HIGHLIGHTS


곽진환 총재 "홍콩의 오늘 날 성과는 쉽지 않게 이룩한 것"

Root News of India 2019-09-17 13:07:25    INTERNATIONAL 7213
곽진환 총재
올해는 중화인민공화국 창건 70주년이 되는 해입니다. 공화국과 동갑인 곽영동(霍英東)그룹 곽진환(霍震寰) 행정총재가 조국이 괄목할만한 발전성과를 이룩하는데서 홍콩마카오 인사들도 독특한 역할을 발휘했다고 말했습니다.

그는 홍콩의 오늘 날의 성과는 쉽지 않게 이룩한 것이며 국가는 홍콩을 위해 많은 기회를 제공했다며 홍콩의 한 세대 또 한 세대가 보다 나은 삶을 영위할 수 있기를 기대한다고 밝혔습니다.

1949년 생인 곽진환은 작고한 전 전국정협 부주석 곽영동의 아들이며 홍콩의 저명한 기업가이자 사회활동가입니다.

개혁개방초기 곽영동을 포함한 홍콩과 마카오 동포들이 가장 먼저 내지에 와 투자 창업했습니다. 곽진환은 1970년대 아버지를 따라 내지에 와 첫 중외합자호텔인 중산온천호텔을 세웠습니다.

국가의 개혁개방 과정에 곽영동은 가족들을 이끌고 내지에서의 투자규모를 날로 확대해 중국의 첫 5성급 호텔인 광주의 백조호텔, 베이징호텔 귀빈루 등을 건설해 뚜렷한 기여를 했습니다.

곽진환도 아버지의 뒤를 이어 조국을 사랑하고 사회에 기여하는 정신이 있습니다. 그는 지금도 홍콩배화교육기금회 상무위원회 주석 직을 담임하고 있고 홍콩중화총상회의 영원한 명예회장이기도 합니다. 그는 중화총상회는 홍콩에서 5성홍기를 가장 먼저 게양한 상회라고 소개하며 중화총상회는 시종 조국과 한마음 한뜻이라고 밝혔습니다.

홍콩의 젊은이들이 직면한 문제에 언급해 곽진환 총재는 오늘날 홍콩이 이룩한 성과는 쉽지 않게 이룩한 것이라며 한 세대 또 한 세대가 보나 나은 삶을 영위할수 있기를 희망했습니다.

그는 국가가 광동-홍콩-마카오-대만구 건설과 '일대일로' 구상, 심천 선행 시범구 건설에 박차를 가하는 좋은 기회를 다잡고 내지와의 협력을 강화한다면 홍콩의 발전 전망은 보다 밝을 것이라고 덧붙였습니다.



