कल्पवृक्ष यानी पारिजात जो इंद्रलोक के नंदनकानन वन में विराजमान था, सुल्तानपुर (कुश भवनपुर) की धरती पर मौजूद है

Ashok Kumar Pandey 2019-04-16 18:27:39    SPECIAL 11144




कल्पवृक्ष यानी पारिजात जो इंद्रलोक के नंदनकानन वन में विराजमान था, सुल्तानपुर (कुश भवनपुर) की धरती पर मौजूद है
अमेठी, 16 अप्रैल (आरएनआई) | पारिजात यानी कल्पवृक्ष जो जनपद सुल्तानपुर में है उसी का अंग अमेठी आज जनपद बन चुका है सुल्तानपुर के जनपद में गोमती नदी के किनारे उद्यान विभाग में यह परिजात वर्तमान में मौजूद है पारिजात के लिए भगवान श्री कृष्ण अपनी पत्नी सत्यभामा के लिए पुण्य व्रत के लिए इसे लाने के लिए नारद को इंद्रलोक में भेजा था लेकिन इद्र ने इसे देने से इनकार कर दिया था तब गरुड पर सवार होकर के भगवान श्री कृष्ण स्वयं इंद्रलोक गए और उन्होंने वहां पहुंचकर के पारिजात से कहा धरती पर चलने के लिए निवेदन किया तब वहां पर इंद्र पहुंच गए इंद्र ने कहा पारिजात इंद्रलोक की संपत्ति है आप इसे नहीं ले जा सकते पहले श्री कृष्ण ने नारद को देश वृक्ष को लेने के लिए भेजा था इंद्र ने जब अस्वीकार कर दिया था तब इंद्र ने कहा था क्या मानव को भी यह अधिकार मिल गया है कि मानव नंदनकानन वन में प्रवेश कर सकें नंदनकानन वन में यह वृक्ष जगमगाता और चमकता रहता है जिस की सुरक्षा में वहां प्रहरी हमेशा तैनात रहते हैं जब श्री कृष्ण ने कहा कि मैं पारिजात लेकर जा रहा हूं तो इंद्र ने कहा इसके लिए आपको मुझसे युद्ध करना होगा तब इंद्र ने भगवान श्री कृष्ण के ऊपर अस्त्र छोड़ें और भगवान श्री कृष्ण और इंद्र में युद्ध होने लगा जब शाम हो आप भगवन यही इंद्रलोक में विश्राम करें तब श्री कृष्ण ने कहा कि नहीं आज शिवरात्रि है भगवान शिव की आराधना करूंगा तब भगवान श्रीकृष्ण जी पर्वत पर शिव आराधना के लिए चले गए तब वहां पर भगवान शिव उपस्थित हुए भगवान शिव ने आशीर्वाद दिया पारिजात को ले करके जाएंगे इसमें जानकारी देना है कि भगवान शिव ने भी इंद्र से अपनी पत्नी पार्वती के लिए पारिजात मांगा था लेकिन इंद्र ने देने से इनकार कर दिया था तब भगवान शिव ने पारिजात वन का निर्माण किया था अपनी पत्नी भगवती पार्वती के लिए, जानते हैं कि भगवान कृष्ण ने पारिजात से क्या कहा था उन्होंने कहा था हे पारिजात मुझे आपको पृथ्वी पर पृथ्वी लोक पर ले जाना है आप मेरे साथ पृथ्वी पर पृथ्वी लोक पर चलने की कृपा करें दूसरे दिन जब श्री कृष्ण और इंद्र में भयंकर युद्ध हुआ तब श्री कृष्ण जी पर इंद्र ने वज्र का प्रहार किया तब श्री कृष्ण ने सुदर्शन चक्र छोड़ दिया वह बज्र सुदर्शन चक्र में समा गया जब समा गया तब इंद्र भयभीत हो गए उन्हें लगा कि सुदर्शन चक्र उन्हें अब काट देगा इसी बीच जब उनके समीप चक्र उन्हें काटने के लिए पहुंचा तभी माता इंद्र की माता अदिती वहां पर उपस्थित हो गई उन्होंने श्री कृष्ण से कहा पुत्र कृष्ण यह क्या कर रहे हो अपने भाई को ही समाप्त कर डालोगे वामन अवतार में मैंने ही तुम्हें जन्म दिया था यह युद्ध रोको तब भगवान