की है. उन्होंने अपनी खराब सेहत का हवाला देते हुए कोर्ट से बेल की गुजारिश की है। वैसे लालू फिलहाल खराब सेहत के कारण जेल की बजाय रांची के रिम्स में भर्ती हैं, जहां उनका इलाज चल रहा है। बता दें कि 71 वर्षीय लालू कई बीमारियों से जूझ रहे हैं. उन्होंने कोर्ट में अर्जी डालते हुए कहा है कि उन्‍हें अपनी बीमारी के बेहतर इलाज के लिए जमानत दी जाए. वे क्रॉनिक किडनी, हर्ट और डायबीटिज समेत करीब 11 गंभीर बीमारियों से जूझ रहे हैं।
  • मध्य प्रदेश सीएम शिवराज सिंह चौहान ने हार के बाद राज्यपाल को सौंपा इस्तीफा
    Naveen Modi 2018-12-12 11:11:07
    भोपाल, 12 दिसंबर (आरएनआई)। मध्य प्रदेश में 15 साल से सत्ता का वनवास भोग रही कांग्रेस की अब सत्ता में वापसी हो गई है। सभी दिग्गज नेताओं ने एक होकर प्रदेश में तीन बार से सत्ता में काबिज भाजपा को बाहर का रास्ता दिखा दिया |
  • राजस्थान सीएम वसुंधरा राजे ने दिया इस्तीफा, जनादेश किया स्वीकार
    Root News of India 2018-12-11 18:28:35
    जयपुर, 11 दिसंबर (आरएनआई)। राजस्थान में वसुंधरा राजे ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है. बीजेपी की हार के बाद वसुंधरा राजे ने कहा 'मैं कांग्रेस को बधाई देना चाहती हूं. मैं जनता के इस जनादेश को स्वीकार करती हूं. बीजेपी ने इन 5 सालों में उनके लिए बहुत कुछ किया है, मुझे आशा है कि अगली पार्टी उन नीतियों को आगे बढ़ाएगी और काम करेगी.
  • छत्तीसगढ़ सीएम रमन सिंह ने हार के बाद राज्यपाल को सौंपा इस्तीफा
    Root News of India 2018-12-11 16:36:38
    रायपुर, 11 दिसंबर (आरएनआई)। पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजों और रुझानों के अनुसार कांग्रेस ने बीजेपी से राजस्थान और छत्तीसगढ़ छीन लिया है। छत्तीसगढ़ में हार की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए मुख्यमंत्री रमन सिंह ने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया है।
  • पासवान ने प्रदेश कार्यालय का उदघाटन किया।
    Root News of India 2018-12-11 16:36:35
    पटना, 11 दिसंबर (आरएनआई)। भारतीय क्रांति वीर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष वैधराज कृष्ण पासवान ने आज ब्रम्हस्थली कुरथौल , पुनपुन रोड पटना में पार्टी की प्रदेश कार्यालय का उदघाटन किया।

Top Stories


Home | Privacy Policy | Terms & Condition | Why RNI?