HIGHLIGHTS


VOTING IN ARA BY AND LARGE PEACEFUL

RAJIV NAYAN AGRAWAL 2019-05-19 16:07:07    VIDEO 4352




VOTING IN ARA BY AND LARGE PEACEFUL
Ara, May 19 (RNI): Barring a few incidents of booth capturing, clash, , polling in the Ara parliamentary constituency, by and large passed off peacefully with about 49 percent voters exercised their franchise till the filing of this report on May 19, 2019. Elaborate arrangements have been made by the district administration to ensure free, fair and peaceful election and each and every booth was covered with the paramilitary force.

Scorching sun could not deter the voters and they were found in long queue in their respective polling booths to exercise their franchise since morning but after 11am the voters confined themselves indoor. Though the polling was somewhat low in between 11am to 4pm due to hot sun, polling in the morning and evening hour was high.

The voters boycotted the voting at booth nos 252 at Vishambharpur in Agiaw block in protest against indifferent attitude of the people representatives and district officials in construction of road despite several request and agitation but later 17 persons cast their votes in the afternoon.

Two police personnel Arvind Singh of Begusarai and an ASI, GRP, Ara, Ashok Khan were injured in a brick batting in between the police and the disturbing elements at booth Nos 49 and 50 at Ekauna village in Barahara block. Some disturbing elements tried to capture the booth and when the police personnel objected, they pelted with stones on police personnel in which two of them received injuries.

Voting at over two and half a dozen booths across the 32-Ara parliamentary constituency could be started about one to two hours behind the schedule time because the Electronic Voting Machines had to be reset. The voting could be started as the EVM machines were rectified and reset due to the alertness of the Bhojpur district administration.

The police thrashed Barahara MLA Saroj Yadav’s father and brother at Keshopur booth in Barahara after they tried to create nuisance at the booth. After that, the MLA rushed to the spot and used choicest words against the police personnel.

It was also alleged that with the help of Bhojpur district administration, the booth grabbers captured booth No 212 and 213 at Barahara in favour of the BJP. Besides, voters belonging to backward classes were disturbed and prevented from using their franchise at booth Nos70,71,72,73, 106, 107, 108, 109, 243, 271, 43, 44, 14, 41 and were thrashed though the District Public Relation Officer (DPRO) refuted and said that voting was peaceful and fair and no one was prevented at any point from using their franchise and each and every booth was covered with para military forces.

Though the Election Commission had made every effort to increase the voting percentage, the percentage could not get the expectation. Over two dozen villagers boycotted the votes in protest against poor basic amenities and indifferent attitude of their representatives and district administration towards their problems.

On the other hand, thousands of people could not use their franchise despite having Voters’ Identity Cards as their names were deleted from the voters’ list without getting the form ‘7’ filled by the electorates. The voters were stunned when they found that their names were deleted from the voters’ list at the polling booths and registered their protest.