कृष्ण ने सुदर्शन चक्र को रोक दिया इस तरह से श्रीकृष्ण से इन्द्र। की रक्षा हुई और सुदर्शन चक्र वापस होने के बाद भगवान श्री कृष्ण को पारिजात ले जाने के लिए कहा जिसके बाद में श्री कृष्ण ने अपने सुदर्शन चक्र से इंद्र के वज्र को निकाल कर के फिर से दिया वो पारिजात सुल्तानपुर की धरती पर विराजमान है पारिजात देव वृक्ष की इतनी बड़ी माहिमा है इसके दर्शन के लिए दूर-दूर से स्त्री पुरुष महिलाएं दर्शन हेतु आते हैं जनपद अमेठी के पत्रकार अशोक कुमार पाण्डेय भी कल्पवृक्ष के दर्शन के लिए आया हुआ था और यह जानकारी आप सभी को दे रहा है आप सभी से अनुरोध है कभी सुल्तानपुर की धरती पर आए तो पारिजात का दर्शन और वृक्ष के नीचे ध्यान जरूर करें किवदंती है इस वृक्ष के नीचे जो भी लोग अपनी मनौती मानते हैं वह निश्चित पूर्ण होती इस वृक्ष के नीचे लोग जो अपनी मनोकामना हेतु निवेदन करते हैं सच्चे मन से वह जरूर पूर्ण होती है इस वृक्ष के कि यह महिमा है यह सभी कि सच्ची अच्छी मनोकामना को पूर्ण करने की क्षमता रखता है जानकारी भी देना है जब कामना को पूर्ण करने की क्षमता वृक्ष में नहीं रहेगी लोगों का कहना है यह सूख जाएगा इस वृक्ष को छूने व्यास की टहनियों को छूने से थकान मिट जाती है प्रीत में इसमें बहुत अच्छे फूल आते हैं जिसकी खुशबू बहुत दूर तक जाती है शास्त्रों के अनुसार 3 योजन तक और भी जाने इस वृक्ष की पत्तियों व छाल में तीखे पदार्थ का एक क्रिस्टल एडेन्सोनिन पाया जाता है, जिसके कारण वनस्पति विज्ञान में इस वृक्ष का नाम एडेनसोनिया-वेजीटाटा रखा गया है, जिसकी पहचान वैज्ञानिकों ने की है। इसमें फल नही होता है इसकी कली फट कर फूल हो जाती है। इसमें दूसरा पेड़ लगाने की कोशिश हुई हुई लेकिन कामयाबी नही मिली है इस वृक्ष के महत्व की पुष्टि वन विभाग द्वारा भी की गई है

हम बात कर रहे हैं सुलतानपुर के स्थानीय उद्योग विभाग में जो गोमती नदी के तट पर स्थित ‘पारिजात वृक्ष‘ देव वृक्ष की, जो कि नगर श्रद्धा के महत्वपूर्ण केन्द्र के रूप में पूजित है। दो दशक पहले 1990 के आास-पास यह वृक्ष ‘पारिजात‘ के रूप में विख्यात हुआ। लोक श्रद्धा मण्डित यह वृक्ष सम्पूर्ण भारत में सम्भवतः चार-पाँच स्थानों पर ही है। बाराबंकी, प्रयागराज और हमीरपुर में भी इसके होने की चर्चाएं हैं। कहां तक सच है यह इस पत्रकार को पूरी जानकारी नहीं है पारिजात वृक्ष का अपना पौराणिक सन्दर्भ है। विष्णु पुराण में वर्णित आख्यान के अनुसार इन्द्र की प्रार्थना पर श्रीकृष्ण ने नरकासुर को मार गिराया और स्वर्ग में देवताओं की माँ अदिति का कुण्डल वापस करने गए। उस समय इन्द्र ने श्रीकृष्ण का सत्कार किया। कल्पवृक्ष के पुष्पों से सुशोभित इन्द्राणी ने सत्यभामा के मानुषी होने से उन्हे श्रृंगार हेतु पारिजात पुष्प नही दिया। इन्द्र के नन्दन कानन में पारिजात लगा हुआ था। सत्यभामा ने शुचि (इन्द्राणी) का दर्प दूर करने के लिए समुद्र मंथन से निकले पारिजात को तीन लोकों की सम्पत्ति मानते हुए श्रीकृष्ण से पारिजात अपने उद्यान