출처:cri








Related News

International

भारत में बहुत तेजी से नहीं फैल रहा कोरोना लेकिन जोखिम बरकरार : डब्ल्यूएचओ
Root News of India 2020-06-06 09:00:47
जिनेवा, 6 जून 2020, (आरएनआई)। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने शुक्रवार को कहा कि भारत में कोरोना वायरस मामलों की संख्या हर तीन सप्ताह में दोगुनी हो रही है लेकिन महामारी दक्षिण एशिया क्षेत्र में तेजी से नहीं फैल रही है लेकिन इसका जोखिम बना हुआ है। ऐसे में सतर्क रहने की जरूरत है।
कोरोना वैक्सीन को लेकर बोले अमेरिकी राष्ट्रपति, जल्द दे सकते हैं 'अच्छी खबर'
Root News of India 2020-06-06 09:00:33
वाशिंगटन, 6 जून 2020, (आरएनआई)। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित देश अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि वह इस बेहद संक्रामक जानलेवा बीमारी की वैक्सीन को लेकर जल्द ही बड़ी खबर दे सकते हैं। डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, 'हमने कल (गुरुवार को) वैक्सीन को लेकर एक बैठक की थी, इसमें हम बहुत अच्छा कर रहे हैं। हम जल्द ही कोई अच्छी खबर दे सकते हैं। वैक्सीन को विकसित करने को लेकर उम्मीद से बेहतर प्रगति हुई है।'
संयुक्त राष्ट्र / सुरक्षा परिषद में सीट सुरक्षित करने के लिए भारत ने कैंपेन लॉन्च किया, विदेश मंत्री बोले- वैश्विक महामारी के समय हमारी भूमिका अहम
Root News of India 2020-06-06 08:22:45
नई दिल्ली, 6 जून 2020, (आरएनआई)। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की पांच अस्थायी सीटों के लिए 17 जून को चुनाव कराए जाएंगे। एशिया प्रशांत खंड की सीट के लिए भारत की जीत पक्की मानी जा रही है। वहीं, भारत ने इस चुनाव के लिए अपनी तैयारी शुरू कर दी है। 
हांगकांग में हंगामे के बाद विवादित बिल पास
Root News of India 2020-06-06 07:38:10
बीजिंग, 6 जून 2020, (आरएनआई)। चीन के खिलाफ लगातार हो रहे विरोध प्रदर्शन के बीच गुरुवार को हांगकांग की विधायिका ने विवादस्पद विधेयक को मंजूरी दे दी। इसके साथ ही अब हांगकांग में चीनी राष्ट्रगान का अपमान करना गैरकानूनी होगा।
अलकायदा के साथ संबंध बरकरार रखेगा तालिबान, यूएन की रिपोर्ट में खुलासा
Root News of India 2020-06-03 08:16:43
वॉशिंगटन, 3 जून 2020, (आरएनआई)। अफगानिस्तान में सक्रिय तालिबान ने अमेरिका से किए गए शांति समझौते में आतंकवादी समूहों से लड़ने की प्रतिबद्धता जताई है, लेकिन अलकायदा के आतंकवादी नेटवर्क से उसके अब भी करीबी संबंध हैं। यह खुलासा संयुक्त राष्ट्र द्वारा मंगलवार (2 जून) को जारी एक रिपोर्ट में हुआ है। कतर में इस साल फरवरी में अमेरिका और तालिबान ने एक समझौता किया जिसमें 19 साल की लंबी लड़ाई के बाद अमेरिकी सैनिकों की अफगानिस्तान से वापसी के साथ-साथ देश के राजनीतिक भविष्य तय करने के लिए अफगानिस्तान के विभिन्न गुटों के बीच बातचीत का रास्ता बनाने का प्रावधान है।
17 जून को होंगे संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के चुनाव
Root News of India 2020-06-02 12:59:11
संयुक्त राष्ट्र, 2 जून 2020, (आरएनआई)। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की पांच अस्थायी सीटों के लिये चुनाव 17 जून को कराये जायेंगे। विश्व निकाय के अंतरिम कार्यक्रम में इसकी जानकारी दी गयी है । सोमवार को जारी सुरक्षा परिषद के इस महीने के अनौपचारिक अंतरिम कार्यक्रम के अनुसार सुरक्षा परिषद के चुनाव 17 जून को कराये जायेंगे । फ्रांस ने इसी दिन 15 देशों की इस परिषद की अध्यक्षता संभाली थी। एशिया प्रशांत खंड में 2021—22 के कार्यकाल के लिये भारत इस अस्थायी सीट के लिए उम्मीदवार है। उसकी जीत तय है क्योंकि इस खंड में भारत एकमात्र सीट पर अकेला दावेदार है। भारत की उम्मीदवारी को चीन और पाकिस्तान समेत 55 देशों के एशिया-प्रशांत समूह ने पिछले साल जून में सर्वसम्मति से समर्थन दिया था। महासभा ने पिछले हफ्ते कोरोना महामारी के कारण प्रतिबंधों को ध्यान में रखते हुए नई मतदान व्यवस्था के तहत सुरक्षा परिषद चुनाव कराने का निर्णय लिया था। मतदान के तौर