Related News

video

उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह से चौपट : अखिलेश यादव
Pranjal Gupta 2019-09-15 15:16:07
पीलीभीत, 15 सितंबर 2019, (आरएनआई)। यूपी के पीलीभीत जिले में आज सपा के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव अचानक पीलीभीत पहुँचे, जहाँ पीलीभीत के पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस पहुँच कर सपा के सभी कार्यकर्ताओ संग बैठक को संबोधित किया साथ ही मीडिया से भी बातचीत की। बैठक में सपा के पूर्व कैविनेट मंत्री हाजी रियाज अहमद, पूर्व खाद्य एवं रसद राज्य मंत्री हेमराज वर्मा, सपा के जिलाध्यक्ष आनंद सिंह यादव भी मौजूद रहे।
भोपाल में गणेश विसर्जन के दौरान नाव पलटी, 11 की मौत
Vivek Gupta 2019-09-13 06:27:07
भोपाल, 13 सितंबर 2019, (आरएनआई)। राजधानी भोपाल में गणेश प्रतिमा विसर्जन करने के लए खटलापुरा तालाब पर गए 11 लोगों की डूबने से मौत हो गई। तलाशी अभियान के दौरान बचावकर्मियों ने घाट से 11 लोगों को शव बरामद किए। बचावकर्मियों के द्वारा रेस्क्यू अभियान अभी भी जारी है। बताया जाता है कि ये सभी नाव पर सवार थे और भारी बारिश के कारण खटलापुरा तालाब में भी बाढ़ का पानी पूरा भरा हुआ है। यहीं पर संतुलन खो जाने की वजह से ये हादसा हो गया।
উত্তর ত্রিপুরা জেলার অতিথি রিয়াং শরণার্থী দের কে নিয়ে কেন্দ্র সরকারের নয়া দিল্লিতে চার কোনার বৈঠকে চূড়ান্ত সিদ্ধান্ত গৃহীত হয়, পহেলা অক্টোবর থেকে চলছে স্বদেশে ফিরে যাওয়ার কর্মশালা।
Suman Debnath 2019-09-11 18:02:37
কাঞ্চনপুর প্রতিনিধি( ত্রিপুরা) :- আজ 10 সেপ্টেম্বর 1997 সনের অক্টোবরে জাতিগত সংঘর্ষের সময় রিয়াং সম্প্রদায়ের স্যার 37,000 হাজার রিয়াং জনজাতি অংশের মানুষ নিজের জন্ম মাটি কোশিব ও লু‌ংগেলি জেলা তথা মিজোরাম রাজ্য ছেড়ে প্রাণ রক্ষার স্বার্থে পালিয়ে আসে ত্রিপুরায় উড়িয়া এসে জুড়িয়া বসে উত্তর ত্রিপুরা জেলার কাঞ্চনপুর ও পানিসাগর এই দুটি মহকুমায়। এহেন অবস্থায় তৎকালীন সময়ে উদ্বাস্তু স্যার 37,000 হাজার রিয়াং জনজাতি অংশের মানুষদেরকে অতিথি হিসাবে রাখা হয় এবং কাঞ্চনপুর ও পানিসাগর উপ- বিভাগে তাদেরকে ছয়টি ত্রাণ শিবিরে আশ্রয় দেওয়া হয়েছিল। প্রত্যাবাসন পরবর্তী সাতটি ধাপে প্রায় 50 হাজার শরণার্থী মিজোরামে ফিরে গিয়েছিল। তবে তাদের মধ্যে অনেকে জীবনযাপনের নিম্নমান এবং নিরাপত্তাহীনতার অভিযো করে পূণরায় ত্রিপুরায় ফিরে এসেছিল। খবর রয়েছে সরকারি রেকর্ড অনুসারে ত্রিপুরার উত্তর জেলায় কয়টি ত্রাণশিবিরে এখন ও 32000 রিয়াং জনজাতি বসবাস করেন। গত মাসে ত্রিপুরার রিয়াং ছয়টি ট্রানজিট শিবিরে মিজোরাম সরকার পরিচালিত সাম্প্রতিক পরিচয় প্রচার এর পরে, সেপ্টেম্বর- নয়াদিল্লিতে অনুষ্ঠিত চার কোনার বৈঠকে সিদ্ধান্ত নেওয়া হয়েছিল। যে রিয়াং শরণার্থী সমস্ত ব্রত আই ডি পি কে ফাইনালি তড়িঘড়ি করে মিজোরামের ফিরে যেতে হবে। নয়াদিল্লি বৈঠকে রিয়াং শরণার্থীদের পক্ষ থেকে উপস্থিত ছিলেন এক Brina Masha M. B. D. P. F জেনারেল সেক্রেটারি 2 গভিন রিয়াং, লাল বিহাক থাংহা। বৈঠকে চূড়ান্ত সিদ্ধান্ত নেওয়া হয় যে 1 অক্টোবর থেকে প্রত্যাবাসনের পর্ব শুরু হচ্ছে, এরপর কেন্দ্রীয় বা রাজ্য সরকার থেকে আর কোন ধরনের সুবিধা দেওয়া হবে না। ফিরে যান বা আপনারা বিপদে থাকুন এই শিবিরগুলোতে থাকা 32,000 প্লাসব্রাসের বার্তা ছিল 2016 সালে অনুষ্ঠিত পূর্ববর্তী সনাক্তকরণ অভিযানে মিজুরাম ব্রু ডিস প্লেস্টড পিপলস ফোরামের (এম- বি ডি