में लगाने के लिए ले चलने को कहा। कृष्ण जब पारिजात लेने के लिए गए तो उन्हे शुचि द्वारा प्रेरित इन्द्र के विरोध का सामना करना पड़ा। हालांकि इन्द्र परास्त हो गये सत्यभामा ने शुचि का घमंड दूर करने के बाद पारिजात को स्वर्ग में ही रहने देने को कहा, लेकिन बाद में स्वतः विनम्रभाव से इन्द्र और शुचि ने इसे पृथ्वीलोक में ले जाने का निवेदन किया। श्रीकृष्ण ने निवेदन को स्वीकार किया और पारिजात को द्वारिकापुरी लाकर सत्यभामा के भवन के समीप रखवा दिया।विष्णु पुराण में वर्णित विशेषता के अनुसार पारिजात की निकटता प्राप्त होते ही पूर्वजन्म का वृत्तान्त स्मरण होता है और इसके पुष्पों की सुगन्ध तीन योजन तक पृथ्वी को सुरभित रखती है। विष्णु पुराण में ऐसे अनेक दृष्टान्त हैं जो इस वृक्ष की महत्ता पर प्रकाश डालते हैं।

सुलतानपुर के उद्योग विभाग स्थित पारिजात वृक्ष में सितम्बर के आस-पास पत्तियाँ और फूल आते हैं। इसके औषधीय गुण भी हैं। इसकी छाल मलेरिया के इलाज में लाभदायक है। इसका बीज दाँत दर्द में उपयोगी है। इसकी पत्तियाँ डायरिया एवं डिसेन्ट्री में फायदेमंद हैं। चूंकि यह औषधीय वृक्ष भी है इसलिए इसके आस-पास रहने वालों का शारीरिक स्वास्थ्य भी अच्छा होता है।

लगभग दो दशक पहले संज्ञान में आए इस पारिजात वृक्ष को देखने के लिए पहुँचने वाले लोगों की संख्या दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। ऐसी मान्यता है कि इसके नीचे बैठकर ध्यान लगाने से शान्ति मिलती है और मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं शुक्रवार को और सोमवार को यहां पर उद्यान केंद्र में दर्शन पूजन के लिए लोग आते रहते हैं महिलाएं और पुरुष इसके चारों तरफ धागा लपेटते हैं ऐसी मानता है जिससे उनकी मनोकामनाएं पूर्ण होती है निश्चित दिनों के अतिरिक्त भी लोग यह दर्शन पूजन के लिए दूर-दूर से आते रहते हैं और इस देश वृक्ष के नीचे खड़े होकर के जूता चप्पल उतार कर के इस कल्पवृक्ष पारिजात वृक्ष से निवेदन करते हुए देखे जाते हैं।




Related News

Special

एयरटेल, टाटा स्काई का बड़ा एलान
Root News of India 2019-08-22 15:30:40
नई दिल्ली, 22 अगस्त 2019, (आरएनआई)। जियो गीगाफाइबर की लॉन्चिंग को लेकर सभी ब्रॉडबैंड कंपनियों के कान खड़े हो गए हैं। ग्राहकों को लुभाने के लिए हैथवे, एयरटेल और टाटा स्काई जैसी कंपनियां लगातार नए-नए ऑफर दे रही हैं। इसी कड़ी में टाटा स्काई ब्रॉडबैंड और एयरटेल वी फाइबर ने अपने ग्राहकों के लिए कुछ बड़े एलान किए हैं।
ISRO Chairman says they targeting at launching Small Satellite Launch vehicle by December
Root News of India 2019-08-21 08:05:20
New Delhi, 21 August 2019, (RNI): Indian Space Research Organisation Chairman Dr.K Sivan has said that they are targeting at launching Small Satellite Launch vehicle by December. This new space vehicle of ISRO is designed to inject small satellites weighing up to 500 Kilograms in low earth orbit.
