HIGHLIGHTS


सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला, अयोध्या में मंदिर भी बनेगा और मस्जिद भी

Vishnu Kumar Agrawal 2019-11-09 12:00:00    NATIONAL 55376
सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला, अयोध्या में मंदिर भी बनेगा और मस्जिद भी
नई दिल्ली, 9 नवंबर 2019, (आरएनआई )। अयोध्या भूमि विवाद को लेकर पांच जजों की पीठ ने शनिवार को ऐतिहासिक फैसला सुनाया. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि सुन्नी वक्फ बोर्ड विवादित ढांचे पर अपना एक्सक्लूसिव राइट साबित नहीं कर पाया. कोर्ट ने विवादित ढांचे की जमीन हिंदुओं को देने का फैसला सुनाया, तो मुसलमानों को दूसरी जगह जमीन देने के लिए कहा है. कोर्ट ने साथ ही कहा कि इसके लिए केंद्र सरकार तीन महीने में योजना बनाए. कोर्ट ने कहा कि सुन्नी वक्फ बोर्ड को पांच एकड़ जमीन मिलेगी. फिलहाल अधिकृत जगह का कब्जा रिसीवर के पास रहेगा. पांचों जजों की सहमति से फैसला सुनाया गया है. फैसला पढ़ने के दौरान पीठ ने कहा कि ASI रिपोर्ट के मुताबिक नीचे मंदिर था. CJI ने कहा कि ASI ने भी पीठ के सामने विवादित जमीन पर पहले मंदिर होने के सबूत पेश किए हैं. CJI ने कहा कि हिंदू अयोध्या को राम जन्मस्थल मानते हैं. हालांकि, ASI यह नहीं बता पाया कि मंदिर गिराकर मस्जिद बनाई गई थी. मुस्लिम गवाहों ने भी माना कि वहां दोनों ही पक्ष पूजा करते थे. रंजन गोगोई ने कहा कि ASI की रिपोर्ट के मुताबिक खाली जमीन पर मस्जिद नहीं बनी थी. साथ ही सबूत पेश किए हैं कि हिंदू बाहरी आहते में पूजा करते थे. साथ ही CJI ने कहा कि सूट -5 इतिहास के आधार पर है जिसमें यात्रा का विवरण है. सूट 5 में सीता रसोई और सिंह द्वार का जिक्र है. सुन्नी वक्फ बोर्ड के लिए शांतिपूर्ण कब्जा दिखाना असंभव है. CJI ने कहा कि 1856-57 से पहले आंतरिक अहाते में हिंदुओ पर कोई रोक नहीं थी. मुसलमानों का बाहरी आहते पर अधिकार नहीं रहा.

जस्टिस रंजन गोगोई की इस बेंच में उनके अलावा जस्टिस शरद अरविंद बोबडे, जस्टिस अशोक भूषण, जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और जस्टिस एस अब्दुल नजीर शामिल हैं. चीफ जस्टिस रंजन गोगोई 17 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं. यदि 17 नवंबर के पहले पुनर्विचार याचिका आती है तो इसे चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की बेंच ही सुनेगी. लेकिन यदि यह पिटीशन इसके बाद आई तो अगले चीफ जस्टिस तय करेंगे कि रिव्यू पिटीशन पर सुनवाई के लिए मौजूदा पीठ में जस्टिस गोगोई की जगह पांचवा जज कौन होगा. सुप्रीम कोर्ट यह भी तय करेगा कि रिव्यू पिटीशन पर सुनवाई की जाए या नहीं की जाए.