পি এফ) সভাপতি অপেটো সাবিবাঙ্গ বলেছেন ছয়টি শিবিরে প্রায় এক হাজার পরিবারকে চিহ্নিত তালিকা থেকে বাদ দেওয়া হয়েছিল, যার অর্থ তারা মিজুরাম ফিরে আসতে পারবে না এবং ভাবতেও পারবে না সারা জীবনের জন্য দীর্ঘায়ু। চলিত বছরে 2 আগস্ট শিবিরগুলোতে একটি নতুন সনাক্তকরণ ড্রাইভ অনুষ্ঠিত হয়েছিল এবং অ- শনাক্তকারীদের নিজেদের মধ্যে গননা করার সুযোগ দেওয়া হয়েছিল। তবে প্রায় 350 পরিবার তাদের নাম শনাক্তকারী তালিকায় খুঁজে পাওয়া যায়নি। এমনকি এই ড্রাইভে 1997 সালে ত্রিপুরায় আসার অল্প সময়ের মধ্যেই, কেন্দ্রীয় সরকার ব্রু আই ডি পি গুলির জন্য একটি পূর্ণবাসন প্যাকেজ ঘোষণা করেছিলেন, যার মধ্যে শরণার্থী শিবিরগুলোতে প্রতিদিন বসবাসকারী প্রতিটি প্রাপ্ত বয়স্ক ব্যক্তির জন্য 500 গ্রাম চাল এবং নাবালিক এর জন্য 300 গ্রাম চাল অন্তর্ভুক্ত ছিল। প্যাকেজটিতে নগদ ডিলের জন্য 2000 টাকা বিধান ছিল। প্রাপ্ত বয়স্কদের দিনে 5 টাকা ও নাবালকদের জন্য 2.5 টাকা বছরে একটি সাবান প্রতি বছরে এক জোড়া চপ্পল- এবং প্রতি তিন বছরে একটি মশারি। 03 জুলাই 2018 কেন্দ্রে বিজেপি নেতৃত্বাধীন ন্যাশনাল ডেমোক্রেটিক অ্যালায়েন্স (এন ডি এ) সরকার মিজুরাম, ত্রিপুরা এবং মিজোরাম ব্রু বাস্তচ্যুত পিপলস ফোরামের (এন বি ডি পি এফ) একটি শরণার্থী সংস্থা রাজ্য সরকার একটি চুক্তি করেছিল। প্যাকেজটি প্রস্তাব করেছিল তিন কিস্তিতে শরণার্থীদের দেড় লক্ষ টাকা, আবাসন সহায়তা, 2000 টাকা জীবিকা নির্বাহের জন্য চার লক্ষ টাকা সহায়তা প্রদান করা হবে। যা তিন বছরের পরে হস্তান্তর করা হবে। দুই বছরের জন্য 5000 টাকা মাসিক নগদ সহায়তা এবং বিনামূল্যে রেশন। কেন্দ্রের দেওয়া এই চুক্তির অসমজস্বতার করেন এবং জাতিগত সংকটের ঝুঁকির জন্য একেবারে প্রত্যাখান করে। তবে এই লোকদের আশঙ্কা রয়েছে। ত্রিপুরায় তাদের আগমন এর আগে থেকেই গুরুতর জাতিগত দ্বন্দ্বের ইতিহাস ছিল। ব্রু জনজাতির আশংকা করেছিল যে তাদের রেশন সরবরাহ বন্ধ হয়ে যাবে। তারা অনাহারে মারা যাবেন যদি না তারা দিল্লির দেওয়া প্রস্তাব প্যাকেজ গ্রহণ করে। মহাকুমার মহকুমা শাসক অভেদানন্দ বৈদ্য সংবাদদাতা দেরকে বলেছেন রেশন সরবরাহ বন্ধ হয়ে গেছে 1 অক্টোবর 2018 সাল থেকে। চলিত বছরে শতা দিন ভাবে তাদের জন্য এই সুযোগ সুবিধা জানুয়ারি ও মার্চ মাস অব্দি বাড়ানো হয়েছিল। সূত্রের খবর 30 সেপ্টেম্বর পর্যন্ত চালিয়ে যাওয়া। রাজ্য বা কেন্দ্রীয় সরকারের আর কোন ও সিদ্ধান্ত সম্পর্কে আমি অবগত নই এরমধ্যে নতুন কোনো সিদ্ধান্ত এলে আমরা একই ভাবে কাজ করব।
हमारे पड़ोस में पल रहा आतंकवाद, हम निपटने में सक्षम : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
Mohan Prasad 2019-09-11 12:31:52
मथुरा, 11 सितंबर 2019, (आरएनआई)। सिंगल यूज प्लास्टिक के इस्तेमाल को खत्म करने की मुहिम की शुरुआत करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को मथुरा में बड़ा ऐलान किया है. पीएम मोदी ने देशवासियों से अपील की है कि वह 2 अक्टूबर तक अपने घरों, दफ्तरों को सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्त कर लें. यहां प्रधानमंत्री ने बिना नाम लिए पाकिस्तान पर भी निशाना साधा.
सेक्स रैकेट कांड में संदेश विधायक के पक्ष मे उतरे विधायक सरोज यादव
Rama Shanker Prasad 2019-09-09 12:59:40
आरा, 9 सितंबर 2019, (आरएनआई)। पटना के चर्चित सेक्स रैकेट कांड अब राजनीतिक मोड ले लिया। संदेश विधायक के पक्ष मे उतरे बडहरा MLA सरोज यादव कहा कि षडयंत्र की तरह फंसा रही राजनीतिक रंग देकर विपक्षी पार्टी। सरोज यादव आर.एन.आई.न्यूज एजेंसी को बताया कि....