इसरो चीफ ने कहा चंद्रयान-2 की चांद से अब चंद कदम की दूरी बाकी
Root News of India 2019-08-20 12:00:44
नई दिल्‍ली, 20 अगस्त 2019, (आरएनआई)। चंद्रायान-2 के आज सफलतापूर्वक चंद्रमा की कक्षा में प्रवेश करने पर इसरो चीफ ने कहा चांद से अब चंद कदम की दूरी बाकी।
ECoR ORGANISED ZONAL RAIL USER’S CONSULTATIVE COMMITTEE (ZRUCC) MEETING
Laxmikanta Nath 2019-08-19 20:23:36
Bhubaneswar, 20 Aug 2019 (RNI): The meeting of Zonal Rail Users’ Consultative Committee (ZRUCC) was held today at Rail Sadan, Chandrasekharpur, Bhubaneswar under the Chairmanship of Shri Vidya Bhushan, General Manager, East Coast Railway. Many distinguished members of ZRUCC including representatives of different Chambers of Commerce
IAF rescued two persons after they got stuck in River Tawi in Jammu
Root News of India 2019-08-19 14:08:05
Jammu, 19 August 2019, (RNI): Two persons have been rescued today by Indian Air Force after they got stuck in River Tawi in Jammu due to a sudden increase in the water level. As the water level was increasing considerably, the district administration sought the assistance of Indian Air Force to save the lives of two persons.
भगवान महाकाल मंदिर के विकास और विस्तार के लिए शुरू होगी 300 करोड़ की योजना
Root News of India 2019-08-18 06:09:37
भोपाल, 18 अगस्त 2019, (आरएनआई)। मध्यप्रदेश सरकार प्रदेश के उज्जैन स्थित भगवान महाकाल के प्रसिद्ध मंदिर के विकास और विस्तार के लिए 300 करोड़ की योजना शुरू करेगी ताकि यहां आने वाले श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधाएं मुहैया कराई जा सकें। महाकाल मंदिर के विस्तार और व्यवस्थाओं में सुधार के लिए मंत्रिमंडल के सदस्यों की त्रिस्तरीय सदस्य समिति गठित होगी।
दिल्ली-एनसीआर में मौसम हुआ सुहाना
Root News of India 2019-08-17 11:00:32
नई दिल्ली, 17 अगस्त 2019, (आरएनआई)। बीते तीन दिनों से दिल्ली-एनसीआर में रुक- रुककर हो रही बारिश के मौसम सुहावना हो गया है। राजधानी दिल्ली और आसपास के इलाकों में कहीं रिमझिम फुहारें पड़ रही हैं, कहीं तेज बारिश हो रही है।
बिहार : जानिए कोन है महान मैथमेटिशियन 'वशिष्ठ नारायण सिंह'
Rupesh Kumar 2019-08-16 12:47:17
पटना, 16 अगस्त 2019, (आरएनआई)। गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह आपको याद होगी याद क्यों ना गणित के कोई नए सूत्र की खोज कर पूरी दुनिया में तहलका मचाने वाले गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह से जुड़ी हुई है बिहार के मान-सम्मान अभिमान की कहानी. विगत 40 वर्षों से गुमनामी का जीवन व्यतीत कर रहे वशिष्ठ नारायण सिंह को फिर से पुनर्जीवित करने का बीड़ा उठाया है बिहार के कुछ युवाओं ने आप भी जानिए क्या है अभियान और कैसे फिर से जेहन में जिंदा हो रहे हैं वशिष्ठ नारायण सिंह. हाल ही में गणितज्ञ आनंद कुमार के जीवन पर आधारित फिल्म सुपर थर्टी ने पूरी दुनिया में धूम मचा दी है इस फिल्म में बिहार के युवाओं के जीवन का संघर्ष को काफी संजीदगी से दिखाया गया है. आज हम आपको एक ऐसे बिहारी गणितज्ञ से मिलवाने जा रहे हैं जो आज गुमनामी भरी जिंदगी जी रहे है पर उनकी प्रतिभा का लोहा पूरी दुनिया आज भी मानती है.