HIGHLIGHTS


PMC Bank failure: How safe the Indian Banks are ?

JAG MOHAN THAKEN 2019-10-20 07:48:21    SPECIAL 14161
PMC Bank failure: How safe the Indian Banks are ?
Chandigarh, 20 October 2019, (RNI): Current incident of Punjab and Maharashtra Cooperative (PMC ) Bank failure has once again shown the ugly face of Indian Banking System(IBS) . It has shattered the belief of lakhs of people who deposit their hard earned money in the banks to keep it safe and secure . But, it has also unmasked that how the bank regulators including RBI and NABARD , managements , internal auditors and statutory auditors are unserious and keep their vigilant eyes closed.

ALICIA TUOVILA in an article in Investopedia.com , defining Statutory Audit , states , “ A statutory audit is a legally required review of the accuracy of a company's or government's financial statements and records. The purpose of a statutory audit is to determine whether an organization provides a fair and accurate representation of its financial position by examining information such as bank balances, book keeping records, and financial transactions.”

There is a saying “ Saamp ko nahin , Saamp ki Maa ko mariye jo anginat Saamp paida karti hai.”(Don’t kill the snake , but kill the mother of snakes which gives birth to hundreds of snakes.)

Above mentioned auditing and checking authorities , responsible for curbing the birth of snakes in the IBS , should be kicked off with a hard hit . If they can’t even notice or smell the internal health of the Banks during their off- site and on-site inspection and audit period , then what kind of surveillance they are keeping ?

PMC Bank , a cooperative bank operating in seven states with 137 branches , having a deposit of Rs. 11617 crore , a loan portfolio of Rs. 8383 crore , net profit of Rs. 99.69 crore and a declared NPA of mere 3.76% in its 31.03.2019 balance sheet . What a glorious picture the bank was sprucing up ! Then what were the reasons of its sudden collapse ? Keeping aside the rules and regulations , distorting all bars and codes , the bank had reportedly lent a major portion of its loan portfolio nearly 70% of total advancement to a single entity HDIL , which gone bad . RBI failed to identify the violation of rules by the PMC bank , why ?

PMC bank collapse is not the first incident in IBS , Neerav Modi and Mehul Choksi caused an alleged fraud of Rs. 13570 crore to Punjab National Bank and Vijay Mallya eloped after giving a jolt of Rs. 9000 crore .

During the financial year 2018-19 , 6801 fraud cases involving an amount of Rs. 71500 crore have been detected in the Indian Banks and this shows only detected face , there may be some higher jerks which are still waiting to see the light .

India Today on September 8,2019 reports that during the first quarter (April to June ) of this fiscal year of 2019-20 , frauds worth Rs. 32000 crore have rattled the 18 Public Sector Banks or Govt banks . An RTI answered by RBI reveals that 2480 fraud cases defrauding the amount of Rs. 31898.63 crore have been lime lighted . 38 % of the chunk i.e 1197 cases of fraud involving an amount of Rs. 12012.77 crore relate to SBI alone . Allahabad Bank with 381 cases and amount of Rs. 2855.46 crore got the second position and the Punjab National Bank , despite having a deep wound of fraud of Rs. 13000 crore in February , 2018 by the big whale Neerav Modi , got the third position with a fraud of Rs 2526.55 crore during these three months of this year .Other Public sector banks are also not far behind , they also play major role in keeping the fraud train running with nearly the same speed .

What safety to the public money in Indian Banks ?

The BJP government led by Prime Minister Narender Modi in 2016 enforced the public to deposit their hard earned all life savings to the banks by imposing NOTE- BANDI , which kept the earnings of the people on stake without making an arrangement to secure and guarantee the entire deposit . Presently the deposits of a person upto the maximum limit of Rs. one lakh in a bank are guaranteed by DICGC (Deposit Insurance and Credit Guarantee Corporation ) set up with a mission to contribute to financial stability by securing public confidence in the banking system through provision of deposit insurance, particularly for the benefit of the small depositors.

Banks covered by Deposit Insurance Scheme are (I) All commercial banks including the branches of foreign banks functioning in India, Local Area Banks and Regional Rural Banks and (II) Co-operative Banks - All eligible co-operative banks as defined in Section 2(g g) of the DICGC Act .