तरीकों में किसी प्रकार का बदलाव भारत की संभावनाओं को बहुत प्रभावित नहीं करेगा क्योंकि एशिया प्रशांत क्षेत्र से वह एकमात्र उम्मीदवार है और इसका कार्यकाल जनवरी 2021 से शुरू होगा । संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के चुनाव महासभा के हॉल में होते हैं और इस दौरान सभी 193 सदस्य गुप्त बैलेट के जरिये अपने मताधिकार का इस्तेमाल करते हैं। कोविड-19 के कारण वैश्विक निकाय के मुख्यालय में जून के अंत तक की सभी बैठकें स्थगित कर दी गयी है । नयी व्यवस्था के तहत महासभा के अध्यक्ष तिज्जानी मुहम्मद बंदे सभी सदस्य देशों को एक पत्र लिखेंगे । यह पत्र पहले राउंड के गुप्त बैलेट मतदान से कम से कम दस कार्य दिवस पहले लिखा जाएगा, जिसमें सदस्यों को चुनाव की तारीख, रिक्त सीटों की संख्या, मतदान स्थल और आने जाने की सुविधाओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी जायेगी। कनाडा, आयरलैंड एवं नॉर्वे ‘पश्चिम यूरोप एवं अन्य देशों’ की श्रेणी में दो सीटों के लिए दावेदार हैं । दूसरी ओर ‘लातिन अमेरिका एवं कैरेबियाई देश’ श्रेणी से मेक्सिको एकमात्र उम्मीदवार है । केन्या एवं दजिबाउती अफ्रीकी समूह से मैदान में हैं । इससे पहले भारत अस्थायी सीटों पर परिषद के सदस्य के तौर पर 1950—1951, 1967—1968, 1972—1973, 1977—1978, 1984—1985, 1991—1992 तथा हाल में 2011—2012 पर निर्वाचित हो चुका है।
माइक्रोसॉफ्ट ने इंसानों का काम आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को सौंपा
Root News of India 2020-06-01 09:16:36
वाशिंगटन, 1 जून 2020, (आरएनआई)। विश्व की टॉप सॉफ्टवेयर कम्पनी माइक्रोसॉफ्ट ने अब इनसानों की जगह आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से काम लेना शुरू कर दिया है। ये कदम माइक्रोसॉफ्ट की व्यापक योजना के तहत उठाया गया है जिसमें कंपनी अब आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल अधिकाधिक करेगी। माइक्रोसॉफ्ट का कहना कि उसके फैसले का वर्तमान महामारी से कोई लेना देना नहीं है।
77 دن کے بعد مسجد نبوی اور ملک بھر میں باجماعت نماز
Ashhar Hashimi 2020-05-31 16:48:15
مسجد نبوی سمیت سعودی عرب کی بیشتر مساجد آج نمازیوں کے لیے کھول دی گئیں جہاں 77 دن کے بعد فجر کی باجماعت نماز روح پرور ماحول ادا کی گئی ہے۔
भारी विरोध के बीच चीन की संसद ने विवादित हांगकांग सुरक्षा विधेयक पारित किया
Root News of India 2020-05-28 14:26:45
बीजिंग, 28 मई 2020, (आरएनआई)। चीन की संसद ने बृहस्पतिवार को हांगकांग के लिए एक नए विवादास्पद सुरक्षा कानून को मंजूरी दे दी जिससे पूर्व ब्रिटिश कॉलोनी में बीजिंग के अधिकार को कमजोर करना एक अपराध हो जाएगा.
चीन के प्रस्तावित सख्त राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के खिलाफ हांगकांग में विरोध प्रदर्शन
Root News of India 2020-05-24 15:39:50
हांगकांग, 24 मई 2020, (आरएनआई)। चीन द्वारा प्रस्तावित विवादित राष्ट्रीय सुरक्षा कानून को लेकर हांगकांग में विरोध प्रदर्शन लगातार बढ़ रहे हैं। वहीं चीन भी इन प्रदर्शनों की दबाने की पूरी कोशिश कर रहा है। रविवार को भी चीन के इस विवादित कानून के खिलाफ हांगकांग में सड़कों पर उतरे सैकड़ों लोगों पर स्थानीय पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे।   
पत्रकार जमाल ख़शोगी के बेटों ने पिता के हत्यारों को किया माफ
Root News of India 2020-05-24 08:00:25
दुबई, 24 मई 2020, (आरएनआई)। वॉशिंगटन पोस्ट के स्तंभकार रहे पत्रकार जमाल ख़शोगी के बेटों ने शुक्रवार को घोषणा की कि उन्होंने अपने पिता के हत्यारों को माफ कर दिया है, जिससे सऊदी अरब के पांच सरकारी एजेंटों की मौत की सजा पर रोक लग गई है.
भूकंप के झटकों से हिला नेपाल
Root News of India 2020-05-21 09:11:25
काठमांडू, 21 मई 2020, (आरएनआई)। नेपाल के भक्तपुर जिले के अनंतलिंगेश्वर के आसपास गुरुवार सुबह 8.14 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए। रिक्टर स्केल पर इस भूकंप की तीव्रता 3.4 मापी गई। नेपाल के राष्ट्रीय भूकंप केंद्र ने इस बात की जानकारी दी है। 
