HIGHLIGHTS


G20 member nations to promote policies that bridges all forms of digital divide

Root News of India 2018-08-26 10:53:35    SPECIAL 9188
New Delhi, August 26 (RNI) : At the G20 Digital Economy Ministerial Meeting in Salta, in the north-west of Argentina, G20 ministers and senior officials issued a declaration that reflects the G20’s commitment towards promoting “policies and actions that catalyze digital transformations. The Digital Economy Ministerial Meeting, held on 23-24 August, was attended by 33 heads of delegation- Ministers, senior officials and representatives from invited countries and international organizations, like EU, UNCTAD, ITU etc. India was represented by Union Minister for Electronics and IT and Law and Justice,Sh. Ravi Shankar Prasad.

Building on the contributions of the G20 Digital Economy Task Force, delegates deliberated upon efforts to create conditions that help governments, the private sector and civil society maximize the benefits and confront the challenges posed by technological progress. The other focus area of the meeting was digital inclusion, in particular the gender divide. Other related issued such as Digital government, digital infrastructure and measuring the digital economy were also deliberated.

Addressing the Plenary of the G-20 Digital Economy Ministerial meeting, Sh. Prasad said that India’s digital story is a story of hope and growth; of opportunities and profits. But above all it is a story of digital inclusion and empowerment. Digital India is a mass movement today touching the lives of a billion people. Minister Prasad said that he was very assured to note that an important theme of the meeting was bridging the gender divide adding that gender empowerment was an important focus for his government.

Highlighting the enormous scale of India’s digital infrastructure that included 1.21 billion mobile phones, of which 450 million are smartphones, nearly 500 million internet subscriber and an ever increasing broadband availability being supported by optical fibre connectivity in 250,000 village clusters, Minister Prasad said that the success of Digital India programme lay in the conscious efforts to bridge the digital divide and promote digital inclusion, based upon technology which is low cost, affordable, developmental and which fosters empowerment and inclusion.

The Minister, in particular, highlighted the important role played by India’s home grown technologies for promoting digital payment, including importance on interoperable open-

Source technologies so that these platforms can be used by others to develop more innovative structures as well as leading to new norms of digital identity based authentication which are a generation ahead. All this is in addition to the stellar role played by India’s IT companies, which have left their mark in 200 cities of 80 countries, enabling India to emerge as a profound digital power, with India’s digital economy likely to become 1 trillion $ economy in the next 3-5 years, he added.

Minister Prasad said that India believed in internet access for all, adding that the Internet is one of the finest creations of the human mind, but it cannot be the monopoly of a few. He also stated that while Cyber-space is truly global, it must be linked with local ideas, local culture and local views. He said that the largest and most dynamic markets for digital services are in Asia, Latin America and Africa with India having one of the largest foot-print of several popular social media and other digital platforms. It is only fair and just that the revenue and profit generated from these platforms be equitably reinvested in the largest markets to create more infrastructures and generate more job opportunities for the people there, he added.

Minister Prasad articulated India’s concerns about data protection and individual privacy and informed the meeting that India had already put in place stringent measures backed by laws passed by the parliament. He said that privacy cannot prohibit innovation nor can privacy become the shield for the corrupt or terrorists. We need data to improve business but the data must be anonymous, objective, and taken with consent, he added.

Minister Prasad stressed that India had taken a serious note of reported misuse of social media platform data. Such Platforms will never be allowed to abuse our election process for extraneous means, he added. He said that the purity of the democratic process should never be compromised and that India will take all required steps to deter and punish those who seek to vitiate this process.

India’s views received wide appreciation and support from several delegations including the hosts Argentina, Germany and the EU. Several other countries like Saudi Arabia, Russia, Indonesia and Japan expressed a keen desire to work with India in a range of IT and cyber related fields. India also presented a non-paper at the meeting listing its experience of using government platforms for inclusion and economic development, which was well received.

The meeting saw great interest in India’s JAM trinity of more than 300 million bank accounts of the poor along with Aadhar and mobiles which is empowering the poor by direct benefit transfer of their welfare entitlement into their bank account.

The G20 member nations agreed to promote policies that will contribute to bridging all forms of digital divide, with special attention to the digital gender divide. The countries agreed to promote digital government and digital infrastructure, strengthen the digital skills of the workforce, deepen the analysis towards digital economy measurement, and to share experiences and lesson learned”.

The G20 Ministerial meeting allowed India to showcase the inclusive use of digital technology by the Government to empower the people. It also allowed India to articulate it's views on global issues relating to cyber security, data protection and innovation for growth.