What RBI states about the role of DICGC ?

Reserve bank of India under the head of frequently asked questions regarding the role of DICGC states that In the event of a bank failure, DICGC protects bank deposits that are payable in India.

The DICGC insures all deposits such as savings, fixed, current, recurring, etc. except the following types of deposits.

(i) Deposits of foreign Governments;(ii) Deposits of Central/State Governments;(iii)Inter-bank deposits; (iv) Deposits of the State Land Development Banks with the State co-operative bank;(v) Any amount due on account of any deposit received outside India (vi) Any amount, which has been specifically exempted by the corporation with the previous approval of Reserve Bank of India.

What is the maximum deposit amount insured by the DICGC?

Each depositor in a bank is insured upto a maximum of Rs.1,00,000 (Rupees One Lakh) for both principal and interest amount held by him in the same capacity and same right as on the date of liquidation/cancellation of bank's licence or the date on which the scheme of amalgamation/merger/reconstruction comes into force.

Never put your all eggs in a single basket

The elderly retired persons or the present working employees keep their funds in the banks to give a security cover to their future life and the farmers and businessmen also have their savings / sale proceeds or working funds in their accounts with the banks for their day to day needs . Also the government has made such harsh rules and regulations which stop the public from keeping cash in their white pockets , so the people are forced to keep money in banks. But when the money of the public is not safe even in the government banks and no security cover from the banks or the government has been provided to the depositors beyond Rs. One lakh per bank (Not Per Branch ) , where the people should go ? Such type of restrictions and unsecure environment lead to unaccounted money and situation of chaos.

Keeping in mind all the consequences , the public should not keep more than Rs. one lakh in a single bank . If a person keeps his money in different branches of a single bank , even then total of his all deposits in all the branches are counted as one account and no security coverage from DICGC to more than Rs. one lakh deposit even in scattered accounts in the same bank . In the present scenario , the public should follow the thumb rule “Never put your all eggs in a single basket.”

Keep your deposits in different banks and not in different branches of a single bank . Howere it’s not an example of good governance and the government should come forward to frame rules for securing the hundred percent earnings of its subjects.