सवा सौ साल पहले बाबरी मस्जिद के दरवाज़े के पास बैरागियों ने राम चबूतरा बनाया था. साल1885 में महंत रघुबर दास की चबूतरे पर मंदिर बनाने की मांग, अदालत से ख़ारिज. साल 1949 में प्रदेश सरकार ने राम चबूतरे पर मंदिर बनाने की कोशिश की, कोशिश नाकाम. साल1949 में ही 22-23 दिसंबर को ये संपत्ति कुर्क, वहां रिसीवर बिठा दिया गया. इसके बाद साल 1950 में 16 जनवरी को गोपाल दास विशारद कोर्ट गए, सिर्फ़ पुजारी को पूजा की इजाज़त. साल 1959 में निर्मोही अखाड़े ने अदालत में अपना दावा पेश किया. साल1961 में सुन्नी सेन्ट्रल वक़्फ़ बोर्ड अदालत पहुंचा, मस्जिद का दावा पेश किया. साल 1986 में 1 फ़रवरी को फ़ैज़ाबाद ज़िला जज ने ताला खुलवाया, सबको पूजा की इजाज़त दी. साल 1986 में कोर्ट के इस फ़ैसले के ख़िलाफ़ बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी बनाने का फ़ैसला. 1989 में वीएचपी के देवकीनंजन अग्रवाल ने रामलला की तरफ़ से मंदिर का केस किया. साल 1989 के नवंबर में मस्जिद से थोड़ी दूर पर राम मंदिर का शिलान्यास. साल 1990 में 25 सितंबर से सोमनाथ से अयोध्या तक की रथ यात्रा, 23 अक्टूबर को लालकृष्ण आडवाणी गिरफ़्तार. इसके नतीजे में गुजरात, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश और आंध्रप्रदेश में दंगे भड़के.

इस मामले में साल 1990 में कुछ कार सेवकों ने मस्जिद की गुंबद तोड़ी, भगवा फहराया, दंगे फिर भड़के. साल 1991 के जून महीने में लोकसभा चुनाव हुए और यूपी में बीजेपी की सरकार बनी. साल 1992 के नवंबर में कल्याण सिंह का अदालत में मस्जिद की हिफ़ाज़त का हलफ़नामा दिया. साल 1992 के 6 दिसंबर को लाखों कारसेवकों ने बाबरी मस्जिद गिरा दी. साल 2003 में हाई कोर्ट ने विवादित स्थल की खुदाई कराई ताकि दावों का सच पता लगे.साल 2010 में 30 सितंबर को इलाहाबाद कोर्ट के लखनऊ खंडपीठ से विवादित ज़मीन का बंटवारा रामलला विराजमान, निर्मोही अखाड़ा और सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड को बराबर ज़मीन देना का फ़ैसला. इलाहाबाद कोर्ट के लखनऊ खंडपीठ के फ़ैसले के ख़िलाफ़ सभी पक्ष सुप्रीम कोर्ट गए.

इसी साल 8 मार्च को कोर्ट ने इस मामले में तीन सदस्यीय मध्यस्थता समिति बनाई थी. मध्यस्थता समिति में अध्यक्ष जस्टिस ख़लीफ़ुल्ला, श्री श्री रविशंकर और वरिष्ठ वकील श्रीराम पंचू शामिल. मध्यस्थता समिति ने अपनी अंतिम रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट में जमा कर अपनी असमर्थता जताई. कई पक्षों ने मध्यस्थता समिति से दोबारा बातचीत करने का आग्रह किया सुप्रीम कोर्ट से पक्षकारों को आपस में समझौता और मध्यस्थता समिति से बातचीत का विकल्प दिया. भारत के मुख्य न्यायाधीश ने पहले 18 अक्टूबर तक सुनवाई पूरी करने की उम्मीद जताई थी. इसके बाद प्रधान न्यायाधीश ने कहा कि अब 17 अक्टूबर तक ही सभी पक्ष अपनी बहस पूरी करें.

अयोध्या में सुरक्षा और कड़ी की गई है. राम जन्मभूमि मंदिर की तरफ जाने वाले सारे रास्ते बंद कर दिए गए हैं. अब वहां से सिर्फ़ पैदल गुज़रा जा सकेगा. सीएम योगी आदित्यनाथ ने हर जिले में एक कंट्रोल रूम बनाने और लखनऊ और अयोध्या में दो हेलीकॉप्टर तैयार रखने के आदेश दिए हैं. पूरे यूपी में पुलिस दंगों से निपटने के लिए रिहर्सल कर रही है. टेंपरेरी जेलें बना दी गई हैं. वहां जरूरत पड़ने पर गिरफ्तार लोगों को रखा जा सकेगा.अयोध्या में नाकेबंदी और सख़्त हो गई है. राम जन्मभूमि मंदिर जाने वाले सारे रास्ते आज गाड़ियों के लिए सील कर दिए गए. झगड़े वाली जगह के चारों तरफ 67 एकड़ जमीन पहले से केन्द्र सरकार के कब्ज़े और सेंट्रल फोर्सस की निगरानी में हैं. अब उसकी तरफ जाने वाले रास्तों को गाड़ियों के लिए पूरी तरह बंद कर दिया गया है. इसके साथ पूरे अयोध्या में पुलिस जनता के बीच जाकर उन्हें समझाने और हिफ़ाज़त का भरोसा दिलाने की कोशिश कर रही है.