बिहार के गुमनाम एक ऐसी शख्सियत को फिर से पुनर्जीवित करने का प्रयास है शुक्रिया वशिष्ठ जिसे पूरी दुनिया महान गणितज्ञ के रूप में जानती हो सरकारी मिशनरियों के ढुलमुल रवैए का शिकार दुनिया का यह नयाब कोहिनुर एक बार फिर चर्चा में है बिहार के कुछ युवाओं ने इन्हें लेकर शुक्रिया वशिष्ठ नामक अभियान की शुरुआत की है जो बिहार के घर घर में छुपे हुए प्रतिभाओं से निकालेंगे .पटना ग्रीन हाउस ऑफ प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंध निदेशक भूषण कुमार सिंह इस अभियान के प्रणेता बने है। वशिष्ठ नारायण सिंह के भतीजे मुकेश कुमार सिंह इस अभियान के संयोजक है. शुक्रिया विशिष्ट के तहत 50 मेधावी बच्चों का बिहार से चयन कर उनके लिए निशुल्क आवास भोजन व कोचिंग की व्यवस्था की जाएगी यहां इंजीनियरिंग और मेडिकल की तैयारी कराई जाएगी. अपाचे आशियाना नगर राम नगरी मोर अभियंता नगर में संस्थान की नींव रखी गई है जहां आज इसकी विधिवत पूजा हुई जिसमें बतौर अतिथि अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा बिहार प्रदेश के अध्यक्ष डॉ विजय राज सिंह बनियापुर विधानसभा से कांग्रेस के पूर्व प्रत्याशी शैलेश कुमार सिंह पत्रकार अनूप नारायण सिंह समाजसेवी रजनीश राजपूत समेत कई गणमान्य जन उपस्थित थे। एक शख्स जिसे दुनिया ने भूला दिया खुद के होने की निशानी तलाश रहा है। मैं बात कर रहा हूं, महान मैथमैटिशन डॉ वशिष्ठ नारायण सिंह की जो आज कहां है इसकी खुद उन्हें भी खबर नहीं है. 40 साल से भी ज्यादा समय से ये महान मैथमैटिशन मानसिक बीमारी सिज़ोफ्रेनिया से पीड़ित हैं. मैथ के फॉर्मूलों को हल करते-करते वशिष्ठ नारायण को पता ही नहीं चला कि कब वो बीमारी की इक्वेशन की गिरफ्त में आ गए। बेहद चुप रहने वाले वशिष्ठ नारायण ज़रूरत पड़ने पर ही अल्फाज़ों की तिजोरी को खोलते हैं। आजकल पटना के गांधी मैदान के सामने कहीं रहते हैं, सरकार को तो उनका पता नहीं मालूम, लेकिन कुछ दोस्त हैं, जो आज भी हाल-चाल लेने पहुंच जाते हैं.
केजरीवाल का महिलाओं को तोहफा, भैया दूज से DTC बसों में कर सकेंगी मुफ्त सफ़र
Root News of India 2019-08-15 11:31:42
नई दिल्ली, 15 अगस्त 2019, (आरएनआई)। दिल्ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने स्‍वतंत्रता दिवस और रक्षाबंधन के मौके पर दिल्‍ली की महिलाओं को बड़ा तोहफा दिया है. केजरीवाल ने ऐलान किया कि 29 अक्‍तूबर को भैया दूज के दिन से दिल्‍ली की महिलाओं के लिए डीटीसी बसों में सफर मुफ्त हो जाएगा. उन्‍होंने कहा कि मेट्रो में भी महिलाओं के लिए जल्‍द ही फ्री सफर करेंगे.