Related News

Special

वैज्ञानिकों ने धरती के सबसे नजदीक मौजूद ब्लैक होल को खोजा
Root News of India 2020-05-19 09:34:29
नई दिल्ली, 19 मई 2020, (आरएनआई)। हाल ही में अंतरिक्ष वैज्ञानिकों ने धरती के सबसे नजदीक मौजूद ब्लैक होल को ढूंढ निकाला है। ये धरती से करीब एक हजार प्रकाश वर्ष की दूरी पर स्थित है। अंतरिक्ष में ब्लैक होल एक शक्तिशाली गुरुत्वाकर्षण क्षेत्र वाली जगह है जहां पर भौतिक विज्ञान का कोई भी नियम काम नहीं करता है।
देश में पिछले 4 सालों में रेल पटरियों पर 56,271 लोगों की मौत, 5,938 जख्मी: आरटीआई
Root News of India 2020-04-28 15:46:01
नई दिल्ली, 28 अप्रैल 2020, (आरएनआई)। देश में रेल की पटरियों पर वर्ष 2016 से 2019 के बीच कुल 56,271 लोगों की मौत हुई, जबकि चार साल की इस अवधि में 5,938 लोग पटरियों पर घायल हुए। सूचना के अधिकार (आरटीआई) के तहत यह जानकारी हासिल हुई है।
यूपी के कुशीनगर में मिला दुर्लभ गिद्ध, देखने को उमड़ी भीड़
Root News of India 2020-04-24 13:41:05
कुशीनगर, 24 अप्रैल 2020, (आरएनआई)। यूपी के कुशीनगर जिले में शुक्रवार को बरवापट्टी थाना क्षेत्र के बकुलहवा गांव में गन्ने के खेत में एक विलुप्त प्राय गिद्ध घायलावस्था में पाया गया। उसके दोनों पंखों में C3 टैग और जीपीएस चिप लगा था। गिद्ध मिलने की सूचना मिलते ही मौके पर ग्रामीणों की भीड़ उमड़ पड़ी और तरह-तरह की अफवाह उड़ने लगी। सूचना पर वन विभाग और पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और गिद्ध को अपने कब्जे में ले लिया। वन विभाग के मुताबिक, गिद्ध को चोट लगी है या फिर वह बीमार है। उसकी जांच की जा रही है।
अंतरिक्ष के अनसुलझे रहस्य, वैज्ञानिक भी हैं हैरान
Root News of India 2020-03-29 07:27:12
नई दिल्ली, 29 मार्च 2020, (आरएनआई )। वर्ष 1930 में स्विटजरलैंड के खगोलशास्त्री फ्रिट्ज जविकी ने एक बात गौर की। वह यह कि दूर ब्रह्मांड में आकाशगंगाओं का एक झुंड एक दूसरे की परिक्रमा कर रहा है। परिक्रमा में असाधारण बात यह थी कि उनका जितना वजन दिख रहा था, उसके मुकाबले कई गुना ज्यादा उनकी परिक्रमा की रफ्तार थी। इस गुत्थी को सुलझाने के लिए उन्होंने विचार व्यक्त किया कि कोई चीज है जो इन आकाशगंगाओं की ओर गुरुत्वाकर्षण बल की मदद से खिंच रही है। उन चीजों को उन्होंने डार्क मैटर कहा। फिर शोधकर्ताओं ने इस बात की पुष्टि की कि पूरे ब्रह्मांड में इस तरह की रहस्यमय चीजें हैं। उन्होंने बताया कि तारे और इंसान जिन साधारण चीजों से मिलकर बने हैं, उनकी तुलना में ये डार्क मैटर हमारे ब्रह्मांड में छह गुना ज्यादा है। पूरे ब्रह्मांड में डार्क मैटर की उपस्थिति का दावा करने के बाद भी वैज्ञानिक इससे जुड़े कुछ रहस्यों को लेकर हैरान हैं।
जब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एसबीआई को बेरहम और अक्षम करार दे डाला
Root News of India 2020-03-16 08:09:15
नई दिल्ली, 16 मार्च 2020, (आरएनआई )। हाल ही में सरकारी स्वामित्व वाले देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कड़ी फटकार लगाई है। एसबीआई के रवैये से बेहद खफा वित्त मंत्री ने उसे बेरहम और अक्षम तक करार दे डाला। बीते दिनों असम में हुए एक कार्यक्रम में एसबीआई के चेयरमैन रजनीश कुमार और विभिन्न बैंकों के प्रमुख भी पहुंचे थे। उसी समय की यह कथित ऑडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हुई है।
सुप्रीम कोर्ट में एक अप्रैल से केवल ए4 साइज कागज में ही दाखिल होगी अर्जी
Root News of India 2020-03-13 08:07:17
नई दिल्ली, 13 मार्च 2020, (आरएनआई )। सुप्रीम कोर्ट एक अप्रैल से रोजमर्रा के काम काज के लिए याचिकाएं और शपथपत्रों को ए4 आकार के कागजों में ही स्वीकार करेगा। यह कदम कामकाज में एकरूपता और पर्यावरण को नुकसान से बचाने के लिए उठाया गया है।
राष्ट्रीय दलों को पिछले 14 साल में 11,234 करोड़ रुपये का चंदा अज्ञात स्रोतों से मिला, ADR का खुलासा
Root News of India 2020-03-10 08:21:35