Related News

Special

फरार शराब कारोबारी मुखिया जगन्नाथ राय ने घर की कुर्की जप्ती शुरु हाेते ही अदालत मे किया आत्मसमर्पण
Mo. Saquib 2019-02-17 12:26:18
मुजफ्फरपुर, 17 फरवरी (आरएनआई)। पिछले महीने मोतीपुर थाना के तत्कालीन थानाध्यक्ष कुमार अमिताभ के साथ मिलकर शराब काराेबार करने के आराेप‌ मे फरार चल रहे महमदपुर बलमी पंचायत के मुखिया जगन्नाथ राय के फरारी स्थिति मे पुलिस ने जब फरार मुखिया के पुराने सांढा डम्बर गाँव स्थित घर पर कुर्की जप्ती के लिए जेसीबी लगाई। जब किला ढहने लगा तब कुर्की जप्ती करवाई से घबराकर मुखिया जगन्नाथ राय ने अदालत मे जाकर आत्म समर्पण किया मुखिया के आत्म समर्पण के पश्चात पश्चिमी एसडीजीएम शबा आलम के आदेश पर मोतीपुर पुलिस ने कुर्की जप्ती कराई. क्युआरटी की एंव ससत्र बल के सहयाेग से फरार चल रहे शराब काराेबारी मुखिया जगन्नाथ राय के घर कुर्की जप्ती शुरु की थी ।
ଷ୍ଟୋଭ୍‌ରେ ରୋଷେଇ ବେଳେ ନିଆଁରେ ପୋଡ଼ି ଯୁବତୀ ଗୁରୁତର
Laxmikanta Nath 2019-02-16 16:33:00
ଭୁବନେଶ୍ୱର: କୁଜଙ୍ଗ ବ୍ଲକ୍‌ ଉଚ୍ଛବାନନ୍ଦପୁର ଗାଁରେ ନିଆଁରେ ପୋଡ଼ି ହୋଇ ଜଣେ ଯୁବତୀ ଗୁରୁତର ହୋଇଛନ୍ତି। ଏହି ଘଟଣା ପରେ ପ୍ରଥମେ ତାଙ୍କୁ କୁଜଙ୍ଗ ଡାକ୍ତରଖାନାରେ ଓ ପରେ ସଙ୍କଟାପନ୍ନ ଅବସ୍ଥାରେ କଟକ ଏସ୍‌ସିବିରେ ଭର୍ତ୍ତି କରାଯାଇଛି। ଷ୍ଟୋଭ୍‌ରେ ରୋଷେଇ ବେଳେ ଏଭଳି ଅଘଟଣ ହୋଇଥିବା ପରିବାର ପକ୍ଷରୁ କୁହାଯାଇଥିବା ବେଳେ ଅଘଟଣକୁ ନେଇ କୌଣସି ସ୍ପଷ୍ଟ ସୂଚନା ମିଳିପାରିନି।
ରାଜ୍ୟର ବିଭିନ୍ନ ସ୍ଥାନରେ ଘଡ଼ଘଡ଼ି ସହ ବର୍ଷା
Laxmikanta Nath 2019-02-16 15:12:46
ଭୁବନେଶ୍ୱର: ରାଜ୍ୟରେ ହଠାତ୍‌ ପାଣିପାଗରେ ପରିବର୍ତ୍ତନ ଦେଖା ଦେଇଛି। ଆଜି ରାଜ୍ୟର ବିଭିନ୍ନ ସ୍ଥାନରେ ଘଡ଼ଘଡ଼ି ସହ ବର୍ଷା ହୋଇଛି। ଏଥିସହ ପାଗ କୋହଲା ମଧ୍ୟ ରହିଛି। ଫଳରେ ପୁଣି ଶୀତ ବଢ଼ିବାର ଆଶଙ୍କା ଦେଖା ଦେଇଛି। ଆଜି ସକାଳୁ ସକାଳୁ ଟ୍ୱିନ୍‌ସିଟି କଟକ ଓ ଭୁବନେଶ୍ୱରରେ ଘଡ଼ଘଡ଼ି ସହ ବର୍ଷା ହୋଇଥିବା ଦେଖିବାକୁ ମିଳିଛି। ଏପରିକି ଉପକୂଳ ଓଡ଼ିଶାର ବିଭିନ୍ନ ସ୍ଥାନରେ ବର୍ଷା ହୋଇଥିବା ମଧ୍ୟ ସୂଚନା ମିଳିଛି। ପୂର୍ବରୁ ଆଞ୍ଚଳିକ ପାଣିପାଗ ବିଭାଗ ପକ୍ଷରୁ ଗଞ୍ଜାମ, ଗଜପତି, ନୟାଗଡ଼, ଖୋର୍ଦ୍ଧା, କଟକ, କନ୍ଧମାଳ ଓ କଳାହାଣ୍ଡିରେ ବର୍ଷା ହେବା ନେଇ ପୂର୍ବାନୁମାନ କରାଯାଇଥିଲା। ଆସନ୍ତା ଦୁଇ ଦିନ ପାଇଁ ବର୍ଷାର ସତର୍କ ସୂଚନା ଜାରି କରାଯାଇଛି।
ପିଲାଙ୍କ ପାଠପଢା ଖର୍ଚ୍ଚ ବହନ କରିବେ ରାଜ୍ୟ ସରକାର ସହିଦଙ୍କ ପରିବାର ପାଇଁ ୨୫ ଲକ୍ଷ ଅନୁକମ୍ପା ରାଶି
Laxmikanta Nath 2019-02-16 13:34:15
ଭୁବନେଶ୍ୱର : ସହିଦଙ୍କ ପାଇଁ ରାଜ୍ୟ ସରକାର ଅନୁକମ୍ପା ରାଶି ବୃଦ୍ଧି କରିଛନ୍ତି | ଗତକାଲି ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ ସହିଦଙ୍କ ପରିବାର ପାଇଁ ୧୦ ଲକ୍ଷ ଟଙ୍କା ଲେଖାଏଁ ଅନୁକମ୍ପା ରାଶି ଘୋଷଣା କରିଥିଲେ | ତେବେ ଆଜି ସହିଦଙ୍କ ପାର୍ଥିବ ଶରୀର ଭୁବନେଶ୍ୱରରେ ପହଂଚିବା ପରେ ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ ଅନୁକମ୍ପା ରାଶି ୨୫ ଲକ୍ଷକୁ ବୃଦ୍ଧି କରିଛନ୍ତି | ଏଥିସହ ୨ ସହିଦ ମନୋଜ ବେହେରା ଓ ପ୍ରସନ୍ନ କୁମାର ସାହୁଙ୍କ ଗାଁକୁ ମଡେଲ ପଂଚାୟତ କରିବା ପାଇଁ ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ ଘୋଷଣା କରିଛନ୍ତି | ସହିଦଙ୍କ ପିଲାଙ୍କ ପାଠ ପଢା ଖର୍ଚ୍ଚ ମଧ୍ୟ ରାଜ୍ୟ ସରକାର ବହନ କରିବେ ବୋଲି ପ୍ରତିଶୃତି ଦେଇଛନ୍ତି | ୨ ସହିଦ ପାଠ ପଢିଥିବା ସ୍କୁଲକୁ ସେମାନଙ୍କ ନାଁରେ ନାମିତ କରିବ ପାଇଁ ମଧ୍ୟ ଘୋଷଣା କରିଛନ୍ତି | ଆଜି ଭୁବନେଶ୍ୱର ବିଜୁ ପଟ୍ଟନାୟକ ବିମାନବନ୍ଦରରେ ସହିଦଙ୍କ ପାର୍ଥିବ ଶରୀର ପହଂଚିବା ପରେ ହଜାର ହଜାର ଲୋକ ତାଙ୍କ ଶେଷ ଦର୍ଶନ କରିଥିଲେ | ମୁଖ୍ୟମନ୍ତ୍ରୀ ନବୀନ ପଟ୍ଟନାୟକ ବିମାନବନ୍ଦରରେ ପହଂଚି ସହିଦଙ୍କୁ ଶ୍ରଦ୍ଧାଞ୍ଜଳି ଜ୍ଞାପନ କରିଥିଲେ | ଏକ ଶୋକାକୁଳ ପରିବେଶ ଭିତରେ ସହିଦଙ୍କ ପାର୍ଥିବ ଶରୀରକୁ ସେମାନଙ୍କ ନିଜ ନିଜ ଗାଁକୁ ନିଆଯାଇଛି |