अयोध्या के सारे प्रमुख मंदिरों के आसपास बड़े पैमाने पर सिक्‍योरिटी लगा दी गई. जिन जगहों पर सुरक्षा बढ़ाई गई है उनमें राम जन्मभूमि कॉम्प्लेक्स, हनुमानगढ़ी, दशरथ महल, कनक भवन, मंदिर निर्माण कार्यशाला राम की पैड़ी, कारसेवक पुरम, सरयू घाट वगैरह शामिल हैं. लेकिन प्रशासन का कहना है कि वहां सुरक्षा पूरी रहेगी लेकिन ज़िंदगी अपनी रफ़्तार से चलेगी. स्कूल, कॉलेज, बाजार सब खुलेंगे और कोई पाबंदी नहीं रहेगी.

इस मामले में फैसला सुप्रीम कोर्ट की संवैधानिक पीठ ने सुनाया है. इस पीठ में प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई के साथ जस्टिस एस ए बोबडे, जस्टिस धनन्जय वाई चन्द्रचूड़ , जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस एस अब्दुल नजीर शामिल हैं. सूत्रों के अनुसार CJI रंजन गोगोई की सुरक्षा को Z श्रेणी का कर दिया गया है.

इस फैसले से पहले पीएम मोदी ने देशवासियों से फैसले के बाद देश में शांति बनाए रखने की अपील की थी. उन्होंने शुक्रवार की शाम एक के बाद एक किए कई ट्वीट में लिखा कि देश की न्यायपालिका के मान-सम्मान को सर्वोपरि रखते हुए समाज के सभी पक्षों ने, सामाजिक-सांस्कृतिक संगठनों ने, सभी पक्षकारों ने बीते दिनों सौहार्दपूर्ण और सकारात्मक वातावरण बनाने के लिए जो प्रयास किए, वे स्वागत योग्य हैं. कोर्ट के निर्णय के बाद भी हम सबको मिलकर सौहार्द बनाए रखना है. एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा कि अयोध्या पर कल सुप्रीम कोर्ट का निर्णय आ रहा है. पिछले कुछ महीनों से सुप्रीम कोर्ट में निरंतर इस विषय पर सुनवाई हो रही थी, पूरा देश उत्सुकता से देख रहा था. इस दौरान समाज के सभी वर्गों की तरफ से सद्भावना का वातावरण बनाए रखने के लिए किए गए प्रयास बहुत सराहनीय हैं.