दिल्ली- यूपी में भारी बारिश की आशंका
Root News of India 2019-08-14 09:03:13
नई दिल्ली, 14 अगस्त 2019, (आरएनआई)। भारतीय मौसम विभाग ने दिल्ली और उत्तरप्रदेश में भारी बारिश की आशंका जताई है, वहीँ उत्तराखंड में भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है।
पीएम मोदी तीसरी बार अमेरिका में भारतीयों को करेंगे संबोधित
Root News of India 2019-08-13 09:06:01
नई दिल्ली, 13 अगस्त 2019, (आरएनआई)। भारतीय अमेरिकी समुदाय के सम्मेलन ‘हाउडी, मोदी’ में शिरकत करने के लिए करीब 40 हजार लोग अभी तक पंजीकरण करा चुके हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 22 सितम्बर को इस सम्मेलन में भारतीय समुदाय को संबोधित करेंगे। मोदी संयुक्त राष्ट्र महासभा के सत्र में हिस्सा लेने के लिए अमेरिका आ रहे हैं।
योगी सरकार का फैसला, बकरीद और रक्षाबंधन पर मिलेगी 24 घंटे बिजली
Root News of India 2019-08-12 09:14:18
लखनऊ, 12 अगस्त 2019, (आरएनआई)। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बकरीद, रक्षाबंधन और स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लोगों को 24 घंटे बिजली देने का फैसला किया है. इसी क्रम में उत्तर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं कि त्योहारों पर प्रदेश के किसी भी जिले में अनावश्यक रूप से बिजली की कटौती न की जाए. प्रदेश की योगी सरकार की कोशिश है कि साल के अंत तक पूरे उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में 24 घंटे बिजली का इंतजाम किया जाए और इसे लेकर सरकार तमाम कदम भी उठा रही है.
व्हाट्सएप पर है हैकर्स की नजर
Root News of India 2019-08-10 08:00:09
नई दिल्ली, 10 अगस्त 2019, (आरएनआई)। दुनियाभर में करोड़ों लोगों की पसंद बना व्हाट्सएप ऐप में अब बड़ी खामी सामने आई है। वॉट्सऐप की इस गड़बड़ी से यूजर्स बड़ी मुश्किल में पड़ सकते हैं। जानी-मानी इजरायली साइबर सिक्यॉरिटी फर्म चेकपॉइंट ने कहा कि वॉट्सऐप की इस गड़बड़ी से गलत इन्फर्मेशन और फेक न्यूज को फैलाने के साथ ही ऑनलाइन स्कैम में भी हैकर्स को काफी मदद मिल सकती है। वॉट्सऐप में आई इस गड़बड़ी के कारण दुनियाभर के यूजर्स की चिंता बढ़ गई है।
भारत में भी दौड़ेगी पानी के नीचे ट्रेन
Root News of India 2019-08-09 10:04:12
नई दिल्ली, 09 अगस्त 2019, (आरएनआई)। जमीन के नीचे सुरंग में मेट्रो को दौड़ते तो आपने देखा होगा, लेकिन क्या कभी पानी के नीचे किसी भारतीय ट्रेन को दौड़ते देखा है? जी हां, अब देश में जल्दी ही पानी के नीचे भी ट्रेन चलेगी। इसका काम लगभग पूरा हो चुका है।
जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद अगले 7 दिन सीमा और घाटी के लिए बेहद अहम
Root News of India 2019-08-08 08:00:15
श्रीनगर, 08 अगस्त 2019, (आरएनआई)। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से भारत और पाकिस्तान के बीच तल्खियां बढ़ गई हैं. अगला एक हफ्ता घाटी और देश के लिए काफी संवेदनशील बताया जा रहा है. अगले एक हफ्ते में दोनों देशों में कुछ न कुछ ऐसा होने वाला है जिसका सीधा असर कश्मीर पर पड़ेगा. इस हफ्ते घाटी के लोगों का मूड भी जानने को मिलेगा. कश्मीर घाटी के तेजी से बदल रहे हालात पर केंद्र सरकार लगातार नजर बनाए हुए है और सुरक्षा बलों को हर वक्त तैयार रहने की इजाजत दी गई है.