मीडिया कर्मियों ने भी दी शहीदों को श्रद्धांजलि
Pradeep Phutela 2019-02-15 16:35:19
लखनऊ, 15 फरवरी (आरएनआई)। जम्मू - कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के विरोध में पत्रकारों ने राजधानी के हज़रतगंज स्थित गांधी प्रतिमा पर एकत्र हो विरोध के साथ ही शहीदों को अपनी श्रधांजलि अर्पित की। इस मौके पर आई०एफ़०डब्लू०जे० के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं वरिष्ठ पत्रकार डा० के.विक्रम राव ने कहा कि आतंकी हमला निंदनीय है। भारत को इसे कत्तई बर्दास्त नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा कि ये पौरुष दिखाने और बदला लेने का वक़्त है। यू०पी०डब्लू०जे०यू० के प्रदेश अध्यक्ष हसीब सिद्दीकी ने भी घोर निंदा करते हुए कहा कि अब देश को एक हो आतंकवाद के खिलाफ पाकिस्तान को मुहँ तोड़ जवाब देना होगा। वरिष्ठ पत्रकार सुरेश बहादुर सिंह ने कहा कि शहीदों के प्रति हमारी हृदय के गहराइयों से श्रद्धांजलि पर इस वक़्त कड़े फैसले लिए जाने चाहिए। उन्होंने स्मरण दिलाया की आई०एफ़०डब्लू०जे० राष्ट्रीय अध्यक्ष के विक्रम राव के नत्रत्व में हुए जैसलमेर अधिवेशन में 400 पत्रकारों ने पाकिस्तान सीमा पर प्रदर्शन किया था, उसी के ठीक दो दिन बाद नरेन्द्र मोदी सरकार ने पाकिस्तान की सीमा में घुस कर “सर्जिकल स्ट्राइक” करी थी| उन्होंने कहा की आज हम मांग करते है की भारत सरकार पाकिस्तान और आतंकवादियों को मुह-तोड़ और माकूल जवाब दें|
HC ने 26 हजार पदों की भर्ती प्रक्रिया पर लगाई अंतरिम रोक
Root News of India 2019-02-13 13:23:46
जोधपुर, 13 फरवरी (आरएनआई)। राजस्थान में राज्य सरकार की ओर से 26 हजार नव चयनित शिक्षकों की नियुक्ति पर हाईकोर्ट ने अंतरिम रोक लगा दी है। जस्टिस संगीतराज लोढा की खंडपीठ ने 25 फरवरी तक नियुक्ति रोक दी है। कोर्ट ने राज्य सरकार की अपील पर सुनवाई करते हुए यह फैसला सुनाया है। अप्रार्थी मनीष कुमार नागदा की ओर से एस राजपुरोहित ने अपना पक्ष रखा। तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती प्रकरण में यह मामला टीएसपी क्षेत्र का लाभ नहीं देने से जुड़ा हुआ है। गौरतलब है कि राज्य सरकार की ओर से 26 हजार नव चयनित शिक्षकों को बड़ी सौगात मिली है, जिनकी नियुक्ति के मंगलवार को आदेश जारीकर हो गए थे। प्रदेश के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कल शाम प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी जानकारी दी थी। डोटासरा ने कहा कि 26 हजार नव चयनित शिक्षकों की नियुक्ति के आदेश जारी किए गए हैं और सभी जिला परिषद सीईओ को आदेश की कॉपी भेजी जा रही है, जिसके तहत 3 दिन में नियुक्ति देने के लिए कहा गया है।