नई दिल्ली, 10 मार्च 2020, (आरएनआई )। देश के राष्ट्रीय राजनीतिक दलों को वित्तवर्ष 2004-05 से 2018-19 के बीच 11,234 करोड़ रुपये का चंदा अज्ञात स्रोतों से प्राप्त किया। गैर सरकारी संगठन एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (एडीआर)ने यह दावा किया है। एडीआर ने बताया कि इस विश्लेषण के लिए उसने सात राष्ट्रीय पार्टियों भाजपा, कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा), राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा), बहुजन समाज पार्टी (बसपा)और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा)द्वारा चुनाव आयोग को दी गई जानकारी का इस्तेमाल किया है।
झारखण्ड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन कैंसर से लड़ रही अर्शी नाज को बचाने आगे आए
Root News of India 2020-03-09 11:33:08
रांची, 9 मार्च 2020, (आरएनआई )। सोशल मीडिया पर सक्रीय रहने वाले झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने एक बार फिर से दरियादिली दिखाते हुए कैंसर से जूझ रही बच्ची की मदद के लिए तुरंत हाथ बढ़ाया।
यूजर ने मांगा पीएम मोदी के ट्विटर अकाउंट का पासवर्ड...
Root News of India 2020-03-08 12:06:09
नई दिल्ली, 8 मार्च 2020, (आरएनआई )। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ट्विटर अकाउंट आज सात महिलाएं चला रही हैं। इस दौरान पीएम मोदी ने कई लोगों के मजेदार सवालों के जवाब भी दिए।
वैश्विक स्तर पर चर्चा में है भारत का UPI
Root News of India 2020-03-07 16:46:59
नई दिल्‍ली, 7 मार्च 2020, (आरएनआई )। भारत में लोग डिजिटल लेनदेन के लिए यूपीआई (UPI) यानी यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस का काफी इस्तेमाल करते हैं। यूपीआई के जरिए हर महीने करोड़ों का लेनदेन होता है।
सुप्रीम कोर्ट ने निरस्त किया RBI का सर्कुलर, अब Cryptocurrency में भी कर पाएंगे लेनदेन
Root News of India 2020-03-04 14:30:46
नई दिल्ली, 4 मार्च 2020, (आरएनआई )। सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को बैंकिंग लेनदेन में क्रिप्टोकरेंसी और बिटक्वाइन आदि पर पूरी तरह रोक लगाने वाले भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के सर्कुलर को निरस्त कर दिया है। आरबीआई के निर्णय को चुनौती देने के लिए सुप्रीम कोर्ट में इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने याचिका दाखिल की थी, जिस पर कोर्ट ने यह फैसला दिया है। इस तरह अब सुप्रीम कोर्ट ने क्रिप्टोकरेंसी में ट्रेड की अनुमति दे दी है।
उड़ान के दौरान कर सकेंगे इंटरनेट का इस्तेमाल
Root News of India 2020-03-02 12:30:10
नई दिल्ली, 2 मार्च 2020, (आरएनआई )। हवाई यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए बड़ी खुशखबरी है। घरेलू विमानों में उड़ान के दौरान यात्री अब इंटरनेट की सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। सरकार ने विमान में उड़ान के दौरान वाई-फाई के माध्यम से इंटरनेट सेवाओं के इस्तेमाल की अनुमति दे दी है।
भुवनेश्वर: पूर्वी क्षेत्र परिषद की बैठक में शामिल हुए अमित शाह, ममता, नीतीश और पटनायक
Root News of India 2020-02-28 14:31:21
भुवनेश्वर, 28 फरवरी 2020, (आरएनआई )। ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर में आज पूर्वी क्षेत्र परिषद की 24वीं बैठक हुई जिसकी अध्यक्षता गृहमंत्री अमित शाह ने की। बैठक में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक शामिल हुए। बता दें कि पूर्वी जोनल काउंसिल के बिहार, झारखंड, ओडिशा और पश्चिम बंगाल सदस्य हैं।
सत्या नडेला ने कहा- भारतीय कंपनियों के प्रमुखों को तकनीकी क्षमताएं विकसित करने की जरूरत
Root News of India 2020-02-24 14:59:09
मुंबई, 24 फरवरी 2020, (आरएनआई )। माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला का कहना है कि भारतीय कंपनियों के सीईओ को तकनीकी रूप से सक्षम बनने की जरूरत है। यह भी तय करना होगा कि समाधान संयुक्त रूप से सामने आएं। नडेला ने मुंबई में माइक्रोसॉफ्ट के फ्यूचर डिकोडेड सीईओ कॉन्क्लेव में ये बात कही। सोमवार को भारत दौरे पर पहुंचे नडेला यहां तीन दिन रहेंगे।