लॉकडाउन के दौरान दुनियाभर में कार्बन उत्सर्जन में आई गिरावट
Root News of India 2020-05-21 08:01:36
केंसिंग्टन, 21 मई 2020, (आरएनआई)। कोरोना वायरस वैश्विक महामारी को फैलने से रोकने के लिए दुनियाभर में लगाए लॉकडाउन के कारण पिछले महीने दुनियाभर में कार्बन डाइऑक्साइड के रोजाना होने वाले उत्सर्जन में 17 प्रतिशत तक की कमी आई है। एक नए अध्ययन में यह जानकारी दी गई है।
मंदी, बेरोजगारी और संरक्षणवाद सबसे बड़ा संकट: डब्ल्यूईएफ
Root News of India 2020-05-21 08:01:25
जिनेवा, 21 मई 2020, (आरएनआई)। कोरोना महामारी का दौर खत्म होने के बाद दुनियाभर मेें मंदी, बेरोजगारी और संरक्षणवाद की चिंताएं बढ़ेंगी और नई संक्रमण बीमारियां पैदा होने का भी जोखिम रहेगा। विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) ने मंगलवार को बताया कि कंपनियों के लिए फिलहाल ये सबसे बड़ी समस्याएं होंगी।
डब्ल्यूएचओ की चेतावनी खुले में कीटाणुनाशक के छिड़काव से हो सकता है स्वास्थ्य का खतरा
Root News of India 2020-05-19 09:34:23
जिनेवा, 19 मई 2020, (आरएनआई)। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने चेतावनी दी है कि खुले में कीटाणुनाशक (डिसइन्फेक्टेंट) छिड़कने से कोरोना वायरस नहीं मरता है। ऐसा करना लोगों के स्वास्थ्य के लिए खतरनाक हो सकता है। डब्ल्यूएचओ का कहना है कि गलियों और बाजारों में डिसइन्फेक्टेंट स्प्रे या फ्यूमिगेशन करने से इसलिए फायदा नहीं होता है क्योंकि धूल और गंदगी की वजह से वह निष्क्रिय हो जाते हैं।
भारत की मदद के लिए विश्व बैंक ने खोली तिजोरी
Root News of India 2020-05-15 13:25:35
नई दिल्ली, 15 मई 2020, (आरएनआई)। कोरोना संकट में भारत की सहायता के लिए विश्व बैंक ने अपनी तिजोरी खोल दी है. उसने भारत को एक बार फिर एक अरब डॉलर यानी करीब 7500 करोड़ रुपये की सहायता देने को मंजूरी दी है. कोरोना संकेट के बीच विश्व बैंक की ओर से भारत को दी जाने वाली सहायता की यह दूसरी किश्त है. पिछले महीने भारत के स्वास्थ्य क्षेत्र की मदद के लिए एक अरब अमेरिकी डालर यानी 7500 करोड़ रुपये की सहायता देने की घोषणा की गई थी.
कोरोना से बाल अधिकारों पर संकट: यूनिसेफ
Root News of India 2020-05-14 10:00:35
संयुक्त राष्ट्र, 14 मई 2020, (आरएनआई)। संयुक्त राष्ट्र (यूएन) की बाल एजेंसी ने चेतावनी देते हुए कहा है कि अगले छह महीने में अतिरिक्त छह हजार बच्चों की रोजाना मौत ठीक होने वाली बीमारियों की वजह से हो सकती है। ऐसा कोरोना वायरस महामारी की वजह से कमजोर हुई स्वास्थ्य प्रणाली और नियमित सेवाएं बाधित होने के कारण है।
कोरोना महामारी पर कब तक नियंत्रण पाया जा सकेगा यह अनुमान लगाना असंभव: डब्ल्यूएचओ
Root News of India 2020-05-14 10:00:30
जिनेवा, 14 मई 2020, (आरएनआई)। विश्व स्वास्थ्य संगठन के आपात परिस्थिति संबंधी प्रमुख ने कहा है कि यह अनुमान लगाना असंभव है कि वैश्विक महामारी पर कब तक नियंत्रण पाया जा सकेगा। डॉ. माइकल रयान ने बुधवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘संभवत: यह वायरस कभी न जाए।’ उन्होंने कहा कि कोविड-19 से संक्रमित लोगों की संख्या अभी तक कम है।
डब्लूएचओ ने चेताया...तीन सवालों का जवाब खोजकर ही खोलें लॉकडाउन
Root News of India 2020-05-14 10:00:24
जिनेवा, 14 मई 2020, (आरएनआई)। कोरोना महामारी से निपटने के लिए जारी लॉकडाउन के चलते दुनियाभर की अर्थव्यवस्था गर्त में जा चुकी है। ऐसे में इस त्रासदी से जूझ रहे कई देशों ने अर्थव्यवस्था पटरी पर लाने के लिए लॉकडाउन में ढील देनी शुरू की है।
WHO को आशंका, शायद कभी खत्म न हो कोरोना वायरस का खतरा
Root News of India 2020-05-14 09:06:28
जिनेवा, 14 मई 2020, (आरएनआई)। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने आशंका जाहिर की है कि कोरोना वायरस से जुड़ी बीमारी ऐसी हो सकती है जो कभी खत्म न हो. WHO ने कहा है कि हो सकता है कि कोरोना वायरस समुदायों के बीच बना रहे जिसका भविष्य में कभी खात्मा न हो.

Top Stories

Home | Privacy Policy | Terms & Condition | Why RNI?
Positive SSL