मुजफ्फरपुर में अनोखे अंदाज में सरस्वती पूजा मनाया गया
Mo. Saquib 2019-02-10 16:26:15
मुजफ्फरपुर, 10 फरवरी (आरएनआई)। मुजफ्फरपुर के “द इंस्टीट्यूट ऑफ कॉस्ट अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया” ने इस बार सरस्वती पूजा एक अनोखे संदेश के साथ मनाया। इस बार उनका उद्देश्य जागरूकता फैलाने का था की क्यों भारतियों के लिए आधार कार्ड होना वास्तव में महत्वपूर्ण है। आधार कार्ड वास्तव में भारतियों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है, क्योंकि आधार कार्ड को सरकार द्वारा सबसे महत्वपूर्ण पहचान पत्र माना जाता है।यूआईडीएआई जो यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया के नाम से जाना जाता है। कई कारणों की वजह से भी आधार कार्ड को सबसे अधिक महत्व देता रहा है। आधार कार्ड में किसी व्यक्ति के कई महत्वपूर्ण विवरण जैसे उंगलियों के निशान, आइरिस विवरण और अन्य महत्वपूर्ण जानकारी होती है। भारत में इससे संबंधित एक घटना भी हो चुकी है- एक व्यस्त सड़क पर एक 5 साल की बच्ची खो गई थी। एक व्यक्ति ने लड़की को रोते हुए देखा और लड़की को पुलिस स्टेशन ले गया। लड़की कुछ भी कहने के लिए बहुत छोटी थी, इसलिए उन्होंने उसकी उंगलियों के निशान लिए और आशा की कि उसके पास आधार कार्ड होगा। जब उन्होंने अपने सिस्टम की जाँच की, तो उन्हें लड़की का आधार कार्ड स्टेटस पता चला और उस छोटी 5 साल की लड़की को उसके घर भेज दिया गया। आधार कार्ड का महत्व हम भारतियों के लिए काफी अहम है।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर में एनेक्सी भवन का लोकार्पण किया
Root News of India 2019-02-09 19:50:15
गोरखपुर, 9 फरवरी (आरएनआई)। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को 1532.38 लाख की लागत से निर्मित एनेक्सी भवन का लोकार्पण किया। जिसका निर्माण लोक निर्माण विभाग की एजेंसी निर्माण खण्ड ने किया है। इस भवन का निर्माण 20 दिसम्बर 2017 से प्रारम्भ हुआ था।
प्रयागराज के नेहरू कॉम्प्लेक्स में लगी भीषण आग
Ashok Kesharwani 2019-02-09 18:27:36
प्रयागराज, 9 फरवरी (आरएनआई)। प्रयागराज के पुराने शहर के चौक घंटाघर स्थित नेहरू कॉम्प्लेक्स में आग लगने से 40 दुकानें राख हो गईं। कपड़ा, पटाखा और होली के सामानों की थोक ‌व खुदरा दुकानें चारमंजिले भवन की तीसरी मंजिल पर थीं। लगभग चार करोड़ के नुकसान का अनुमान लगाया जा रहा है।
पृथक मिथिला राज्य की मांग को लेकर 11 फरवरी को घेरावन्दी।
Root News of India 2019-02-08 18:23:45
नई दिल्ली , 8 फरवरी 2019 ( आर.एन.आई) अखिल भारतीय मिथिला राज्य संघर्ष समिति के बैनर तले दिल्ली में 11 फरवरी को पृथक मिथिला राज्य की मांग को लेकर सात स्थानों पर नाकेबंदी का आयोजन किया गया है।
तिरहुत जोन के नए आईजी बने नैयर हसनैन खान
Rupesh Kumar 2019-02-08 17:35:21
मुज़फ्फरपुर, 8 फरवरी (आरएनआई)। तिरहुत ज़ोन के आईजी सुनील कुमार का हुआ तबादला. नए तिरहुत जोन के आईजी बने नैयर हसनैन खान. सुनील कुमार जो कि तिरहुत जोन के आईजी थे उन्हें पटना ज़ोन का आईजी बनाया गया ओर नैयर हसनैन खान बने मुजफ्फरपुर आईजी.