मेला श्री दाऊजी महाराज का प्रभारी मंत्री ने किया उद्घाटन
Neeraj Chakrapani 2019-09-04 18:23:17
हाथरस, 4 सितंबर 2019, (आरएनआई)। हाथरस के सुप्रसिद्ध लक्खी मेला श्री दाऊजी महाराज के 108 वे मेला महोत्सव का जिले के प्रभारी मंत्री व पंचायती राज विभाग मंत्री उत्तर प्रदेश ने दाऊजी महाराज के 108 वे मेला महोत्सव का फीता काटकर उद्धघाटन किया।
रेल पुलिया वाले वैकल्पिक मार्ग पर कीचड़ में फंसी कार
Vivek Gupta 2019-09-03 17:18:14
खिरकिया, 3 सितंबर 2019, (आरएनआई)। खिरकिया नगर में बीएसएनएल कार्यालय के नजदीक स्थित रेल पुलिया वाले वैकल्पिक मार्ग में पानी और कीचड़ भरे रहने से राहगीरों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा था।नगर में स्थित रेल्वे गेट बन्द होने के दौरान कई छोटे वाहन सहित राहगीर इसी वैकल्पिक मार्ग से आवागमन करते है,जो दूषित पानी और कीचड़ का सामना कर यहाँ से गुजरते है। उक्त पुलिया वाले मार्ग में कुछ समय पूर्व नगर परिषद द्वारा मार्ग को मुरूम डालकर दुरस्त किया था,परन्तु इस कार्य की प्रगति बहुत ही धीमी होने के कारण नागरिकों को असुविधा हो रही है।नगर परिषद द्वारा 2-3 ट्राली मुरूम रास्ते में डालकर कार्य को इति श्री कर दिया गया है,जबकि तेज वारिस होने की वजह से मुरूम पानी में बह जाने के कारण रास्ते में फिर से गड्डे बन गए है, जो आवागमन को प्रभावित कर रहे है।सोमवार को दोपहर 4 बजे एक कार इसी मार्ग में फंस गई,जिसको बड़ी मशक्कत के बाद राहगीरों की मदद से घंटो बाद निकाला गया।इस बीच रेल पुलिया वाले वैकल्पिक मार्ग में आवागमन अवरुद्ध हो गया।कई लोगों को पुलिया से घूम कर वापस जाना पड़ा,तो कई राहगीरों ने घंटो बाद अपने वाहन उक्त मार्ग से निकाले।उक्त स्तिथि से नगर परिषद सीएमओ एआर सावरे को अवगत कराया गया,जिसके बाद उन्होंने उक्त मार्ग में फिर से मुरूम डलवा कर मार्ग दुरस्त करवाने की बात कही।
অভিযুক্ত রজত তাঁতির বিরুদ্ধে আমৃত্যু কারাবাসের সাজা শোনালেন
Suman Debnath 2019-09-02 13:32:34
ধর্মনগরের চাঞ্চল্যকর বীণা দে ধর্ষণ ও খুনের মামলায় অভিযুক্ত রজত তাঁতির বিরুদ্ধে সাজা ঘোষণা করল উত্তর জেলার বিশেষ আদালত ভারতীয় দন্ডবিধির ৩০২/৩৭৬(১) এবং পক্সো আইনে আমৃত্যু কারাবাসের সাজা শোনালেন উত্তর জেলা বিশেষ আদালতের বিচারক গৌতম সরকার।
গ্যাস সিলিন্ডার থেকে ভয়াবহ অগ্নিকান্ডে পুড়ল বসত ঘর
Suman Debnath 2019-09-02 13:32:31
গ্যাস সিলিন্ডার থেকে ভয়াবহ অগ্নিকান্ডে পুড়ল বসত ঘর। ঘটনা রবিবার সকালে। জানা গেছে রামনগর ৯ নং রোডের শেষ মাথায় বাসিন্দা বেলা ভট্টাচার্যের বারিতে দু মাসে আগে ভারাটিয়া হিসাবে আসে বিষ্ণু প্রিয়া দাস। মুলত ভাড়াটিয়ার ঘর থেকেই আগুনের সূত্রপাত। ভারাটিয়া বিষ্ণু প্রিয়া দাস জানান এদিন সকালে চা করবেন বলে ঘরের নতুন সিলিন্ডার খোলেন। সেই সিলিন্ডার লাগিয়ে আগুন জ্বালাতে গিয়েই ঘটে বিপত্তি। মুহূর্তের মধ্যে আগুন গোটা ঘর গ্রাস করে ফেলে। ঘড়ে থাকা তার সন্তান ও স্বামীকে নিয়ে কোন ক্রমে বেরিয়ে আসেন। অন্যদিকে বারির মালিকের ছেলে এই দৃশ্য দেখে তার পরিবার এবং মাকে নিয়ে নিরাপদ স্থানে আস্রয় নেয়। আগুন নেভানোর কাছে হাত লাগায় স্থানীয় বাসিন্দারা। খবর পেয়ে ছুটে আসে দমকলের কর্মীরা। দমকল কর্মীদের বক্তব্য এই রাস্তা দিয়ে প্রবেশ করতে বেশ বেগ পেতে হয়। বেশ খানিকটা সময় লাগে আগুন নেভানোর জন্য। রাস্তার পাশে যত্রতত্র