Related News

National

एससी-एसटी आरक्षण : केंद्र की याचिका पर 28 जनवरी को सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट
Root News of India 2019-12-10 16:19:29
नई दिल्ली, 10 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। सरकारी नौकरियों में एससी और एसटी को पदोन्नति के लिए कोटा देने से संबंधित याचिका पर सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट ने 28 जनवरी, 2020 का दिन तय किया है।
उन्नाव दुष्कर्म : कुलदीप सेंगर मामले में 16 दिसंबर को फैसला सुनाएगी अदालत
Root News of India 2019-12-10 16:19:09
नई दिल्ली, 10 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। दिल्ली की अदालत ने उन्नाव दुष्कर्म मामले में मंगलवार को फैसला सुरक्षित रख लिया है। अदालत 16 दिसंबर को फैसला सुनाएगी। भाजपा के पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर इस मामले में प्रमुख आरोपी हैं।
RISAT-2BR1 बनेगा अंतरिक्ष में भारत की दूसरी खुफिया आंख
Root News of India 2019-12-10 16:19:05
नई दिल्‍ली, 10 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। भारत बुधवार को आसमान में अपने एक नए उपग्रह रीसैट-2बीआर1 को लॉन्‍च करने वाला है। यह उपग्रह भारतीय सीमाओं की सुरक्षा के लिहाज से बेहद खास है। यही वजह है कि इसको भारत का खुफिया उपग्रह कहा जा रहा है। इस उपग्रह की एक नहीं बल्कि कई खासियत हैं।
नागरिकता संशोधन बिल का पूर्वोत्तर में भारी विरोध
Root News of India 2019-12-10 10:16:05
नई दिल्ली, 10 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। लोकसभा में बीते सोमवार को नागरिकता संशोधन बिल 2019 हंगामे के बीच लोकसभा में पास हो गया है। वहीं बिल को लेकर उत्तरपूर्वी राज्यों असम, मणिपुर और त्रिपुरा में भारी विरोध प्रदर्शन हो रहा है।
बीएचयू: फिरोज खान के इस्तीफे के बाद माने छात्र, 35 दिन बाद छात्रों का धरना खत्म
Root News of India 2019-12-10 10:15:59
वाराणसी, 10 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। डॉ. फिरोज खान ने बीएचयू के संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय (एसवीडीवी) से इस्तीफा दे दिया है। इसके बाद वहीं छात्रों ने धरना-प्रदर्शन भी खत्म कर दिया है। यह छात्र पिछले 35 दिनों से डॉ. फिरोज खान का एसवीडीवी में नियुक्ति का विरोध कर रहे थे।
महिलाओं के खिलाफ अत्याचार चिंताजनक और शर्मनाक: वेंकैया नायडू
Root News of India 2019-12-10 10:15:41
नई दिल्ली, 10 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने महिलाओं और लड़कियों के खिलाफ हालिया अत्याचारों को 'चिंताजनक और शर्मनाक बताते हुए सोमवार को कहा कि समस्या से निपटने के लिए सिर्फ विधेयक ले आना काफी नहीं है, सामाजिक बुराइयों को खत्म करने के लिए राजनीतिक इच्छा शक्ति की जरूरत है। उन्होंने कहा कि लड़कियां जब बाहर जाती हैं तो आमतौर पर उन्हें सतर्क रहने और सूरज ढलने से पहले वापस आने के लिए कहा जाता है, लेकिन वक्त आ गया है कि हम अपने लड़कों को चेताएं।
ममता बनर्जी ने कहा बंगाल में नहीं लागू हो सकते एनआरसी और सिटिजनशिप बिल
Root News of India 2019-12-09 16:05:26
नई दिल्ली, 9 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि एनआरसी और नागरिकता संशोधन विधेयक को राज्य में लागू नहीं किया जाएगा।
JNU: छात्रों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज, राष्ट्रपति भवन की ओर कर रहे थे मार्च
Root News of India 2019-12-09 16:05:19
नई दिल्ली, 9 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के फीस वृद्धि मामले को लेकर एक बार फिर से बवाल शुरू हो गया है। सोमवार को जेएनयू के छात्र और शिक्षकों ने फीस वृद्धि को लेकर संसद तक मार्च निकालने की अपील की, लेकिन एक बार फिर प्रशासन इस मामले में सख्त नजर आ रहा है।
भ्रष्टाचार निरोध दिवसः आधार कार्ड, डिजिटलाइजेशन से देश में 10 फीसदी कम हुई रिश्वतखोरी
Root News of India 2019-12-09 14:28:40