हल्की बूंदाबांदी से मौसम का रुख बदला
Rupesh Kumar 2019-02-08 11:03:08
मुजफ्फरपुर, 8 फरवरी (आरएनआई)। लगातार हो रहे बूंदा-बूंदी से मुजफ्फरपुर जिला के कई क्षेत्रों में बिजली व्यवस्था भी चरमराई हुई है. बिजली भी बूंदा-बूंदी की तरफ रुक-रुक कर आते जाते रहती है. पिछले दो दिनों से ये सुनने को मिल रहा था कि मौशम बदलने वाला है, लेकिन कुछ देखने को नही मिला. पर कल रात से मुजफ्फरपुर जिला सहित आसपास के क्षेत्र में बूंदा-बूंदी हो रही है. हालांकि ये नई बात नही है, लेकिन अगर ठंड का मौशम हो और ऊपर से शीतल हवा के साथ-साथ रुक-रुक कर हल्की-हल्की बूंदा-बूंदी हो तो जिला में बैठकर शिमला जैसा महशुस हो रहा है.
डीएम के तबादले को लेकर लोगों में आक्रोश, कहाँ मुजफ्फरपुर की दुर्भाग्य हैं जो अच्छे अधिकारियो की नही होती हैं ठहराव
Mo. Saquib 2019-02-08 10:20:26
मुजफ्फरपुर, 8 फरवरी (आरएनआई)। बिहार के चर्चित जिला मुजफ्फरपुर में जिलाधिकारी के पद पर तैनात मो. सोहैल की तबादला की खबर मीडिया में आते ही ग्रामीणों के बीच खलबली मच गई हैं। लोग सरकार के बिरोध में कई तरह की टिप्पणियां कर रहे हैं। ग्रामीणों का कहना हैं कि मुजफ्फरपुर में मो सोहैल द्वारा डीएम के पदभार संभालने के बाद जिला में हर विभाग की हालात लगभग लगभग सुधर गई थी। डीएम सिंगम के अंदाज में अपना काम को निपटाते थे। डीएम मो.सोहैल साहेब की काम को देखकर लोग जितना खुश नही हुए की आज उनकी तबादला की खबर पर लोग दुख में हैं। लोगो के दिलों को डीएम की तबादले की खबर आग बबूला बनाकर रख दिया हैं। इस संबंध में RNI से बातचीत करने के दौरान कई लोगों ने कहां की मुजफ्फरपुर की दुर्भाग्य हैं जहां एक अच्छे ईमानदार पदाधिकारी की ठहराव नही होती हैं। उनका तबादला कर दिया जाता हैं।
मौसम का बदला मिजाज, परीक्षार्थियो की बढी परेशानी।
Umesh Kumar 2019-02-08 07:10:05
वैशाली, 8 फरवरी (आरएनआई)। मौसम के बदलते मिजाज ने एक बार फिर से ठंड का प्रकोप बढ गयी हैं।मौसम के बेरूखी से आलू,तोङी,तम्बाकू, कि फसल को नुकसान होगी वहीं गेहूं का फसल को फायदा होगा।ठंड का बढतेप्रकोप से इंटर के परीक्षार्थियों को भी परेशानी उत्पन्न हो रही हैं।
मुज़फ्फरपुर जिला के नए डीएम बने आलोक रंजन घोष
Rupesh Kumar 2019-02-07 21:14:36
मुजफ्फरपुर, 7 फरवरी (आरएनआई)। मुज़फ़्फ़रपुर के डीएम मो सोहैल का हुआ तबादला, मुजफ्फरपुर के नए डीएम बने आलोक रंजन घोष. वंही राज्य सरकार की सामान्य प्रशासन ने किया आज तीन आईएएस का तबादला, साथ ही दो जिलो में नए डीएम की प्रतिनियुक्ति, नवीन कुमार बने जहानाबाद के डीएम, जबकि आलोक कुमार घोष बने मुजफ्फरपुर के नए डीएम.वहीं मो. सोहेल बने ग्रामीण कार्य के अपर सचिव. देर शाम को राज्य सरकार की सामान्य प्रशासन विभाग ने जारी किया है अधिसूचना.
बालिका गृह कांड: ब्रजेश ठाकुर सहित अन्य आरोपितों पर अगली तारीख को तय किए जाएंगे आरोप
Mo. Saquib 2019-02-07 16:35:05