নির্মাণ সামগ্রী এবং রাস্তা শুরু হওয়ায় সমস্যা প্রকট হয়। এভাবে চললে আগামী দিনে এই এলাকায় ভয়াবহ আগুন লাগলে নেভাতে জটিলতা দেখা দেবে বলে জানান দমকল কর্মী। দমকলের তিনটি ইঞ্জিনের চেষ্টায় আগুন নিয়ন্ত্রনে আসে। দুটি ঘর ভস্মীভূত হয়ে যায়। ভাড়াটিয়ার সমস্ত সামগ্রী পুরে গেছে। তবে এলাকার এই অবস্থা যে আগামী দিনের জন্য কড়া সতর্ক বার্তা দিল তা দমকল কর্মীর বক্তব্যে স্পষ্ট। অবৈজ্ঞানিক ভাবে নির্মাণ এবং রাস্তা দখল করার খেসারত আগামী দিনে দিতে হতে পারে নিগমবাসীকে।
ग्राम प्रधान ने युवक को जूतों की माला पहना कर गांव में घुमाया
Pranjal Gupta 2019-08-31 15:18:08
पीलीभीत, 31 अगस्त 2019, (आरएनआई)। यूपी के पीलीभीत जिले में प्रधानी के नशे में चूर ग्राम प्रधान ने एक युवक को जूतों की माला पहनाकर पूरे गांव भर में घुमाया, इतना ही नहीं ग्राम प्रधान ने सरेआम युवक को लाठी-डंडों से बुरी तरह पीटा।
ନୟନଜୋରୀରୁ ଅଚିହ୍ନା ଯୁବତୀଙ୍କ ଶବ ଉଦ୍ଧାର
Laxmikanta Nath 2019-08-30 20:15:25
ଭଦ୍ରକ,୩୦/୦୮: ଭଦ୍ରକ ଜିଲ୍ଲା ନାଇକାଣିଡିହି ଥାନା ଅଧିନସ୍ଥ ବାଲିମେଦ ପଂଚାୟତର ପାଇକସାହୀ ନିକଟସ୍ଥ ନୟନଜୋରୀରୁ ଅଚିହ୍ନା ଯୁବତୀର ଶବ ଉଦ୍ଧାର କରିଛି ପୋଲିସ । ଖବରପାଇ ସାଇଂଟିଫିକ ଟିମ ସହ ସଳବଳେ ପୋଲିସ ଘଟଣାସ୍ଥଳରେ ପହଂଚି ଶବକୁ ଉ୍ଧାର କରି ଚିହ୍ନଟ ପକ୍ରୟାପାଇଁ ବେଶ କିଛି ସମୟ ରଖିଥିଲା । ମାତ୍ର ଶବ ଚିହ୍ନଟ ହୋଇନପାରିବାରୁ ବ୍ୟବଛେଦ ପାଇଁ ଭଦ୍ରକ ପଠାଇଥିବା ସହ ତଦନ୍ତ ଜୋରଦାର ଚଳାଇଛି ପୋଲିସ । ଏଠାରେ ସୂଚନାଦିଆଯାଇପାରେ ପଦ୍ମପୁର- ବାଲିମେଦ ରାସ୍ତା ପାଲଟିଛି ଅପରାୀଙ୍କ ଚରାଭୁଇଁ । ଚୋରା କୋଇଲା କାରବାର ,ଚୋରାରେ ଆସୁଥିବା ମୂଲ୍ୟବାନ କାଠ ଅଥବା ଚୋରାରେ ମିଳୁଥିବା ବିଶାକ୍ତ ନିଶାକାରବାରର ମୁଖ୍ୟ ଯାତାୟାତସ୍ଥଳ ପାଲଟିଛି ଏହି ରାସ୍ତା । ପୋଲିସ ନିକଟରେ ରାତ୍ରୀକାଳୀନ ପେଟ୍ରୋଲିଂ ପାଇଁ ସେମିତି ଆବଶ୍ୟକୀୟ ଉପକରଣ ନଥିବା ପ୍ରକାଶ କରିଛନ୍ତି ନାଇକାଣିଡିହୀ ଥାନାଧିକାରୀ ରତିକାନ୍ତ ଗିରି । ଜଣେ ସଚ୍ଚୋଟ ଥାନାଧିକାରୀ ଭାବରେ ଜଣାଶୁଣା ଶ୍ରୀଯୁକ୍ତ ଗିରି ନାଇକାଣିଡିହି ଥାନାର ଦାଇତ୍ୱ ତୁଲାଇ ଆସୁଥିବା ବେଳେ ଏହି ଅଂଚଳରେ ଅପରାଧିକ ମାମଲା ବହୁ ପରିମାଣରେ ଥମିଥିବା ଜାଣିବାକୁ ମିଳିଛି । ତେବେ ଆଜିର ଏହି ଘଟଣାକୁ ପୋଲିସ ଗମ୍ଭୀରତାର ସହ ନେଇ ତଦନ୍ତ ପକ୍ରୀୟା ଜାରି ରଖିଛି ବୋଲି ଥାନାଧିକାରୀ ଶ୍ରୀ ଗିରି ଗଣମାଧ୍ୟମକୁ ସୂଚନା ଦେଇଛନ୍ତି ।
ମାଡ଼ ମାରି ନିଲମ୍ବିତ ହେଲେ ପୁଲିସ କର୍ମଚାରୀ
Laxmikanta Nath 2019-08-29 15:30:04
ଭୂବନେଶ୍ୱର : ମହଙ୍ଗା ପଡିଲା ଥାର୍ଡ ଡିଗ୍ରୀ । ମାଡ଼ ମାରି ନିଲମ୍ବିତ ହେଲେ ପୁଲିସ କର୍ମଚାରୀ । ବୌଦ୍ଧରେ ସଂପୃକ୍ତ କନେଷ୍ଟବଳ ରଂଜନ ମହାପାତ୍ରଙ୍କୁ ସସପେଣ୍ଡ କରାଯାଇଛି । ଜିଲ୍ଳା ଏସପି ରଘୁନାଥ ରାଓ ତାଙ୍କୁ ନିଲମ୍ବିତ କରିଛନ୍ତି । କନେଷ୍ଟବଳ ରଂଜନ ମହାପାତ୍ର ଜଣେ ଯୁବକଙ୍କୁ ଅସଭ୍ୟ ଭାଷାରେ ଗାଳିଗୁଲଜ କରିବା ସହିତ ନିସ୍ତୁକ ମାଡମାରିଥିଲେ । ଏହି ଭିଡିଓ ସୋସିଆଲ ମିଡିଆରେ ଭାଇରାଲ ହୋଇଥିଲା । ଫେସବୁକରୁ ଆରମ୍ଭ କରି ହ୍ୱାଟସପରୁ ହ୍ୱାଟସପକୁ ଘୁରିବୁଲୁଛି ଏହି ଭିଡିଓ । ଦେଖନ୍ତୁ ଏହି ଦୃଶ୍ୟକୁ ହାତରେ ଏକ ମୋଟା ପ୍ଲାଷ୍ଟିକ ପାଇପ ଧରି କିଭଳି ମାଡମାରିଚାଲିଛନ୍ତି ସାଦା ପୋଷାକ ପିନ୍ଧି ଥିବା ଏହି ପୋଲିସ କର୍ମଚାରୀ ଜଣକ । ରଞ୍ଜନ ମହାପାତ୍ର ରିଜର୍ଭ ପୋଲିସ କାର୍ଯ୍ୟାଳୟରେ କନେଷ୍ଟବଳ ଭାବେ କାର୍ଯ୍ୟ କରନ୍ତି । ସର୍ବସମ୍ମୁଖରେ ଦେଖାଉିଛନ୍ତି ଦବଙ୍ଗ ଗିରି । ଆଉ ଏସବୁ ଦେଖୂଛନ୍ତି ପାଖରେ ଥିବା ଦୁଇଜଣ ପୋଲିସ କର୍ମଚାରୀ । ଆଉ ପାଖରେ ବି ରହିଛି ପିସିଆର ଭ୍ୟାନ । ତେବେ ଆଇନ ନିଜ ହାତକୁ ନେବାକୁ ତାଙ୍କୁ ଅଧିକାର ଦେଲା କିଏ ବୋଲି ପ୍ରଶ୍ନ ଉଠିଛି ।
मथुरा योगीराज भगवान श्री कृष्ण की जन्म दिवस की व मुख्यमंत्री के आगमन की तैयारी को लेकर पुलिस प्रशासन ने कसी कमर
Mohan Prasad 2019-08-23 15:37:16