पश्चिम बंगाल की हर जेल में होगा अपना रेडियो स्टेशन
Root News of India 2020-02-22 08:00:57
कोलकाता, 22 फरवरी 2020, (आरएनआई )। पश्चिम बंगाल की जेल में कैदियों के जीवन-स्तर की बेहतरी के लिए पश्चिम बंगाल सरकार ने राज्य की तमाम 57 जेलों में रेडियो स्टेशन शुरू करने का फैसला किया है। इससे पहले इसे दमदम सेंट्रल में पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर शुरू किया गया था। पश्चिम बंगाल की जेलों को सुधार गृह कहा जाता है। राज्य के जेल मंत्री उज्ज्वल बिश्वास ने बताया, दमदम सेंट्रल जेल में इस परियोजना को खासी कामयाबी मिली है।
शिमला में दौड़ा 115 साल पुराना स्टीम इंजन, इंग्लैंड के सैलानियों ने किया रोमांचक सफर
Root News of India 2020-02-21 13:15:25
शिमला, 21 फरवरी 2020, (आरएनआई )। हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में रेलवे का 115 साल पुराना स्टीम इंजन शुक्रवार को एक बार फिर ट्रैक पर उतरा। इस दौरान इंग्लैंड के सैलानियों ने शिमला से कैथलीघाट तक 21 किलोमीटर लंबे ट्रैक पर स्टीम इंजन से जोड़े गए कोच में सफर किया। शुक्रवर सुबह करीब 11 बजे रेलवे यार्ड से निकलकर स्टीम इंजन प्लेटफार्म पर पहुंचा। तीखी सीटी और छुकछुक की आवाज सुनते ही यात्री और स्टाफ स्टीम इंजन को देखने लगे। प्लेटफार्म पर सीटी 12,13 कोच स्टीम इंजन से जोड़े गए। करीब 11.35 बजे यह ट्रेन शिमला का प्लेटफार्म छोड़कर कैथलीघाट के लिए रवाना हो गई। कोच में सवार होने से पहले विदेशी सैलानियों ने स्टीम इंजन के साथ फोटो खींचे।
अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस: 73 साल में भारतीय जुबान से गायब हो गईं 250 बोलियां
Root News of India 2020-02-21 08:13:19
नई दिल्ली, 21 फरवरी 2020, (आरएनआई )। आज पूरी दुनिया अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस मना रही है। लेकिन, क्या आप जानते हैं कि हर दूसरे सप्ताह में दुनिया से एक भाषा या बोली विलुप्त हो जाती है। कभी दुनिया में सबसे ज्यादा भाषाओं और बोलियों का घर रहे भारत से भी कई आश्चर्यजनक रूप से गायब हो चुकी हैं।
India participates in “Golden Door” - World’ first International Writer's’ Awards for Truth and Integrity to be held in Singapore
Root News of India 2020-02-20 13:55:31
The new decade 2020 is all set to welcome winners from across the globe for the 'Golden Door', World’s first International Writer’s Awards for truth and Integrity of digital content and printed literature. Symbolic as the 'Golden Door of Truth', this award aims to recognise non-fiction writers as agents of truth and integrity. First endorsed by Singapore Ambassador-at-large Professor Tommy Koh, the awards will be inaugurated in Singapore on Saturday 5th September 2020 at the iconic Marina Bay Sands Convention Centre. It will be attended by World leaders, Change-makers and Truth-tellers from more than 20 countries.
'हुनर हाट' पहुंचकर पीएम मोदी ने लोगों को चौंकाया
Root News of India 2020-02-19 15:09:16
नई दिल्ली, 19 फरवरी 2020, (आरएनआई )। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय की ओर से आयोजित ‘हुनर हाट’ में बुधवार को अचानक पहुंचे, वहां लिट्टी-चोखा खाया एवं कुल्हड़ की चाय पी जिसका भुगतान उन्होंने खुद किया।
ओडिशा सरकार ने पेश की पर्यावरण संरक्षण की बड़ी मिसाल, पेपरलेस बजट से बचाए 700 पेड़
Root News of India 2020-02-16 06:04:44
भुवनेश्वर, 16 फरवरी 2020, (आरएनआई )। ओडिशा सरकार ने वित्त वर्ष 2019-20 के लिए पेपरलेस बजट पेश कर डिजिटल युग में पर्यावरण संरक्षण की बड़ी मिसाल पेश की है। सरकार की इस पहल से करीब 700 पेड़ बचाए गए हैं।

Top Stories

Home | Privacy Policy | Terms & Condition | Why RNI?
Positive SSL