मुजफ्फरपुर, 7 फरवरी (आरएनआई)। बहु चर्चित बालिका गृह यौन हिंसा मामले के मुख्य आरोपित ब्रजेश ठाकुर सहित अन्य आरोपितों की वीडियो कॉन्फ्रेसिंग से गुरुवार को विशेष कोर्ट में पेशी हुई। इस दौरान कोर्ट में सुनवाई हुई जहां कोर्ट ने कहा कि सभी आरोपितों पर अगली तारीख को आरोप तय किए जाएंगे। वहीं पाट‍ियाला जेल में बंद ब्रजेश के अलावा बेउर जेल में बंद बाल संरक्षण इकाई के तत्कालीन सहायक निदेशक रोजी रानी, बाल संरक्षण पदाधिकारी रवि रोशन व अन्य आरोपितों एवं मुजफ्फरपुर जेल में बंद मधु तथा अन्य आरोपितों की वीडियो कांफ्रेंसिंग से पेशी हुई। सभी आरोपितों की न्यायिक हिरासत की अवधि गुरुवार को पूरी होने पर सुनवाई हुई। बालिका गृह यौन हिंसा मामले में न्यायिक हिरासत में जेल में बंद रामानुज ठाकुर उर्फ मामू के मुकदमा की पैरवी करने के लिए कोर्ट ने वकील मुहैया करा दिया है। इसको लेकर गुरुवार को कोर्ट ने आदेश जारी कर दिया। उसकी अर्जी पर गुरुवार को विशेष कोर्ट में सुनवाई हुई जहां कोर्ट ने वकील मुहैया कराने का आदेश दिया। डिफेंस पैनल की वरीय अधिवक्ता सुनीता कुमारी को रामानुज का वकील नियुक्त किया गया है। रामानुज की ओर से उन्होंने पुलिस पेपर किया रिसीव। रामानुज ने बुधवार को अपने मुकदमा की पैरवी करने के लिए वकील मुहैया कराने की अर्जी विशेष कोर्ट में भेजी थी। यह अर्जी उसने खुदीराम बोस केंद्रीय कारा मुजफ्फरपुर के माध्यम से भेजी है। वह इसी जेल में बंद है।
Kailash Desai-COO, Endress Hauser reaction to the Interim union budget
Root News of India 2019-02-06 20:04:02
New Delhi, February 7 (RNI): Kailash Desai-COO, Endress Hauser reaction to the Interim union budget- Endress Hauser is recognized as a leading supplier of industrial measurement and automation equipment, providing services and solutions for industrial processes all over the world. The company has a plant in Aurangabad and xports its products to South East Asian companies, South Africa and Australia. The company has around 6000 client base in India and partners with Reliance, BPCL, HPCL, BHEL, CPCL and Hatsun in Tamil Nadu to name a few. They offer comprehensive process solutions for flow, level, pressure, analysis, temperature, recording and digital communications across a wide range of industries, optimising processes in regards to economic efficiency, safety and environmental protection.
इंटरनेशनल फतेह एकेडमी के प्रांगण में विद्यार्थियों के उज्जवल भविष्य के लिए हुए विचार विमर्श।
Kuljit Singh 2019-02-06 11:15:20