मथुरा, 23 अगस्त 2019, (आरएनआई)। मथुरा जन्मष्टमी को मनाने को लेकर पुलिस प्रशासन ने पूरी तरह कमर कस ली है.पुलिस के अधिकारियो ने अपने अधीनस्थों के साथ रमणरेती मार्ग स्थित फोगला आश्रम में बैठक कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए.
प्रधानमंत्री आवास योजना के नाम पर रिश्वत की मांग
Pranjal Gupta 2019-08-20 15:41:42
पीलीभीत, 20 अगस्त 2019, (आरएनआई)। यूपी के पीलीभीत जिले में प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिलाने को लेकर रिश्वत की मांग का ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस ऑडियो को सुन कर इस बात का अंदाजा आप सभी को लग ही जायेगा कि एक प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थी से किस तरह फ़ोन पर पैसो की मांग की जा रही है।
अमेठी जिलाधिकारी प्रशांत शर्मा के निर्देश पर जामों में उप जिलाधिकारी अमित कुमार के अगवाई में चलाया जा रहा अतिक्रमण विरोधी अभियान
Ashok Kumar Pandey 2019-08-20 15:35:36
अमेठी, 20 अगस्त 2019, (आरएनआई)। जनपद अमेठी के विकासखंड मुख्यालय जामों पर आज दूसरे दिन अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाया गया उप जिलाधिकारी अमित कुमार की अगुवाई में चला कई रोड पर अतिक्रमण विरोधी अभियान जिसमें जिन लोगों ने सामने टीने लगा रखे हैं या अवैध रूप से जीने सीढी लगा रखे हैं या सड़क पर अतिक्रमण किया हुआ है उसको जेसीबी मशीन से ढहाया गया इसके लिए प्रशासन ने दो-तीन दिनों से लगातार माइक से प्रचार-प्रसार का अभियान चला रखा था लेकिन लोगों ने नहीं हटाया तब प्रशासन ने इस तरह से तोड़फोड़ का अभियान चलाया जिस में जिन लोगों ने टीन लगा रखा था उनको जेसीबी मशीन से तोड़ दिया गया वहां से हटा दिया गया जिन लोगों ने सीढ़ी लगा रखी थी उसे भी हटा दिया गया इस तरह से अतिक्रमण विरोधी अभियान से बहुत कुछ सफाई हुई है जैसे लोगों को आने जाने में सुगमता तो होगी ही लेकिन धीरे से ही सही लोग फिर कब्जा करने के लिए प्रयास मन में बनाए हुए हैं कि हम कल फिर से थोड़ा बहुत टीना लगा लेंगे अतिक्रमण जामों में इस तरह हावी था कि लोग सड़क पर अपनी दुकान लगा लेते थे कई दर्जन घंटियां सड़क के किनारे रखी हुई थी जिससे आने जाने वाले लोगों को बड़ी दिक्कत है हुआ करती थी लोग सड़क पर ही मोटरसाइकिल खड़ी करके उनके यहां से सामान खरीदा करते थे लेकिन कुछ लोग गुमटियां फिर से रख रहे हैं लोगों को आने जाने में बड़ी दिक्कत ही हुआ करती थी जिसकी शिकार आम जनता आने-जाने वाले लोग हुआ करते थे जिसके कारण ही यह अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाया गया जिसके शिकार वह दुकानदार भी हुए है जिन्होंने अपनी दुकानें कभी सड़क पर नहीं लगाई अभियान का कुछ लोगों ने सराहना की है कुछ लोगों ने विरोध भी किया है जामों में कई लाखों रुपए के टीना लोगों के तोड़ दिए गए दर्जनभर से अधिक जीने भी लोगों के तोड़ दिए गए इस अतिक्रमण विरोधी अभियान में जामो थानाध्यक्ष रवींद्र कुमार सिंह अपने दल बल के साथ डटे रहे खंड विकास अधिकारी जामों सहायक विकास अधिकारी पंचायत राकेश कुमार द्विवेदी जामों भी जुटे रहे इसके लिए तमाम सफाई कर्मियों को भी लगाया गया था जामों से वारिस गंज रोड पर भी अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाया गया जामों से भादर रोड पर भी अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाया गया जामों से नहर रोड पर भी अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाया गया जामों से नहर रोड पर तमाम काबाडियों ने सड़क पर अतिक्रमण कर रखा था आने जाने वालों को बड़ी दिक्कत हो रही थी