नई दिल्ली, 9 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। हर साल नौ दिसंबर को अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार निरोध दिवस मनाया जाता है। ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल द्वारा किए गए एक हालिया सर्वे के अनुसार वित्त वर्ष 2019 में देश के 20 राज्यों में भ्रष्टाचार 10 फीसदी कम हुआ है। इंडिया करप्शन सर्वे की रिपोर्ट के अनुसार, सरकारी कार्यों में रिश्वतखोरी पर कुछ हद तक लगाम लग गई है।
'पानीपत' के विरोध में थियेटरों में तोड़फोड़, सीएम गहलोत बोले- किसी की भावना आहत नहीं होनी चाहिए
Root News of India 2019-12-09 13:04:16
जयपुर, 9 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। फिल्म पदमावत की तर्ज पर अब पानीपत को लेकर भी विरोध बढ़ता जा रहा है। प्रदर्शनकारियों ने आज राजस्थान के जयपुर के एक थिएटर में तोड़फोड़ कर दी। इनका कहना है कि फिल्म में महाराज सूरजमल का गलत चित्रण किया गया है। इससे जाटों की भावनाएं आहत हुई हैं।
ममता बनर्जी ने कहा पं. बंगाल सबसे कम भ्रष्ट प्रदेश
Root News of India 2019-12-09 13:04:07
कोलकाता, 9 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस के मौके पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि पश्चिम बंगाल देश के सबसे कम भ्रष्ट राज्यों में से एक है। गौरतलब है संयुक्त राष्ट्र ने 9 दिसंबर को अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस के रूप में मनाए जाने के लिए निर्धारित किया था।
योगी सरकार का बड़ा फैसला, दुष्कर्म के मामलों की सुनवाई के लिए बनेंगे 218 फास्ट ट्रैक कोर्ट
Root News of India 2019-12-09 12:02:52
लखनऊ, 9 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। यूपी सरकार ने हैदराबाद और फिर उन्नाव दुष्कर्म कांड की भयावह घटनाओं के बाद दुष्कर्म पीड़िताओं को जल्द न्याय दिलाने के लिए 218 नए फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाने को मंजूरी दे दी है।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में आयोजित प्रदेश कैबिनेट की बैठक में इस प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। उत्तर प्रदेश सरकार ने यह निर्णय महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराध के मामलों को देखते हुए लिया है।
यूपीपीसीएल के पीएफ घोटाले में बड़ी कार्रवाई, सात लोगों को किया गया गिरफ्तार
Root News of India 2019-12-06 19:33:20
लखनऊ, 6 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। यूपीपीसीएल में हुए पीएफ घोटाले में ईओडब्ल्यू ने बड़ी कार्रवाई करते हुए दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड (डीएचएफएल) के तत्कालीन क्षेत्रीय प्रबंधक अमित प्रकाश समेत सात लोगों को गिरफ्तार किया है।
अयोध्या मामला: सुप्रीम कोर्ट में आठ पुनर्विचार याचिकाएं दायर, मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड का समर्थन
Root News of India 2019-12-06 19:33:15
नई दिल्ली, 6 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। अयोध्या मामले में शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में मुस्लिम पक्ष की ओर से आठ पुनर्विचार याचिकाएं दायर की गई हैं। इन याचिकाओं में कहा गया कि नौ नवंबर के पांच सदस्यीय संविधान पीठ के फैसले में कई गलतियां हैं और कई विरोधाभास हैं लिहाजा उस फैसले पर पुनर्विचार करने की दरकार है। पुनर्विचार याचिकाएं दायर करने की मियाद खत्म होने के आखिरी दिन यह पिटीशन सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील राजीव धवन के नेतृत्व में दाखिल की गई।
सूडान घटना में छह भारतीयों की मौत, 33 सुरक्षित, विदेश मंत्रालय ने की पुष्टि
Root News of India 2019-12-06 16:24:09
नई दिल्ली, 6 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। सूडान में चीनी मिट्टी के कारखाने में मंगलवार को एलीपीजी टैंकर में विस्फोट होने से 23 लोगों की मौत हो गई थी और 130 से अधिक लोग घायल हो गए थे। सूडान में भारतीय दूतावास ने मंगलवार को हुई घटना में भारतीयों के मारे जाने की सूचना दी थी। हालांकि उसने मृतकों की संख्या के बारे में नहीं बताया था।