जंडियाला गुरु, 6 फरवरी (आरएनआई)। विदेशी दरों की चमक तथा विदेशी शिक्षा और नौकरी प्राप्त करने के लिए हर एक नौजवान उत्सुक रहता है। इंटरनेशनल फतेह अकैडमी के चेयरमैन जगबीर सिंह की मौजूदगी में विद्यार्थियों तथा उनके माता पिता के बीच इसी विषय पर खुली चर्चा करवाई गई। इस चर्चा का नतीजा यह निकाला गया कि विद्यार्थियों का उद्देश्य सिर्फ विदेश का वीजा प्राप्त करना ही नहीं होना चाहिए, बल्कि उत्तम शिक्षा प्रदान करने वाले कॉलजो तथा यूनिवर्सिटीओं में शिक्षा के मनपसंद क्षेत्र में अध्ययन करना, तथा अपने धार्मिक सिद्धांतों, सभ्यचारक, नैतिकता के साथ जुड़े रहते हुए, अपने मनपसंद देश के तंदुरुस्त, स्वच्छ तथा शांत माहौल का आनंद लेते हुए मनुष्यता, की सेवा करना इनका मुख्य उद्देश्य होना चाहिए। इंटरनेशनल अकैडमी के चेयरमैन जगबीर सिंह की कोशिशों से "नोवा सकोशीया" कनाडा की उच्च शिक्षा काउंसलर मार्टिन सिंह को विशेष रूप से फतेह अकैडमी में बुलाया गया। इंटरनेशनल फतेह अकैडमी के जंडियाला गुरु प्रांगण में पिछले दिनों आयोजन अंडर ग्रैजुएट तथा ग्रैजुएट्स के लिए कैरियर काउंसलिंग सेशन में शामिल होने के लिए इन्हें बुलावा दिया गया। उनके साथ अलग-अलग यूनिवर्सिटीओं के पेशेवरों की एक टीम भी स्कूल कैंपस में पहुंची। इस टीम के मेंबरों ने विद्यार्थियों को पढ़ाई के अलग-अलग क्षेत्रों तथा मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से अवगत करवाया। जिनमे सी विद्यार्थी उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए चुनाव कर सकते हैं। इस मौके पर उपस्थित सज्जनों को स्टूडेंट विजा प्राप्त करने के लिए जरूरी जानकारी भी उपलब्ध करवाई गई। इस मौके पत्रकारों को जानकारी देते हुए अकैडमी के चेयरमैन जगबीर सिंह ने बताया के इंटरनेशनल फतेह अकैडमी कैंब्रिज इंटरनेशनल एजुकेशन (सी.आई.टी.) के पाठ्यक्रम का चुनाव करने वाले विद्यार्थियों को भी शिक्षा प्रदान करती है। जिससे विद्यार्थी कनेडा या संसार भर की यूनिवर्सिटीओ में शामिल होने के लिए पेश आने वाली दिक्कतों का बढ़िया ढंग से मुकाबला करने के लिए तैयार हो जाते हैं। उन्होंने बताया कि शिक्षा के अलावा इंटरनेशनल फतेह अकैडमी खेलों पर भी पूरा ध्यान देती है। इंटरनेशनल फतेह अकैडमी के खिलाड़ियों का एसोसिएशन आफ एफिलिएटिड स्कूल्स के साथ-साथ पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड में भी शुमार होता है। बताने लायक है कि इंटरनेशनल फतेह अकेडमी स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया शिक्षा सेंटर में भी रजिस्टर्ड है।
अरशद इलियास मुंबई हीरोज एवार्ड से नवाजे गये
Ram Prakash Rathore 2019-02-05 10:29:30
शाहाबाद, 5 फरवरी (आरएनआई)। पूर्व सांसद इलियास आजमी के पुत्र, रेड क्रीसेंट सोसायटी आफ इंडिया के चेयरमैन एवं सिद्दीकी फाउंडेशन के डारेक्टर अरशद इलियास सिद्दीकी को एनजीओ हृयूमेनिटी की जानिब से हीरोज आफ मुंबई एवार्ड से नवाजा गया। यह एवार्ड एन एस स्पोर्टस क्लब वरली मुंबई में यूएस जनरल काउंसलिंग द्वारा प्रदान किया गया।
मर्म चिकित्सा है काफी कारगर: वैध नवीन
Pradeep Phutela 2019-02-04 11:15:59