ARA COURT CONVICTS 8 OF 11 IN THE ARA CIVIL COURT BOMB BLAST CASE, ACQUITS THREE INCLUIDNG FORMER MLA, SUNIL PANDEY
RAJIV NAYAN AGRAWAL 2019-08-17 19:43:46
Ara, 17 August 2019, (RNI): Additional District and Session Judge (ADJ) III, Ara Civil Court, Tribhuwan Yadav convicted eight out of eleven persons on Saturday in connection with (im)famous Ara Civil Court bomb blast case and fixed August 20, 2019 to announce quantum of punishment. The court acquitted three persons including the former MLA Nagendra Kumar Pandey alias Sunil Pandey for want of enough evidence against them.
अमेठी: आखिर क्या है आयुष्मान भारत योजना और इससे अब तक किसे मिला लाभ, जानिए डा अनूप तिवारी से
Ashok Kumar Pandey 2019-08-16 15:24:42
अमेठी, 16 अगस्त 2019, (आरएनआई)। जनपद अमेठी आयुष्मान भारत योजना जिला चिकित्सालय अमेठी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अमेठी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जगदीशपुर इसके साथ ही 2 प्राइवेट अस्पताल संजय गांधी अस्पताल एवं सूर्या अस्पताल में आसमान भारत योजना के अंतर्गत लोगों का इलाज किया जाता है अब तक जनपद में451 लोगों का इलाज हुआ है जनपद अमेठी में आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत 32000 हजार लोगों के गोल्डन कार्ड बनाए गए जो छूट गए थे मुख्यमंत्री आरोग्य योजना अंतर्गत 2302 लोगों के नाम बढ़ाए गए ₹500000 तक का इलाज इस योजना के अंतर्गत एक परिवार का हो सकेगा जनपद अमेठी में 93319 लोगों को प्रधानमंत्री के पत्र बांटे जा चुके हैं विस्तृत जानकारी आइए लेते हैं जनपद अमेठी के डॉ अनूप तिवारी से दो जनपद अमेठी में इस विभाग के द्वारा लोगों को लाभान्वित कराने का कार्य कर रहे हैं
यूपी के अमेठी के 'मनरेगा लेखाकार' का रिश्वत वाला खेल
Ashok Kumar Pandey 2019-08-14 14:39:39
अमेठी, 14 अगस्त 2019, (आरएनआई)। अमेठी सूबे में योगी सरकार जिस दिन से आई है लगातार स्वच्छ प्रशासन और नागरिकों को अच्छी सुविधा मुहैया कराने के साथ पारदर्शी सरकार होने का दावा कर रही है, लेकिन अमेठी में तो यह दावे लगातार फेल होते दिखाई पड़ रहे हैं कारण साफ़ है नौकर शाह किसी भी कीमत पर अपनी छवि बदलने को तैयार नहीं दिखाई पड़ रहे हैं जैसा अब साफ़ तौर कहा जाने लगा है कि घूसखोरी तो नौकरशाही की रगों में दौड़ रही है और इससे निजात पाना संभव नहीं बल्कि नामुमकिन है आज हम आपको ऐसा कुछ बताने जा रहे है जिसे सुन कर आपके होश जरूर उड़ जायेंगे यहाँ यह नहीं कहा जा सकता कि सरकारी आफिसों में काम कराने को लेकर सभी घूस लेते हैं आज भी बहुत से अधिकारी और कर्मचारी ऐसे हैं, जो बिना किसी अवैध वसूली के लोगों का काम करते हैं हालांकि ऐसे लोगों की संख्या शायद कम ही है उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ द्वारा मुख्यमंत्री पद ग्रहण करने के बाद से ही राज्य में भ्रष्टाचार ख़त्म करने की बाते की जा रही है सामने योगी सरकार की अच्छी छवि बनाने की कोशिश कर रही है।
2108 में हुआ तहसील गौरीगंज में आदेश जो अभी आया ही नहीं, जामो के जिस माताफेर की जमीन उसे मृतक दिखाकर गैर बिरादरी के लोगों का नाम वरासत कर दी गई थी उस मामले में हुआ 2108 में एक नया आदेश, वाह रे तहसील प्रशासन गौरीगंज
Ashok Kumar Pandey 2019-08-14 08:25:17