तेलंगाना के हैदराबाद में महिला डॉक्टर के साथ रेप और मर्डर करने वाले सभी 4 आरोपियों का एनकाउंटर
Root News of India 2019-12-06 16:24:05
हैदराबाद, 6 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। हैदराबाद में पशु चिकित्सक के साथ हैवानियत करने वाले चारों आरोपियों को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया है। तेलंगाना पुलिस के अनुसार आरोपियों को राष्ट्रीय राजमार्ग-44 पर क्राइम सीन रीकंस्ट्रक्ट करने के लिए ले जाया गया था। इस दौरान आरोपियों ने पुलिस हिरासत से भागने की कोशिश की। इसके बाद पुलिस ने उनपर गोलियां चला दीं। इस मुठभेड़ में चारों आरोपियों की मौके पर ही मौत हो गई।
उन्नाव पीड़िता की भावुक अपील, 'मैं मरना नहीं चाहती बस मेरी ये हालत करने वाला कोई जिंदा न रहे'
Root News of India 2019-12-06 15:11:20
नई दिल्ली, 6 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। नब्बे फीसदी जली हुई उन्नाव की रेप पीड़िता की आवाज ढंग से नहीं निकल रही थी। जलने की वजह से उसके गले की श्वांस और आहार नली पूरी तरह से सूज चुकी थीं। दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में जब उन्नाव की जलाई गई रेप पीड़िता बृहस्पतिवार की रात नौ बजे पहुंची तो वह डॉक्टरों से कुछ कहना चाह रही थी। पीड़िता के पास में खड़े अस्पताल के बर्न यूनिट के हेड डॉ. शलभ और चिकित्सा अधीक्षक डॉ. सुनील गुप्ता ने बताया कि उसके मुंह से निकली हुई बातें इतनी ही समझ में आ रहीं थी कि वह जानना चाह रही थी कि वह बच जाएगी न। डॉक्टरों ने बताया कि उसने इशारों में और हल्की आवाज में कहा कि वह मरना नहीं चाहती है। उसने यह भी कहा कि उसके साथ ऐसा करने वाला कोई बचे न। थोड़ी बहुत बात करते करते वह पूरी तरह से निढाल हो गई। पीड़िता को तुरंत वेंटीलेटर पर रखा गया क्योंकि नब्बे फीसदी तक जलने से उसके शरीर में बहुत लिक्विड बह चुका था। इलाज करने वाले डॉक्टरों ने बताया कि फिलहाल उसके अंग काम कर रहे हैं लेकिन हालत बहुत ही गंभीर बनी हुई है। रविवार तक पीड़िता को सघन आब्जर्वेशन की जरूरत है।
राष्ट्रपति कोविंद का बड़ा बयान, पॉक्सो एक्ट में दया याचिका का प्रावधान हो खत्म
Root News of India 2019-12-06 15:11:10
नई दिल्ली, 6 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने महिला सुरक्षा को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। उनका कहना है कि पॉक्सो एक्ट में सजायाफ्ता को माफी नहीं मिलनी चाहिए। ऐसे मामलों में दया याचिका का प्रावधान खत्म हो।
90 फीसदी तक जली उन्नाव रेप पीड़िता, हालत बेहद नाजुक
Root News of India 2019-12-05 16:43:01
लखनऊ/उन्नाव, 5 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। यूपी के उन्नाव में आग के हवाले की गई बलात्कार पीड़िता को लखनऊ के श्यामा प्रसाद मुखर्जी (सिविल) अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां डॉक्टरों ने बताया है कि वह 90 फीसदी तक जल गई है और उसकी हालत बहुत गंभीर है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पीड़िता का इलाज सरकारी खर्च पर कराए जाने और आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का वादा किया है।
जम्मू-कश्मीरः 73वें, 74वें संशोधन को प्रभावी तौर पर लागू करने को सरकार वचनबद्ध- उपराज्यपाल मुर्मू
Root News of India 2019-12-05 15:05:10
जम्मू, 5 दिसंबर 2019, (आरएनआई )। उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू ने कहा है कि जम्मू कश्मीर में पंचायती राज संस्थानों को मजबूत करना सरकार की प्राथमिकता है। 73वें और 74वें संशोधन को भी प्रभावी तौर पर लागू किया जाएगा। बारामूला जिले में उड़ी के गांव सलामाबाद में पब्लिक आउटरीच कैंप में मुर्मू ने कहा कि जमीनी स्तर पर लोकतांत्रिक संस्थान पंचायतों को वित्तीय सहायता उपलब्ध करवाकर मजबूत किया जाएगा।

Top Stories

Home | Privacy Policy | Terms & Condition | Why RNI?
Positive SSL