देहरादून, 4 फरवरी (आरएनआई)। मर्म चिकित्सा पर हैदराबाद में आयोजित हुआ कांफ्रेंस एवं वर्कशाप।आयुष को जन जन तक एवं पूरी दुनिया मे पहुंचाने की मुहिम को साकार करने में लगी आयुष दर्पण की टीम ने तेलंगना राज्य के हैदराबाद मध्य में स्थित ईएसआई मेडिकल कालेज सनथनगर में मर्म चिकित्सा विज्ञान पर एक बड़े कार्यक्रम का आयोजन किया।कार्यक्रम का उद्घाटन दिल्ली से ईएसआई के आयुष विभाग के डेप्युटी कमिश्नर डॉ जी प्रभाकर राव एवं ईएसआई मेडिकल कालेज के उपप्राचार्य डॉ संपत कुमार ने किया।कार्यक्रम का उदघाटन दीप प्रज्वलन एवं गणेश वंदना से हुआ।कार्यक्रम में ईएसआई मेडिकल कालेज के रजिस्ट्रार डॉ माधुरी गेस्ट ऑफ ऑनर रहे।कार्यक्रम में डॉ नवीन जोशी ने मर्म चिकित्सा से प्रतिभागीयों का परिचय कराया,डॉ नवीन जोशी ने बताया कि शरीर मे 107 मर्म विंदु होते हैं जिनपर निश्चित दबाव डालकर फ्रोजन सोल्डर,ब्रेकियल प्लेक्सस इंजुरी,सेब्रल पाल्सी जैसी स्थितियों में लाभ प्राप्त किये जा सकते हैं ।डॉ नवीन जोशी के अनुसार इन रोगों में एलोपैथिक चिकित्सा सीमित रूप से लाभ दे पाती है।कार्यक्रम के की नोट स्पीकर प्रख्यात मर्म विशेषज्ञ प्रोफेसर सुनील जोशी ने प्रतिभागी चिकित्सको को इस विद्या को सही तरीके से सीख कर मानवता के कल्याण हेतु प्रयोग करने को कहा।डॉ सुनील जोशी के अनुसार चिकित्सा के रुप में मर्म विज्ञान का उपयोग महर्षि सुश्रुत की देन है जबकि केरल आदि में अपनाई जा रही कलारी आदि तकनीक केवल मार्शल आर्ट है।मर्म चिकित्सा पर कुशल प्रशिक्षित चिकित्सक के निर्देशन में ही लाभ प्राप्त करने की सलाह उन्होंने दी।कुमाऊँ से मूल रूप से जुड़े डॉ नवीन जोशी एवं प्रोफेसर सुनील जोशी से कुमाऊं केशरी प्रदीप फुटेला की बातचीत में उन्होंने बताया कि महज चिकित्सा को अपनाकर लाखो लोगो के घुटने को प्रत्यारोपित होने से बचाया जा सकता है।उनके अनुसार ईश्वर ने मानव शरीर में सेल्फ हीलिंग पावर दी है और बिना दवा के हील करने वाली यह अनूठी चिकित्सा मर्म चिकित्सा है ।आयुष दर्पण फाउंडेशन ट्रस्ट के सह संस्थापक मूल रूप से अल्मोड़ा जिले और हाल में दिल्ली निवासी लंदन से रॉयल एशियाटिक सोसाइटी के सदस्य मनीष उप्रेती ने आयुष दर्पण द्वारा दुनिया भर में आयुष चिकित्सा के प्रचार प्रसार में किये गए कार्यो सहित आगामी कार्यक्रमों की रूपरेखा प्रस्तुत की और इलाहाबाद सहित नेपाल और श्रीलंका में होनेवाले आगामी कार्यक्रमो की जानकारी दी।तेलंगाना राज्य में मर्म चिकित्सा विषय पर हुआ यह पहला कार्यक्रम था जिसमे 250 से अधिक प्रतिभागी चिकित्सको एवं छात्र छात्राओं ने भाग लिया।100 से अधिक चिकित्सक छतीसगढ़,महाराष्ट्र,आंध्रप्रदेश आदि राज्यो से केवल इस कांफ्रेस एवं वर्कशाप में प्रतिभाग करने को हैदराबाद पहुंचे थे।कार्यक्रम के दूसरे दिन आयोजित निःशुल्क मर्म चिकित्सा शिविर में कई रोगियों ने चिकित्सा लांभ लिया।डॉ नवीन जोशी ने बताया कि आयुष दर्पण नामक एक पत्रिका के रूप में रखी नींव आज आयुष दर्पण फाउंडेशन ट्रस्ट के रूप में पूरे भारत मे आयुर्वेद एवं अन्य चिकित्सा विधाओं का लाभ जन जन तक पहुंचा तो रही ही है साथ ही साथ नये चिकित्सको को आयुर्वेद की विभिन्न विधाओं के लिये प्रशिक्षित भी कर रही है।

Top Stories

Home | Privacy Policy | Terms & Condition | Why RNI?