अमेठी, 14 अगस्त 2019, (आरएनआई)। जनपद अमेठी के तहसील प्रशासन गौरीगंज ने किया 2108 में एक नया आदेश लगभग डेढ़ 200 साल बाद का आदेश गौरीगंज तहसील में होने लगा है जबकि वह सन अभी आया ही नहीं सो डेढ़ सौ साल बाद आएगा जनपद अमेठी के विकास खंड जामो के जामो ग्राम निवासी माताफेर नाई जिनको लेखपाल राधिका प्रसाद मिश्र ने मृतक दिखा करके उनकी जमीन गैर बिरादरी के लोगों के नाम वरासत करा दिया था इस संवाददाता ने इस खबर को प्रमुखता से कई बार छापा चलाया आज इस संवाददाता से फिर मुलाकात की उन्होंने रोते हुए बताया भैया मेरे मामले में तहसील प्रशासन 2108 में आदेश कर रहा है जबकि इस दुनिया में नहीं रहूंगा मेरे बेटे भी इस दुनिया में नहीं रहेंगे इसका मैं क्या करूं मुझे दौड़ा रहे हैं तहसील प्रशासन गौरीगंज उन्होंने शासन-प्रशासन से जो फिर गलती की है उसे दुरुस्त कराने की मांग की है तहसील प्रशासन गौरीगंज माताफेर को फिर से जीवित करते हुए अपनी पुराने आदेश को निरस्त कर दिया लेकिन यह आदेश 2108 में कर दिया जो अभी 150या 200 साल बाद आएगा इस आदेश को जो भी पड़ रहा है एक बार तो हैरत में पड़ जाता है क्योंकि वह अभी आया ही नहीं इसी तरह की गलतियों से लोगों को कभी नाम को ठीक कराने के लिए तो कभी वल्दियत को ठीक कराने के लिए तहसील प्रशासन का चक्कर लगाना पड़ता है और जब काफी समय बीत जाता है लोग जान नहीं पाते उसके लिए मुकदमा कराना पड़ता है उसके लिए जाना पड़ता है अपने आप ठीक नहीं करता लोगों के लगभग 4 ₹5000 तारीख पेशी मुकदमा खर्च होते हैं इसलिए अधिकारी ऐसी गलती करें उसे ठीक करने की जिम्मेदारी उन्हीं की होनी चाहिए क्योंकि सरकारी कागजों में आम किसान अपने आप कोई एंट्री नहीं करता फिलहाल यह 2108 का आदेश चर्चा का विषय बना हुआ है
मृत जानवर ना उठाने के कारण किसान के दो और जानवरों की हुई मौत
Ashok Kumar Pandey 2019-08-14 08:25:08
अमेठी, 14 अगस्त 2019, (आरएनआई)। जनपद अमेठी थाना क्षेत्र जामो में सुदामा प्रसाद मिश्रा सुत राम फेर ग्राम रानीपुर थाना जामो जनपद अमेठी की भैंस बीमार थी जिसकी मृत्यु हो गई थी उसकी लाश को उठाने के लिए उन्होंने संबंधित ठेकेदार को जानकारी दिया ठेकेदार ने लगभग 3 दिन तक लाश को नहीं उठाया अंत में उन्होंने जेसीबी मशीन से गड्ढे खुदवा करके उसका दफन कराया ठेकेदार की जिम्मेदारी बनती थी सूचना पर लाश को उठा कर के वहां से हटाऐ इसमें शासन प्रशासन का नियम है जानवर ना उठाने के कारण पीड़ित किसान के दो और जानवरों में इंफेक्शन फैल गया जिनकी कीमत लगभग ₹70000 थी जिसमें एक भैंस और एक पड़वा था भैंस दूध भी दे रही थी किसान के घर में इनकम का यही एक साधन था मृत्यु हो जाने के बाद में इसकी लास भी उठाने वाला कोई नहीं आया अब समझ में नहीं आता कि विकासखंड जामो का जानवरों की लाश को उठाने का जो शासन प्रशासन में नियम है उसका पालन हो रहा है या नहीं या सभी उच्च अधिकारी कान में तेल डाल कर के बैठे हुए हैं फिलहाल मामले में बेचारे किसान के दो जानवरों की मौत हो गई मामले की शिकायत सुदामा प्रसाद मिश्रा ने जिलाधिकारी प्रशांत शर्मा की थी मामले की शिकायत के बाद में पशु चिकित्साअधिकारी जामो एसके दुवेदी चिकित्सा अधिकारी को जांच मिली हुई है फिलहाल डॉ एसके द्विवेदी ने तत्परता के साथ में सुदामा प्रसाद मिश्र के जो अन्य पांच जानवर हैं उन सभी को टीके लगाए अन्यथा उन जानवरों की भी मृत्यु हो जाती जो बचे हुए हैं

Top Stories

Home | Privacy Policy | Terms & Condition | Why RNI?
Positive SSL