बिहार : वरिष्ठ पत्रकार अनूप नारायण सिंह होंगे खोजी पत्रकारिता सम्मान 2019 से सम्मानित
Rupesh Kumar 2019-08-07 12:25:27
पटना, 07 अगस्त 2019, (आरएनआई)। वरिष्ठ पत्रकार व सारण प्रमंडल के शान अनुजतुल्य अनूप नारायण सिंह को 18 अगस्त को छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में पत्रकारिता के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए खोजी पत्रकारिता सम्मान 2019 सम्मानित किया जाएगा. 2001 से पटना से प्रकाशित दैनिक समाचार पत्र आज से पत्रकारिता करियर की शुरुआत करने वाले अनूप समकालीन तापमान दैनिक जागरण ईटीवी बिहार बिहारी खबर नई दुनिया इंडिया टुडे ग्रुप के लिए काम कर चुके है फिलहाल ये भोजपुरी इंटरटेनमेंट चैनल बिग गंगा से जुड़े है. छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस समाचार समूह के संपादक राजेश छत्री ने इस आशय की जानकारी दी है, कि 2019 के खोजी पत्रकारिता सम्मान के लिए अनूप नारायण सिंह का चयन किया गया है, ये छपरा जिले के मशरख प्रखंड के अरना गांव के रहने वाले हैं. अनूप नारायण सिंह को यह प्रतिष्ठित सम्मान मिलने पर अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा फ्रेंडस आफ बिहारी सारण हेल्पलाइन ने बधाई दी है.
ई-कॉमर्स कंपनियों को 14 दिन में देना होगा रिफंड
Root News of India 2019-08-06 12:26:37
नई दिल्ली, 06 अगस्त 2019, (आरएनआई)। सरकार ने ई-कॉमर्स कंपनियों के लिए दिशा-निर्देशों का मसौदा जारी किया। उपभोक्ताओं के हितों के संरक्षण के लिए यह कदम उठाया गया है। इसके तहत ऑनलाइन शॉपिंग कंपनियों को वस्तुओं और सेवाओं की आपूर्ति करने वाले विक्रेताओं का ब्योरा अपनी वेबसाइट पर दर्शाना होगा और उपभोक्ताओं की शिकायतों के निपटारे की पूरी प्रक्रिया स्पष्ट करनी होगी। इसके साथ ही इसमें रिफंड के आवेदन को 14 दिन में पूरा करने का नियम भी शामिल है।
सीसीडी के संस्थापक वीजी सिद्धार्थ ने 658 करोड़ रुपये की बेहिसाब संपत्ति स्वीकारी: आयकर विभाग
Root News of India 2019-08-04 08:05:09
नई दिल्ली, 04 अगस्त 2019, (आरएनआई)। कैफे कॉफी डे (सीसीडी) समूह के पूर्व प्रमुख वीजी सिद्धार्थ ने आयकर विभाग (आईटी) को दिए बयान में 23 सितंबर, 2017 को "स्वेच्छा से" 658 करोड़ रुपये से अधिक की "बेहिसाब" आय को स्वीकार किया था, और उदारता की मांग की थी।
Airtel बंद कर रही है अपनी 3G सर्विस
Root News of India 2019-08-03 08:28:34
नई दिल्ली, 03 अगस्त 2019, (आरएनआई)। प्रमुख टेलिकॉम कंपनी भारती एयरटेल अगले साल मार्च तक पूरी तरह अपने 3G नेटवर्क सेवा बंद कर सकती है. कंपनी ने बताया कि इसकी शुरुआत कोलकाता सेवा क्षेत्र से पहले ही की जा चुकी है. कंपनी ने कहा कि वह हर यूज़र के हिसाब से औसत आय पर ध्यान रख रही है लेकिन साथ ही इस बात पर बल दिया कि उद्योग को व्यवहारिक बनाये रखने के लिए लंबी अवधि में शुल्क बढ़ाये जाने की ज़रूरत है.
Maharashtra govt decides to waive off exam fees
Root News of India 2019-08-02 09:12:39
Mumbai, 02 August 2019, (RNI): Maharashtra Government has decided to waive off the entire exam fees, including practical exam for class ten and twelve students hailing from drought-affected districts of the state.

Top Stories

Home | Privacy Policy | Terms & Condition | Why RNI?
Positive SSL